जाने कैसे खूब कमाई करा रहा काले मांस वाला कड़कनाथ

काले रंग की इस कड़कनाथ मुर्गी का एक अंडा 70 रुपये तक में बि‍कता है। मुर्गी और मुर्गे की कीमत भी बॉयलर के मुकाबले करीब दोगुनी है। यह मुर्गा दरअसल अपने स्वाद और सेहतमंद गुणों के लि‍ए मशहूर है। कड़कनाथ भारत का एकमात्र काले मांस वाला चिकन है।

शोध के अनुसार, इसके मीट में सफेद चिकन के मुकाबले कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है और अमीनो एसिड का स्तर ज्यादा होता है। मूलरूप से कड़कनाथ मध्य प्रदेश के झबुआ जिले का मुर्गा है मगर अब पूरे देश में यह मि‍ल जाता है।

महाराष्‍ट्र, आंध्रपेदश, तमि‍लनाडु सहि‍त कई राज्‍यों में लोगों इससे अच्‍छा कमा रहे हैं। कुछ जरूरी बातों का ध्‍यान रख इसे कहीं भी पाला जा सकता है। कड़कनाथ मुर्गे की मांग पूरे देश में होने लगी है। डि‍पार्टमेंट ऑफ एनि‍मल हस्‍बेंड्री, महाराष्‍ट्र के मुताबि‍क, इसका रखरखाव और मुर्गों के मुकाबले आसान होता है।

इसका मीट और अंडा बॉयलर तो दूर की बात देसी मुर्ग से भी कहीं ज्‍यादा महंगा बि‍कता है। फुटकर बाजार में इसके मीट का रेट 400 से लेकर 650 रुपये होता है।अगर आप ऑनलाइन इसका अंडा खोजेंगे तो 70 रुपये तक दाम रखा गया है। हालांकि‍ ग्रामीण इलाकों में इतना दाम नहीं मि‍लता। इसके एक दि‍न के चूजे की कीमत 100 रुपये के आसपास होती है।

साउथ एशि‍या प्रो पुअर लाइव स्‍टॉक पॉलि‍सी प्रोग्राम के तहत की गई एक स्‍टडी के मुताबि‍क, जहां 6 महीने का देसी मुर्गा 80 से 90 रुपये में बि‍कता है वहीं कड़कनाथ की कीमत 200 से 250 रुपये होती है। वहीं 12 महीने के देसी मुर्गे की कीमत 150 से 200 रुपये होती है वहीं कड़कनाथ की कीमत 350 से 400 रुपये होती है। यह इनके थोक दाम हैं।

कैसे करें इसका पालन

  • अगर आप 100 चि‍कन रख रहे हैं तो आपको 150 वर्ग फीट जगह की जरूरत होगी। हजार चि‍कन रख रहे हैं तो करीब 1500 वर्ग फीट जगह की जरूरत होगी।
  • चूजों और मुर्गि‍यों को अंधेरे में या रात में खाना नहीं देना चाहि‍ए। मुर्गी के शेड में प्रतिदिन तकरीबन घंटे प्रकाश की आवश्यकता होती है।
  • फार्म बनाते गांव या शहर से बाहर मेन रोड से दूर हो, पानी व बिजली की पर्याप्त व्यवस्था हो। फार्म हमेशा ऊंचाई वाले स्थान पर बनाएं ताकि आस-पास जल जमाव न हो।
  • दो पोल्ट्री फार्म एक-दूसरे के करीब न हों। मध्य में ऊंचाई 12 फीट व साइड में 8 फीट हो।
    चौड़ाई अधिकतम 25 फीट हो तथा शेड का अंतर कम से कम 20 फीट होना चाहिए। फर्श पक्का होना चाहिए।
  • एक शेड में हमेशा एक ही ब्रीड के चूजे रखने चाहिए। पानी पीने के बर्तन दो से तीन दि‍न में जरूर साफ करें।
  • फार्म में ताजी हवा आती रहने से बीमारि‍यां नहीं लगतीं।

कहां से पा सकते हैं

इसके लि‍ए आप इंडि‍या मार्ट पर मौजूद सैलर्स से कॉन्‍टेक्‍ट कर उनसे मोलभाव कर सकते हैं। इसके अलावा इंटरनेट पर खोजेंगे तो कई ऐसे पोल्‍ट्री फार्म मि‍ल जाएंगे जो फार्म खोलने के लि‍ए चूजे और अंडे बेचते हैं।

अगर आप इस मुर्गी का बड़े पैमाने पर पालन करने जा रहे हैं तो बेहतर होगा कि‍सी पोल्‍ट्री फार्म में जाकर चीजों को समझें या फि‍र अपने इलाके के मुर्गी पालन केंद्र में जाकर इसकी ट्रेनिंग लें।

25 क्विंटल उत्पादन देने वाली गेहूं की इस फसल से किसानो को हो रहा है मुनाफा

आज के समय में गेहूं की नई-नई प्रजातियां विकसित हो जाने से इसकी खेती में काफी सुधार हुआ है। ऐसे में मध्यप्रदेश के किसानों के लिए 25 क्विंटल तक की उपज देने वाले गेहूं की नई किस्म कुदरत गजानंद किसानों के लिए वरदान साबित हो सकती है।

इसका फायदा ये होगा इससे मात्र 110 दिनों के भीतर ही पूरी गेहूं की फसल पककर तैयार हो जाएगी।  ऐसे में किसान इस फसल की किस्म को लगाकर काफी अच्छा मुनाफा कमा सकते है।

गजानंद किस्म को 10 साल के एक गहरे अनुसंधान के बाद जिले के ग्राम टंडिया निवासी किसान प्रकाशसिंह रघुवंशी ने विकसित की है। बोना पौधा आठ इंच लंबी बाल तथा इसके प्रत्येक बाल में 70 शरबती चमकीले दानें किसानों की उन्नति का प्रमाण है। यह किस्म सिंचित और असिंचित क्षेत्र के मौसम में पूरी तरह से सुरक्षित रहेगी।

अभी इस किस्म के पौधे काफी ज्यादा छोटे और बौने है तो इस फसल के पौधे हवा में पूर तरह से सुरक्षित रहेंगे। इससे किसानों की फसलों को एक फायदा यह है कि इसके सहारे विभिन्न रोगों से लड़ने की क्षमता में आसानी से मदद मिलेगी।

ये है गेहूं के रोग :

गेहूं में मुख्य रूप से पीला रतुआ, गेरूआ रोग, और काला कंडुआ रोग होता है। यह रोग मुख्य रूप से फफूंद के रूप में फैलता है, इसके अलावा जैसे-जैसे तापमान बढ़ता जाता है गेहूं को पीला रतुआ रोग भी लग जाता है। यह रोग खासकर पहाड़ी क्षेत्रों में फैलता है।

बीज के बारे में जानकारी

  • किस्म : गजानंद
  • अवधि : 110 दिन
  • बाली : 7 इंच लंबी
  • दाने : 70 (संख्या)
  • गुणवत्ता : गोलाकार, शरबती, चमकीला
  • विशेषताः स्वादिष्ट, रोटी मुलायम, सभी प्रकार के वायरस से लड़ने की क्षमता वाला.

भुरभुरी मिट्टी जरूरी :

अच्छे खरीफ की फसल काटने के बाद खेत की पहली जुताई मिटटी पलटने वाले हल के जरिए करें। इससे खरीफ फसल के अवशेष और खरपतवार मिट्टी में दबकर सड़ जाए। इसके बाद कम से कम 2-3 बार से देशी हल से कल्टीवेट करें।

उन्नत किस्मों के फायदे :

गेहूं की उन्नत किस्मों के सबसे फायदे यह है कि सिंचाई की कम ही जरूरत पड़ेगी। इसके अलावा गेहूं की अन्य किस्म 3173 गर्मी के प्रति सहनशील, गेरूआ रोग के प्रति प्रतिरोधी, मोटी दानों वाली है जो कि चपाती बनाने के लिए उत्तम है।

भारत से सड़क के रस्ते जा सकेगे थाईलैंड, म्यांमार से होकर जाती है सड़क, जाने क्या है पूरा रूट

जल्द ही आप अपनी कार में बैठकर थाईलैंड तक जा सकेंगे। भारत सरकार म्यांमार की सरकार के साथ इस मुद्दे पर चर्चा कर रही है, जिससे आप सड़क मार्ग से आसानी से थाईलैंड तक सफर कर सकें।

भारत-म्यांमार-थाईलैंड त्रिभुज राजमार्ग अगले वर्ष दिसंबर 2019 तक बनकर तैयार हो जाने की उम्मीद है, जिसके बाद सड़क के रास्ते भारत से सीधे थाईलैंड जाया जा सकेगा।

सीमा आवागमन समझौता

भारत और म्यांमार के बीच इस वर्ष की शुरुआत में आवागमन संबंधी समझौते को लागू किया गया था। इसके तहत दोनों देशों के वैधानिक पासपोर्ट ओर वीजा प्राप्त नागरिक बिना विशेष अनुमति लिए सीमा के आर-पार जा सकते हैं।

ऐसे जा सकते हैं दिल्ली से थाईलैंड के रोड ट्रिप पर

दिल्ली-इंफाल-मोरेह-काले-बागान-इनले लेक-यैंगॉन-मैसोट-टक-बैंकॉक

यह रूट 4500 किमी लंबा है और इसमें दो अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पार किए जाते हैं। एक बार बैंकॉक पहुंचने पर आपके पास दो विकल्प होंगे। आप इसी रूट से वापस आ सकते हैं या अपनी कार किसी जहाज में रखकर किसी भी भारतीय बंदरगाह तक आ सकते हैं।

मात्र 399 रुपए में कीजिए हवाई यात्रा, ये कंपनी दे रही सबसे सस्ता ऑफर

यदि आप हवाई सफर करने की योजना बना रहे हैं लेकिन महंगे किराए के कारण झिझक रहे हैं तो आपके लिए एक शानदार ऑफर आया है। किफायती एयरलाइन के रूप में मशहूर एयर एशिया इंडिया लोगों के हवाई सफर के सपने को साकार करने के लिए एक खास ऑफर लेकर आई है।

इस ऑफर के तहत आप मात्र 399 रुपए में हवाई सफर कर सकते हैं। हालांकि, टिकट बुक करने के बाद आपको यात्रा के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा।

इस तारीख तक मिलेंगी सस्ती टिकट

इस ऑफर के तहत 18 नवंबर तक टिकटों की बुकिंग कराई जा सकती है। कंपनी के अनुसार, इस ऑफर के तहत टिकट खरीदने वाले लोग 6 मई 2019 से लेकर 4 फरवरी 2020 तक कभी भी यात्रा कर सकते हैं।

कंपनी के अनुसार, इन टिकटों को कंपनी के टिकट काउंटर या कंपनी की वेबसाइट से बुक किया जा सकता है। कंपनी के अनुसार, घरेलू रूट के लिए 399 और अंतरराष्ट्रीय रूट के लिए 1999 रुपए में टिकट बुक की जा सकती है।

इन जगहों की कर सकते हैं यात्रा

कंपनी के अनुसार, इस ऑफर का फायदा लेने वाले लोग घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर करीब 120 जगहों के लिए उड़ान भर सकते हैं। घरेलू रूट पर यात्री बगडोगरा, बेंगलुरू, भुवनेश्वर, गोवा, गुवाहटी, इंफाल, इंदौर, जयपुर, कोलकाता, नई दिल्ली, रांची और श्रीनगर आदि जगहों की यात्रा कर सकते हैं। वहीं अंतरराष्ट्रीय रूटों पर ऑकलैंड, बाली, बैंकॉक, मेलबर्न, सिंगापुर और सिडनी आदि की यात्रा की जा सकती है।

इन शर्तों का करना होगा पालन

कंपनी के अनुसार, इस ऑफर का फायदा उठाने के लिए यात्रियों को टिकटों की एडवांस बुकिंग करानी होगी। साथ ही केवन “बिग मेंबर” इस ऑफर का फायदा उठा सकते हैं। कंपनी के मुताबिक, यह ऑफर एयरएशिया इंडिया, एयरएशिया बरहाद, थाई एयरएशिया, एयरएशिया एक्स की फ्लाइट्स पर भी लागू है।

महिंद्रा ने लॉन्च की नई Scorpio ,जानें फीचर और कीमत

महिंद्रा Scorpio के एक नए वेरिएंट को भारतीय बाजार में पेश किया गया है. इस नए S9 वेरिएंट को टॉप स्पेसिफिकेशन वाले S11 ट्रिम के नीचे रखा गया है. इस नए वेरिएंट में कुछ नए फीचर्स और इक्विपमेंट दिए गए हैं.

महिंद्रा Scorpio S9 वेरिएंट की कीमत 13.99 लाख रुपये (एक्स-शोरूम, दिल्ली) रखी गई है. तत्काल प्रभाव से इस नए वेरिएंट को देशभर के सारे डीलरशिप पर कराया जाएगा.

नए S9 वेरिएंट में कई नए फीचर्स मौजूद हैं. इसमें स्टैटिक-बेंडिंग प्रोजेक्टर हेडलैम्प, फ्रंट फॉग लैम्प, LED गाइड लाइट्स, हाइड्रॉलिक-असिस्टेड बोनट, इंटीग्रेटेड टर्न इंडिकेटर्स के साथ इंटेलिपार्क और ORVMs दिए गए हैं.

इंटीरियर की बात करें तो महिंद्रा स्कॉर्पियो में नया 5.9-इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, 10 भाषाओं में GPS नेविगेशन, वॉयस-असिस्ट सिस्टम, ऑटोमैटिक टेम्परेचर कंट्रोल और स्टीयरिंग व्हील माउंटेड ऑडियो और क्रूज कंट्रोल जैसे फीचर्स दिए गए हैं.

हालांकि इस नए वेरिएंट में मैकेनिकल तौर पर कोई बदलाव नहीं किया गया है. इसमें बाकी ट्रिम्स की तरह 2.2-लीटर टर्बो-डीजल mHawk इंजन दिया गया है. जो 140bhp का पावर और 320Nm का पिक टॉर्क जेनरेट करता है. इस इंजन के साथ फोर-व्हील-ड्राइव सिस्टम को पावर देने के लिए 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स दिया गया है.

इस SUV में दिए गए सेफ्टी फीचर्स की बात करें तो यहां डुअल-फ्रंट एयरबैग्स, एंटी-थेफ्ट वार्निंग, पैनिक ब्रेक इंडिकेशन और इंजन इम्मोबिलाइजर मौजूद है. साथ ही ये SUV कुशन सस्पेंशन और एंटी-रोल टेक्नोलॉजी के साथ भी आता है.

JIO यूजर्स को नहीं देना होगा 1 भी रुपये, दिसंबर 2019 तक करें Free कॉल व डेटा यूज, जाने क्या है प्लान

Jio ने अपने यूजर्स के लिए कैशबैक ऑफर पेश किया है, जिसके तहत यूजर्स को किसी भी रिचार्ज पर 100 फीसदी का कैशबैक मिलेगा। इस कैशबैक ऑफर का लाभ ग्राहक MyJio ऐप से उठा सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले अपने स्मार्टफोन में MyJio ऐप डाउनलोड करें और उसमें लॉग-इन करें। इसके बाद उसे ओपेन करें और ऑप्शन ‘Recharge’ पर क्लिक करें।

इसके बाद जो भी आपको जियो प्लान चाहिए उसपर क्लिक करें और फिर Buy बटन पर क्लिक करें। हालांकि इस दौरान कैशबैक वाउचर के लिए आपको मैन्युअली अप्लाई करना होगा। इसके लिए Apply Discount Voucher पर क्लिक करें।

अब जो भी आपका वाउचर हो उसे सिलेक्ट करें और ‘Use it’ बटन पर क्लिक करें। इस दौरान पेमेंट करने का भी ऑप्शन दिखाई देगा। यानी जिससे भी आपको पेमेंट ट्रांजेक्शन करना है उसपर क्लिक करके प्रक्रिया पूरी करें।

इस ऑफर का लाभ ग्राहक 18 अक्टूबर से 30 नवंबर 2018 कर उठा सकते हैं। इस दौरान मिलने वाले कूपन यूज 31 दिसंबर 2019 तक कर सकते हैं। जियो का यह कैशबैक 149 से लेकर 198, 299, 349, 398, 399, 448, 449, 498, 509, 799, 999, 1699, 1999, 4999 और 9999 रुपये वाले प्लान पर मिल रहा है।

इसके अलावा कंपनी ने एक साल की वैधता वाला नाया प्लान भी उतारा है ,जिसमें भी 100 फीसदी का कैशबैक है यानी एक साल फ्री में कॉल करने और डेटा इस्तेमाल करने का मौका दिया जा रहा है।

जियो के इस प्लान की कीमत 1699 रुपये है और इसकी वैधता 365 दिनों की है। इसमें ग्राहकों को प्रतिदिन 1.5 जीबी हाई स्पीड डाटा, हर दिन 100 मैसेद और अनलिमिटेड कॉलिंग का लाभ मिलेगा। इतना ही नहीं कंपनी ने इसके साथ ही जियो के सभी प्रीमियम ऐप्स का इस्तेमाल फ्री में करने का ऑप्शन दे रही है। इस प्लान को लेने पर भी कैशबैक मिलेगा, जो कंपनी की तरफ से 500 रुपये के तीन और 200 रुपये के एक कूपन के तौर पर मिलेगा।

हारले डेविसन को टक्कर देगा बुलेट का यह नया मोटरसाइकिल, स्विफ्ट जितना पावरफुल है इंजन

रॉयल एनफील्ड ने अपनी न्यू कॉन्सेप्ट KX बाइक से पर्दा उठा दिया है। इटली के मिलान में शुरू हुए EICMA 2018 मोटरसाइकिल शो में कंपनी ने इसे अनव्हील कर दिया है।

इस बाइक का डिजाइन 1938 रॉयल एनफील्ड से लिया गया है, जो 1140cc V-ट्विन इंजन वाली कंपनी की सबसे बड़ी डिस्प्लेसमेंट बाइक थी।

  •  इस बाइक को भारत और यूके सेंटर्स में डिजाइन किया गया है। कंपनी बीते 6 महीने से इस पर काम कर रही थी।
  •  इसमें ग्रीन और कॉपर पेंट स्कीम फिनिश के साथ इंजन और डुअल एग्जॉस्ट पर ब्लैक और ब्रॉन्ज फिनिश दिया गया है।
  •  बाइक में ब्लैड-स्टाइल गिर्डर फॉर्क डिजाइन दिया गया है। LED हेडलैंप यूनिट के साथ रेट्रो डिजाइन दिया है।
  • इसमें लंबी और लो-स्लंग के साथ रेट्रो-स्टाइल्ड फ्यूल टैंक दिया गया है। साथ ही, डुअल साइलेंसर दिया है।

  •  इसमें सिंगल सीट दी है, जिसकी हाइट 740mm है। बाइक में 19-इंच के बड़े व्हील्स मिलेंगे।
  • इसमें 838cc इंजन V-ट्विन सेटअप के साथ आएगा। यानी मारुति 800 से ज्यादा पावरफुल इंजन होगा।
  • दोनों टायर में डुअल डिस्क ब्रेक के साथ ABS कंट्रोल सिस्टम भी मिलेगा।
  • कंपनी ने अभी इसकी लॉन्चिंग डेट और कीमत के बारे में कोई जानकारी शेयर नहीं की है।

Maruti Alto और WagonR कारें बन जाएगी इलेक्ट्रिक कार, लगानी होगी बस ये छोटी सी किट

आजकल हर कंपनी इलेक्ट्रिक कार बना रही है। इन्हें फ्यूचर कार माना जा रहा है, लेकिन इन कारों की सबसे बड़ी खामी ये है कि ये कारें नार्मल कारों से महंगी होती है। और यही वजह है कि इन्हें आम आदमी की पहुंच से दूर माना जा रहा है।

लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। क्योंकि आज हम आपको ऐसी खबर देने जा रहे हैं जिससे कोई भी साधारण सी Maruti Alto और WagonR जैसी कार भी इलेक्ट्रिक कार बन जाएगी।

दरअसल हैदराबाद के स्टार्टअप E-Trio ने देश की दो सबसे ज्यादा बिकने वाली गाड़ियों Alto और WagonR के लिए इलेक्ट्रिक किट्स पेश की हैं। जिसका मतलब है कि Maruti Alto और WagonR के पेट्रोल इंजन की जगह इलेक्ट्रिक पॉवरट्रेन लगाया जा सकता है जो इन्हें इलेक्ट्रिक कार बनाता है।

कंपनी ने ऐसे रेट्रो फिटेड इलेक्ट्रिक किट्स के लिए Automotive Research Association of India (ARAI) से अनुमति भी हासिल कर ली है. इससे ये किट आम सड़क पर इस्तेमाल किये जा सकते हैं। आगे चलकर, रेट्रो फिटेड इलेक्ट्रिक कार्स आफ्टरमार्केट LPG और CNG किट्स वाली कार्स जैसे ही आम बन सकती हैं।

ऐसे रेट्रो-फिटिंग वाले इलेक्ट्रिक पॉवरट्रेन किट के फायदे कई सारे हैं. ऐसे मालिक जिन्हें इलेक्ट्रिक कार खरीदनी थी, उन्हें एक नयी कार खरीदने की ज़रुरत नहीं होगी। इसके बदले वो अपनी आम पेट्रोल/डीजल/CNG/LPG वाली कार्स को बैटरी चालित कार्स में परिवर्तित कर पायेंगे।

अगर कई सारे कार मालिक अपने आम कार्स में इलेक्ट्रिक रेट्रो फिटिंग लगाने का निश्चय करते हैं तो इससे प्रदूषण भी काफी हद तक कम होगा। अंत में कार का मेंटेनेंस काफी कम हो जाएगा क्योंकि इलेक्ट्रिक पॉवरट्रेन में आम इंजन के मुकाबले काफी कम चलंत पार्ट होते हैं।

E-Trio का दावा है की हर चार्ज पर Maruti Alto इलेक्ट्रिक और WagonR इलेक्ट्रिक 150 किलोमटर तक चलेगी, जो शहर में इस्तेमाल के लिए काफी है। कंपनी ये भी दावा करती है की वो दूसरे इलेक्ट्रिक किट्स के रेट्रो फिटिंग पर काम कर रही है जिससे गाड़ियों को 250 किलोमीटर तक की रंग मिल सकती है।

लेम्बोर्गिनी नहीं यह है मारुती बलेनो, इस तरह किया हुआ है मॉडिफाई

कार मॉडिफाई करने वाली कंपनी 360 Motoring Kollam ने मारुति सुजुकी बलेनो को मॉडिफाई किया है। जिसके बाद इसका लुक लेम्बोर्गिनी की तरह हो गया है। कार में लेम्बोर्गिनी की तरह सिजर डोर लगाए गए हैं। इस कंपनी का शोरूम केरल के कुट्टीवट्टम जिला के करुणगप्पाली में है। इंडियन मार्केट में आल्टो के बाद बलेनो की सबसे ज्यादा डिमांड है।

इन चीजों को किया गया मॉडिफाइड

  • बलेनो के फ्रंट में न्यू ग्रिल और बंपर लगाए गए हैं। बंपर के नीचले हिस्से में LED लैम्प और ब्लैक स्प्लिटर लगाया है।
  • 17-इंच के आफ्टरमार्केट रिम्स लगाए गए हैं। कार का ग्राउंड क्लियरेंस भी कम किया गया है।

  • ऊपरी हिस्से को ग्लॉस रैपिंग लगाई है। जिसमें इसके विंडो रिम्स, रूफ और पिलर्स को कवर किया है।
  • हालांकि, इस कंपनी ने इस बात का जिक्र नहीं किया कि इसे मॉडिफाई करने में कितना खर्च आया है।
  • कार के इंजन और फ्यूल टैंक कैपेसिटी में कोई चेंजेस नहीं किया गया है।

दमदार माइलेज

  • मारुति की इस कार को नेक्सा ने डिजाइन किया है। ये कंपनी मारुति की सभी प्रीमियम कैटेगरी वाली कार डिजाइन करती है।

  • इसे पेट्रोल और डीजल दोनों वेरिएंट में लॉन्च किया गया है। पेट्रोल में 1197cc और डीजल में 1248cc का इंजन दिया है।
  • कंपनी का दावा है कि पेट्रोल इंजन से 21.4kmpl और डीजल इंजन से 27.39kmpl का माइलेज मिलता है।
  • दोनों वेरिएंट में 37 लीटर का फ्यूल टैंक दिया है। वहीं, इसका इंजन 4 सिलेंडर से लैस है।

स्टाइलिश इंटीरियर

  • इस कॉमपैक्ट SUV में फुल लैग स्पेस मिलता है। साथ ही, इंटीरियर को लेदर फिनिशिंग दी गई है।
  • इसमें 7 इंच का इन्फोटेनमेंट सिस्टम दिया है, जो एपल की कार प्ले टेक्नोलॉजी के साथ आता है।
  • कार में एडजेस्टेबल स्टीयरिंग, ऑटो AC, ऑटो ड्राइव मोड, पावर विंडो, सेंट्रल लॉकिंग, न्यू डिजिटल स्पीडोमीटर मिलता है।
  • बलेनो को मैनुअल गियर बॉक्स के साथ AMT मॉडल में भी लॉन्च किया गया है। जो ऑटो गियर शिफ्ट करती है।

जाने अलग अलग मंडियों में किस भाव बिक रहा है बासमती 1121

बासमती 1121 धान में ग्राहकी बढ गई है। इसका असर रेट पर भी हुआ है। दो दिनों में भाव में सुधार हुआ है। 3550 रुपए तक पहुंच गया बासमती 1121 अब एक बार फिर 3650 तक पहुंच गया है। कुछ मंडियों में तो इसका भाव 3700 रुपए तक हो गया है।

हरियाणा में बासमती धान भाव, 

टोहाना में बासमती 1121 3200 से 3590 रुपए तक बिका। 1509 धान का भाव 2800 से 3050 तक और डीपी 1401 का अधिकतम भाव 3250 रुपए रहा। पीबी 1 2950 रुपए बिका।

नरवाना में बासमती 1121  3651 रुपए तक बिका। रतिया में पीबी 1 3085, डीपी 1401 3300, पूसा 1509 धान 3000 रुपए बिका। रानियां में डीपी 1401 3315 रुपए बिका।

गन्‍नौर में बासमती 1121 का भाव 3651 और पूसा 1509 का रेट 3000 रुपए रहा। फतेहाबाद में बासमती 1121 3600, पीबी 1 3050, पूसा 1718 3000 और डीपी 1401 3300 रुपए बिका।

अलेवा में बासमती 1121  का रेट 3190 से 3670 रुपए तक रहा। मतलौडा में बासमती 4141 रुपए बिका। कुरुक्षेत्र में बासमती 1121 3300 से 3725 रुपए तक बिका।  बापौली में बासमती 1121  धान का भाव 3300 से 3641 और पूसा 1509 2450 रुपए बिका।

कलायत में बासमती 1121 3656 रुपए बिका। पाई में 1121 4171 रुपए रहा। उकलाना में बासमती 1121 3191 से 3651, डीपी 1401 3211 और पीबी 1 3051 रुपए बिका। 1509 का रेट 2981 रुपए बिका।

तरावड़ी में बासमती 1121 3300 से 3675 रुपए बिका। पूसा 1509 2800 से 3075 और पीबी 1 3275 रुपए बिका।

शरबती का भाव 2175 और आरएच 10 का रेट 1950 रुपए रहा। कैथल में बासमती 1121 3630 और डीपी 1401 3200 रुपए बिका। रोहतक में 1121 का भाव 3621 रुपए रहा।

नरेला में बासमती धान भाव, 

नरेला में बासमती 1121  3550 से 3661 रुपए तक बिका। पूसा 1718 का रेट 3000 से 3280 रुपए तक रहा तो पूसा 1509 2900 से 3050 रुपए तक बोला गया। नजफगढ में बासमती 1121 3631 और पूसा 1509 3051 रुपए बिका।

उत्‍तर प्रदेश में बासमती धान भाव, 

उत्‍तर प्रदेश की मंडियों में भाव इस तरह से रहे। सहारनपुर में पूसा 1509 धान 2950 रुपए और पीबी 1 3300 रुपए तक बिका।बासमती 1121 का 3500 रुपए रहा।

जहांगीराबाद में पूसा 1509 2500 से 3000 तक, बासमती 1121 2800 से 3500 तक, सुगंध 2200 से 2582 तक और शरबती 1900 से 2151 रुपए तक बिका।

मध्‍यप्रदेश में बासमती धान भाव,

मध्‍यप्रदेश की डबरा मंडी में बासमती 1121  का रेट 2900 से 3150, 1509 का रेट 2500 से 2850 रुपए बिका। उदयपुरा में पूसा का भाव 2750 से 3000 रुपए रहा।

पंजाब में बासमती धान भाव, 

पंजाब के मानसा में बासमती 1121 का भाव 3625 रुपए रहा। फरीदकोट में 1121 का भाव 2900 से 3625 रुपए तक रहा।