घर में इस जगह भूलकर भी न लगाएं घड़ी,वरना उठाना पड़ेगा भारी नुकसान, हाथ से निकल जाएगा पैसा

सभी के घर में घडी जरुर होती लेकिन क्या आपको पता है अगर घडी को सही जगह पर ना लगाया जाये तो आपके घर में दुर्भाग्य बढ़ जाता है आपके कोई भी काम नही बनते, वास्तु दोष घर में होना या चीजों को सही जगह ना रखना इन से भी हमारे जीवन पर बहुत परभाव पड़ता है.आइये आज हम आपको बताते है की घडी को किस दिशा में नही लगाना चाहिए

यूटिलिटी डेस्क

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में रखी हर एक वस्तु का शुभ-अशुभ असर होता है। अगर कोई चीज गलत दिशा में या गलत जगह पर रखी है तो उसका बुरा असर घर के लोगों पर पड़ता है। यहां तक कि घर की दीवार पर लगी घड़ी का भी शुभ-अशुभ असर होता है। यहां जानिए उज्जैन की वास्तु विशेषज्ञ डॉ. विनिता नागर के अनुसार घड़ी से जुड़ी खास बातें…

घर की दक्षिणी दीवार पर घड़ी नहीं लगाना चाहिए

  • घर की दक्षिण दिशा यम की दिशा है। साथ ही, ये दिशा ठहराव की है। इस दिशा में घड़ी लगाने से हमारे कार्यों की गति रुक सकती है। ये घड़ी लाभ के अवसरों को धीमा कर सकती है। ये दिशा घर के मुखिया के लिए होती है।
  • दक्षिण दिशा में लगी घड़ी की वजह से घर के मुखिया के स्वास्थ्य पर बुरा असर हो सकता है। इसलिए दक्षिण दिशा में घडी कभी ना लगये
  • वास्तु के साथ ही फेंगशुई (चीन का वास्तु) में भी दक्षिण दीवार पर लगी घड़ी को शुभ नहीं माना जाता है। इस दिशा में नेगेटिव एनर्जी होती है। अगर इस दिशा में घड़ी लगाते हैं तो बार-बार हमारा ध्यान दक्षिण दिशा की ओर जाएगा। जिससे कि हम बार-बार नेगेटिव एनर्जी प्राप्त करेंगे।

घर के दरवाजे पर न लगाएं घड़ी

वास्तु के अनुसार घर के मुख्य दरवाजे पर घड़ी लगाने से बचना चाहिए। ऐसा करने से तनाव बढ़ सकता है। इसकी वजह से आते-जाते समय आस-पास की ऊर्जा प्रभावित हो सकती है।इसलिए कभी भी घर के मुख्य दरवाजे पर घडी ना लगाये

इस दिशा में लगाएं घड़ी

  • घड़ी कोे घर की पूर्वी, पश्चिमी या उत्तरी दीवार पर लगाना चाहिए। ये दिशाएं पॉजीटिव एनर्जी को बढ़ाती हैं।
  • घर में बंद घड़ी न रखें। साथ ही, ध्यान रखें घड़ी हमेशा सही समय बताएं। अगर घड़ी समय से पीछे चलेंगी तो ये अशुभ माना जाता है।इसलिए घडी आगे हो जाये कोई दिक्कत नही पर कभी भी उसे समय से पीछे ना रखे

दोस्त ने नहीं पिलाई बियर तो लड़की ने कर दिया मर्डर, इस जगह की है खबर

क्या सिर्फ बियर के लिए किसी की हत्या की जा सकती है. जी हां, ऐसा हुआ है राजधानी दिल्ली में. जहां एक युवती ने अपनी दोस्त की हत्या सिर्फ इसलिए कर दी क्योंकि उसने उसे बियर पिलाने से मना कर दिया. हत्या की इस गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने जैसमिन नामक युवती को गिरफ्तार कर लिया है.

दरअसल, 17 जून को केन्या की रहने वाली 25 वर्षीय युवती अन्नासम की दिल्ली के महरौली में हत्या कर दी गई थी. उस पर बेरहमी से चाकू से कई वार किए गए थे.

मामले की जांच में जुटी पुलिस ने जब मृतक युवती की कॉल डिटेल खंगाली तो हत्या वाले दिन अन्नासम की कई लोगों से बाचतीच होने की जानकारी मिली. इसी क्रम में पुलिस को पड़ोस में रहने वाली तंजानिया की जैसमिन के बारे में पता चला. पुलिस को पड़ोसियों से यह भी पता चला कि कुछ दिनों पहले ही दोनों के बीच झगड़ा भी हुआ था.

बाद में दोनों दोस्त बन गए थे.जब पुलिस ने जैसमिन से सख्ती के साथ पूछताछ की, तो वो टूट गई और उसने अपना जुर्म कुबूल कर लिया.पुलिस के मुताबिक जैसमिन ने वारदात वाले दिन अन्नासम को बियर पिलाने के लिए कहा था लेकिन उसने मना कर दिया.

इसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई. जिसके बाद उसने रसोई में इस्तेमाल होने वाले चाकू से अन्नासम पर हमला कर दिया. इस हमले में अन्नासम की मौक पर ही मौत हो गई.

पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किए गए चाकू और कपड़े को बरामद कर लिया है. पुलिस ने बताया कि अन्नासम छतरपुर एक्सटेंशन में नंदा अस्पताल के पास किराये के मकान में रहती थी. बता दें कि अन्नासम टूरिस्ट वीजा पर दिल्ली आई थीं और हत्या की आरोपी जैसमिन तंजानिया देश की रहने वाली है.

विदेशों में बैन ये उत्पाद भारतीए लोगों की बने हुए है पहली पसंद .

भारत के बाहर प्रतिबंधित दवाओं और उत्पादों की सूची लंबी है. प्रतिबंधित की जाने वाली दवाओं में जहां नोवाल्गिन, डी-कोल्ड, एंटरोक्विनेल, फुरोक्सोन और लोमोफ़ेन (एंटी-डायरियल), निमुलिड, एनलजिन (दर्द निवारक), सिज़ा और सिसप्राइड, (एसिडिटी और कब्ज), निमेसुलाइड जैसी दवाएं है वहीं कुछ ऐसे खाद्य उत्पाद भी हैं जिन्हें भारत में बहुत पसंद किया जाता है.

लाइफबॉय

अमेरिका ने इस साबुन पर कुछ साल पहले ही प्रतिबंध लगा दिया था क्योंकि एक परीक्षण में यह पाया गया था कि यह साबुन मानव त्वचा के लिए अच्छा नहीं है. खाद्य और औषधि प्रशासन ने कहा है कि इस साबुन का निर्माता यह साबित करने में विफल रहा कि यह मानव त्वचा के लिए अच्छा है.

डिस्प्रिन (दर्द निवारक)

इस दवा का उपयोग दर्द को कम करने के लिए किया जाता है. लेकिन 2002 में अमेरिकी सरकार की ड्रग सेफ्टी बॉडी द्वारा 16 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए इसे प्रतिबंधित कर दिया गया. डिस्प्रिन के साइड इफेक्ट के कारण एक दुर्लभ स्थिति पैदा हो गई थी,

जो हमारे लीवर और मस्तिष्क की सूजन का कारण बन रही थी. इसलिए कईं बाहरी देशों ने इसके सेवन पर रोक लगा दी थी. लेकिन भारत के लोग बिना किसी डर के अपने दर्द को मिटाने के लिए इस दवा का सेवन कर रहे है.

हल्दीराम के उत्पाद

यूएसए में खाद्य और औषधि प्रशासन ने भारत में स्थित एक प्रमुख मिठाई और स्नैक्स निर्माता हल्दीराम के उत्पादों की बिक्री पर 2016 में प्रतिबंध लगा दिया था.

हल्दीराम के स्नैक्स, बिस्कुट, वेफर्स और अन्य उत्पादों पर किए गए परीक्षण और मिलावट के उच्च स्तर, खपत के लिए अयोग्य होने की वजह से इसपर रोक लगा दी गई थी जो हमारे देश में धड़ल्ले से बिक रहे हैं और लोगों की पहली पसंद बने हुए है.

समोसा

भारतीय लोगों में सबसे सस्ते और पसंदीदा स्ट्रीट फूड में से एक है – समोसा परंतु कईं देशों ने इसपर प्रतिबंध लगा दिया. उनके अनुसार यह शरीर के लिए खतरनाक होने के साथ-साथ रोगों की जड़ भी है.

ये है दुनिया के अजीबो गरीब इंसान तस्वीरें देख नहीं होगा विश्वास

दुनिया में कई लोगों का जन्म बेहद ख़ास मकसद के लिये होता है या कई बार हम अपने आस-पास ख़ास तरह के लोगों को देखते हैं. अब जैसे किसी के हाथ में 5 की जगह 6 उंगलियां होती हैं. इसके अलावा कुछ लोगों की आंखों का रंग काफ़ी अलग होता है.

आज हम आपको कुछ ऐसे ही अनोखे लोगों की तस्वीरें दिखाते हैं, जिन्हें देख कर मन ख़ुश भी होगा और परेशान भी:

इस बच्चे के बालों पर ठीक वैसा ही बर्थमार्क है, जैसा कि उसकी मम्मी के बालों पर.

ये आदमी Waardenburg नामक Syndrome से पीड़ित है, जिस वजह से इसे एक कान से सुनाई नहीं देता. यही नहीं, इसके कारण इसके बालों का रंग और आंखों का रंग भी बदल गया.

कुछ लोग जन्म से ही ऐसे होते हैं.

आंख की पुतली पर ये Scar देख सकते हैं.

चेहरे के आधे हिस्से पर नज़र आ रहे Freckles.

दोनों बहनों के एक जैसे Toes.

ये बंदा ऐसी चीज़ों को पकड़ सकता है.

इस बच्चे के Streak नेचुरल हैं.

अनोखी जीभ.

अजब-ग़ज़ब पैर.

इसके हाथ में सबसे छोटी उंगली थी ही नहीं.

सिर्फ़ पांच उगंलियां, कोई अंगूठा नहीं.

बच्ची के सिर पर 2 बना हुआ है.

काफ़ी कष्ट होता है.

इसका कारण Polydactyly है.

शख्स ने पुल पर से किया पेशाब, नीचे कई लोग हुए जख्मी, पहुंची रेस्क्यू टीम, जाने पूरा मामला

जर्मनी की राजधानी बर्लिन में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है,व्यक्ति के पुल से पेशाब करने की वजह से ऐसी अफरातफरी मची कि कई लोग घायल हो गए. घायलों को एंबुलेंस से हॉस्पिटल ले जाया गया. ये मामला जर्मनी की राजधानी बर्लिन का है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बर्लिन में पुल से पेशाब करने की वजह से नीचे से गुजर रही टूरिस्ट बोट पर अफरातफरी मच गई. कई लोग घायल हो गए. इसके बाद रेस्क्यू वर्कर्स को बुलाना पड़ा.

घटना शनिवार शाम की है. बर्लिन फायर डिपार्टमेंट ने माना कि एक व्यक्ति के जैन्नोवित्ज पुल के ऊपर से पेशाब करने की वजह से टूर बोट में सवार कई लोग घायल हो गए.

dw.com की रिपोर्ट के मुताबिक, घटना के बाद 4 लोगों को एंबुलेंस से हॉस्पिटल ले जाया गया. पुलिस ने इस मामले में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हमले का मामला दर्ज कर लिया है. आरोपी की तलाश की जा रही है.

वहीं, सोशल मीडिया पर लोगों ने इस घटना को लेकर गुस्सा जताया है. एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि बर्लिन में ऐसी घटना की किसी ने उम्मीद नहीं की होगी.

भूलकर भी दूसरे के सामने नहीं खोलने चाहिए अपने ये चार राज, भविष्य में उठानी पड़ सकती है परेशानी

आचार्य चाणक्य ने चार ऐसी बातें बताई हैं ,जिन्हें हमेशा राज ही रखना चाहिए। आइए जानते हैं कि हमे कौन-कौन सी बाते किसी दूसरे के साथ शेयर नहीं करनी चाहिए।आचाार्य चाणक्य ने कहा कि हमें कभी भी पैसो के नुकसान की बात को किसी अन्य व्यक्ति को नहीं बतानी चाहिए इसे राज ही रखना चाहिए।

पैसे के नुकसान होने पर आपकी मदद कोई नहीं करेगा इसलिए हमेशा इस बात की कोशिश करनी चाहिए कि अपने पैसों के नुकसान की चर्चा अन्य से भूलकर भी नहीं करना चाहिए।

अक्सर लोग अपनी परेशानियों की चर्चा किसी अन्य को फौरन बता देते हैं। हमें इससे बचना चाहिए। यदि हम अपने दुख को दूसरों के साथ शेयर करते है तो दूसरे लोग इसका मजाक भी बना सकते है।

पुरुषों को कभी भी अपनी पत्नी की नेगिटिव बातों के बारे में किसी दूसरे व्यक्ति को नहीं बताना चाहिए। ऐसा करने से वह व्यक्ति आप का मजाक बना सकता है और भविष्य में आपको परेशानी उठानी पड़ सकती हैं।

यदि किसी मूर्ख व्यक्ति की वजह से आपको अपमान का सामना करना पड़े तो इस बारे में किसी अन्य व्यक्ति को ये बाते नहीं बतानी चाहिए इससे आपकी प्रतिष्ठा में कमी आ सकती है।

ये हैं फाइव स्टार होटल के डर्टी सीक्रेट

फाइव स्टार होटल अपने स्टैंडर्ड, क्वालिटी, साफ-सफाई, लग्जरी, रूम और सर्विस के प्राइस के लिए जाने जाते हैं। लग्जरी होटल में एक रात की बुकिंग का लाखों रुपए में होती है। ये होटल अपने कमरों के किराए से लेकर गेस्ट लिस्ट को लेकर हमेशा सीक्रेसी मेंटेन करते हैं। आइए जानते हैं इन होटलों के डर्टी सीक्रेट्स के बारे में..

स्टेटस करता है मैटर

बिजनेस इन्साइडर की खबर के मुताबिक फाइव स्टार होटल में आपका स्टेटस मैटर करता है। अगर आप हाई प्रोफाइल गेस्ट, वीआईपी गेस्ट, लॉयल गेस्ट हैं तो वह आपको स्पेशल अटेंशन लिस्ट में रखेंगें। होटल में सेलेब्रिटी या अमीर गेस्ट का ध्यान रेग्युलर सिटीजन की तुलना में ज्यादा रखा जाता है।

गेस्ट के अफेयर को करते हैं प्रोटेक्ट

अगर आपका किसी के साथ अफेयर है तो उसे भी फाइव स्टार होटल प्रोटेक्ट करते हैं। कई गेस्ट ऐसे होते हैं जो पहले अपनी गर्लफ्रेंड या ब्वायफ्रेंड के साथ आते हैं और कुछ हफ्तों बाद फैमिली के साथ आते हैं। ऐसे में वह ऐसे गेस्ट के सीक्रेट पास नहीं करते। साथ ही गलती से भी वह किसी को भी अफेयर या वाइफ के बारे में नहीं बताते।

लग्जरी होटल में भी होते हैं कॉकरोच

लग्जरी होटल जो अपने क्वालिटी कंट्रोल और सफाई के लिए जाने जाते हैं उनके किचन में भी कॉकरोच होते हैं।

बिहेवियर की होती है रिकॉर्डिंग

आपके बिहेवियर की रिकॉर्डिंग होती है। अगर आप एलिवेटर के पास कमरा चाहते हैं तो उसे रिकॉर्ड किया जाता है कि आपकी क्या डिमांड है। अगर आप होटल स्टॉफ के साथ खराब बिहेव करते हैं तो आपके चेक इन और चेक आउट का क्लियरेंस फ्रंट स्टॉफ न करके मैनेजर करता है।

सेलेब्रिटिज को देते हैं फ्री रूम

फाइव स्टार होटल सेलेब्रिटिज को फ्री रूम्स ऑफर करते हैं। ताकि, अगर उनके होटल की फोटोग्राफ सेलेब्रिटिज इन्स्टाग्राम पर पोस्ट करते हैं तो उन्हें इससे फायदा होता है।

डू नॉट डिस्टर्ब

अगर आप डू नॉट डिस्टर्ब का साइन ऑन करते हैं या गेट पर लगा देते हैं, तो होटल का स्टाफ आपको परेशान नहीं करेगा। होटल इसका पालन करते हैं क्योंकि ऐसा नहीं करने पर गेस्ट उन पर कोर्ट केस कर सकते हैं।

होटल को पता होती है गेस्ट की हिस्ट्री

फाइव स्टार होटल को अपने गेस्ट के बारे में पहले से पता होता है। वह उनके बारे में रिसर्च वर्क करके रखते हैं। वह उन सभी गेस्ट की स्टेटस के मुताबिक रैंकिंग करके रखते हैं। जैसे कि एक छोटी कंपनी की वीपी को बड़ी कंपनी के सीनियर एसोसिएट की तुलना में बेहतर कमरा मिलेगा।

दो सौतनों ने शौहर का किया ऐसा बंटवारा, नारी उत्थान केंद्र का फैसला सुनकर आप भी कहेंगे ‘क्या बात है’

भारत विविधताओं का देश है, यहां सबकुछ अनोखे तरीके से होता है. ऐसे अक्सर आपने सुना और देखा होगा, लेकिन उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कुछ ऐसा हुआ है, जिसे जानने के बाद आप भी कहेंगे वाकई हमारा देश कई मायनों में अनोखा है. दरअसल, मुरादाबाद के एक बिजली कर्मी ने एक या दो नहीं बल्कि तीन महिलाओं से निकाह किया है. जिसके बाद पत्नियों में पति के वक्त को लेकर झगड़ा हुआ है और मामला नारी उत्थान केंद्र में पहुंचा है.

ऐसे हुआ तीसरी शादी का खुलासा

नारी उत्थान केंद्र में बिजलीकर्मी ने बताया कि उसकी पहली पत्नी की मौत हो चुकी है, इसलिए उसने दो और शादियां की. उसने बताया कि करीब 20 साल पहले उसने दूसरा निकाह कर लिया था. दूसरी बीवी से भी उसे तीन बच्चे हुए. बिजली कर्मी अचानक घर से गायब रहने लगा. जिसके बाद बीबी को शक हुआ और उसने अपने शौहर के पीछा किया, तो पता चला कि उसने एक और शादी कर रखी है और तीसरी बीवी से उसे एक बच्चा है.

एसएसपी के पास पहुंची बिजलीकर्मी की दूसरी पत्नी

तीसरी बीवी की बात जानने के बाद बिजली कर्मी की दूसरी पत्नी ने एसएसपी में तहरीर देकर अपने शौहर और सौतन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. महिला ने आरोप लगाया कि उसका पति उसे समय नहीं देता है, अपने बच्चों का भी ख्याल नहीं करता है. इतना ही नहीं महिला ने एसएसपी के सामने कहा कि उसके शौहर की सारी सैलेरी उनकी सौतन हड़प लेती है.

नारी उत्थान केंद्र में हुआ अनोखा फैसला

एसएसपी के बाद जब यह मामला नारी उत्थान केंद्र पहुंचा तो फैसला हुआ कि बिजली कर्मी दूसरी बीवी के साथ सप्ताह में एक दिन और तीसरी वाली के पास सप्ताह में छह दिन रहेगा. केंद्र ने यह भी कहा कि बिजलीकर्मी दोनों पत्नियों का खर्चा भी उठाएगा. नारी उत्थान केंद्र में आया यह फैसला सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. कुछ लोग इस फैसले की तारीफ कर रहे हैं, तो कुछ लोग इसे बिजलीकर्मी की बेवकूफी करार दे रहे हैं.

ये है दुनिया के वो चार स्थान, जहां 70 डिग्री तक पहुंच जाता है पारा

भारत में इस वक्त भीषण गर्मी का माहौल है, आसमान से अंगारे बरस रहे हैं। हालात ऐसे हैं कि लोग घरों से बाहर निकलने से पहले भी दस बार सोचते हैं। लू लगने से बीमार होने की खबरें भी अब आम हो गई हैं। ऐसे बहुत से लोग हैं जो 42-44 डिग्री सेल्सियस में एसी रूम से बाहर निकलना भी मुनासिब नहीं समझते। लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि धरती पर कई जगह ऐसी भी हैं जहां इससे भी बुरे हाल हैं। चलिए आज हम आपको दुनिया की ऐसी ही जगहों के बारे में बताते हैं-

ईरान- दश्त-ए-लुत

ईरान में मौजूद दश्त-ए-लुत नामक इस जगह को दुनिया में सबसे गर्म माना जाता है। नासा ने साल 2005 में यहां का तापमान 70.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया था। वहीं साल 2004 से 2007 और 2009 में इस जगह को धरती पर सबसे गर्म जगह माना गया था। चिली के अटाकामा डेजर्ट के साथ दश्त-ए-लूट को दुनिया की सबसे सूखी जगह माना जाता है।

अमेरिका- डेथ वैली

यहां साल में औसत वर्षा मात्र 5 सेमी. के लगभग होती है। यहां पानी के निशान तक नहीं हैं। वहीं अगर कहीं पानी मिल भी जाए तो वह खारा होता है। 1913 में गर्मियों में थर्मामीटर से जब इस जगह का तापमान मापा गया तो वह 56.7 डिग्री सेल्सियस था। जिससे इस जगह का नाम भी दुनिया की अन्य गर्म जगहों के साथ जुड़ गया। कैलिफोर्निया में स्थित इस जगह का औसत पारा 47 डिग्री सेल्सियस तक आसानी से पहुंच जाता है। ये कैलिफोर्निया की सबसे सूखी जगह है।

सूडान- वदी हाल्फा

सूडान के लेक नूबिया के किनारे पर बसा वदी हाल्फा शहर में बारिश की मात्रा ना के बराबर रहती है। जून यहां का सबसे गर्म महीना माना जाता है। इस दौरान औसत तापमान 41 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। यहां साल 1967 में सबसे गर्म दिन रिकॉर्ड किया गया था। तब यहां का तापमान 53 डिग्री सेल्सियस था।

लीबिया- अजीजियाह

अजीजियाह लीबिया की राजधानी त्रिपोली से 25 मील की दूरी पर स्थित है। इस जगह को भी दुनिया की सबसे गर्म जगह माना जाता है। साल 1922 में यहां का तापमान 58 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। वहीं गर्मियों के समय यहां का औसत तापमान 48 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

जाने दुनिया के सबसे अमीर लोगों के शहर न्यूयॉर्क के बारे में रोचक बातें

जिन लोगों का भी विदेश घूमने का सपना होगा उसमे New York शहर ज़रूर शामिल होगा और हो भी क्यों न आखिर न्यूयॉर्क को दुनिया के सबसे विकसित शहर में से एक माना जाता है.

अगर आपको ये अबतक ये जानकारी है कि New York अमेरिका का एक विकसित शहर है तो हम आपको बता दें कि यह बात गलत है क्योंकि न्यूयॉर्क एक राज्य है और न्यूयॉर्क राज्य के अंतर्गत आने वाला शहर न्यूयॉर्क सिटी है जो कि सबसे विकसित शहर माना जाता है और ये शहर न्यूयॉर्क राज्य का सबसे बड़ा शहर है.

न्यूयॉर्क की आबादी में 86.2 लाख लोग रहते हैं और यहां का क्षेत्रफल 783.8 वर्ग किलोमीटर का है. विश्व व्यापर, मनोरंजन और फैशन में न्यूयोर्क का काफी प्रभाव है और इसी वजह से न्यू यॉर्क दुनिया के सबसे बड़े महानगरों में से एक बन चूका है. आज हम आपको न्यू यॉर्क से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताएंगे.

  •  न्यूयॉर्क की एक लैब में महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइन्स्टाइन की आँखों को संभाल कर रखा गया है.
  • न्यूयॉर्क शहर अमीरों का शहर है और यहां पर हर 21 लोगों में से एक लकपति है.
  •  साल 2018 में दुनिया का सबसे पहला “underground park” न्यू यॉर्क में ही बनाया गया था.
  • न्यू यॉर्क शहर में करीब 1600 से ज़्यादा पिज़्ज़ा रेस्टुरेंट हैं.
  • न्यूयॉर्क के बारे में एक बहुत ही चिंताजनक बात है कि यहां पर छोटी क्लास में पढ़ने वाले बच्चों में से 21% बच्चे मोटापे का शिकार हैं.

  • आपको बता दें की 2014 में किये गए एक सर्वे के अनुसार न्यूयॉर्क शहर को सबसे “Unhappiest City” माना गया है.
  • 28 नवंबर 2012 को न्यू यॉर्क में कोई भी अपराध की वारदात नहीं हुई थी इसलिए इस दिन को सबसे शांत दिन माना जाता है.
  • न्यूयॉर्क में बिना इमरजेंसी के कार का हॉर्न बजाना गैरकानूनी है.