प्लेन के नीचे छिपकर दिल्ली से लंदन गया ये शख्स, 40000 फीट की ऊंचाई पर भी रहा जिंदा

पिछले हफ्ते लंदन के एक घर के बगीचे में अचानक एक व्यक्ति का शव आसमान से गिरा. शव जमे हुए बर्फ की तरह नजर आ रहा था. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ये शव फ्लाइट की लैंडिग गियर की जगह पर छिपकर सफर कर रहे किसी व्यक्ति का था.

जांच के बाद पता चला कि यह शव केन्या एयरलाइन की फ्लाइट से गिरा जो केन्या से लंदन आ रही थी. इसी बीच एक ऐसे युवक की कहानी सामने आई है जो ऐसी ही यात्रा के बाद जीवित बच गया.

दुनियाभर में ऐसे कई वाकये हुए हैं जब लोगों ने फ्लाइट के निचले हिस्से में छिपकर यात्रा की और मौत के शिकार हुए. लेकिन ऐसा बहुत कम हुआ है जब ऐसा करने वाला शख्स जीवित बचा. डेली मेली की रिपोर्ट के मुताबिक, आज से 23 साल पहले 1996 में परदीप सैनी नाम के शख्स ने दिल्ली से ऐसी ही एक यात्रा की थी. सैनी आज लंदन में ड्राइवर के रूप में काम कर रहे हैं.

करीब 6500 किमी तक लैंडिंग गियर में यात्रा करने के बावजूद सैनी की जान सुरक्षित रही थी. इस दौरान ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट 40 हजार फीट तक की ऊंचाई पर पहुंची और उन्होंने न के बराबर ऑक्सीजन और माइनस 60 डिग्री तक के तापमान का सामना किया.

हालांकि, ड्राइविंग का काम करने वाले सैनी को उस यात्रा के बारे में अब कुछ याद नहीं, लेकिन वे उसे बहुत मुश्किल भरा बताते हैं. सफर में उनके साथ छोटे भाई विजय भी सफर कर रहे थे, लेकिन विमान से गिरकर उनकी मौत हो गई थी. 5 दिन बाद लंदन में ही उनका शव मिला था.

लंदन पहुंचने पर तब 22 साल के रहे प्रदीप सैनी बेहोशी की हालत में थे और उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. डॉक्टरों को आश्चर्यचकित करते हुए वे रिकवर कर गए थे. बाद में उन्हें इंग्लैंड से निकाले जाने के खिलाफ लंबी कानूनी लड़ाई लड़नी पड़ी. आखिर में कोर्ट ने 2014 में उन्हें लंदन में रहने की इजाजत दे दी. इंग्लैंड जाने से पहले वे पंजाब में कार मेकैनिक का काम करते थे.

ये हैं दुनिया के 10 सबसे महंगे घर, भारत ने भी बनाई टॉप-5 में जगह

अपनी आमदनी के लिहाज से हर कोई अपने सपनों के घर को तमाम सुविधाओं से लैस करने की कोशिश करता रहता है। वहीं महंगे घर बनवाने का शौक भी अक्सर चर्चा में रहता है जिसमें राजनीतिक जगत से लेकर फिल्मी हस्तियां और बड़े बिजनेस मैन से लेकर छोटे-मोटे कारोबारी तक शामिल रहते हैं।

आज हम अपनी इस खबर के माध्यम से आपको दुनिया को उन 10 महंगे घरों की जानकारी दे रहे हैं, जिसे देख आप उसके मालिक की शख्सियत का अंदाजा लगा सकते हैं। इन घरों की खूबसूरती आपका दिल चुरा सकती है। तो जानिए इन घरों के बारे में।

बकिंघम पैलेस (लंदन यूके): दुनिया के सबसे महंगे घरों की अगर बात करें तो उसमें सबसे पहला नाम जाहिर तौर पर बकिंघम पैलेस का ही आएगा, जो कि इंग्लैंड की क्वीन का घर है। इस घर की कीमत करीब 1.55 बिलियन डॉलर की है।

बकिंघम पैलेस क्राउन प्रॉपर्टी है जिसमें करीब 775 कमरे, 188 स्टॉफ रुम, 52 रॉयल और गेस्ट बेडरुम, 92 ऑफिस, 78 बाथरुम और 19 स्टेटरुम हैं। यह सब चीजें इसे दुनिया का सबसे महंगा घर बनाती हैं।

एंटीलिया (मुंबई, इंडिया): भारत ही नहीं एशिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार मुकेश अंबानी का घर एंटीलिया दुनिया का दूसरा सबसे महंगा घर है। इस घर की कीमत अनुमानित रुप से 1 से 2 बिलियन डॉलर के आस पास बताई जाती है। यह घर 27 मंजिला इमारत है।

यह घर मुंबई के अल्टामाउंट रोड पर स्थिति है जो कि मुंबई के महंगे इलाकों में शुमार है। इस घर में करीब 600 लोगों का स्टॉफ काम करता है जो कि घर का 24 घंटे ख्याल रखते हैं। इस घर में हेल्थ स्पा, एक सैलून, एक बॉलरुम, 3 स्वीमिंग पूल, योगा एवं डांस स्टूडियो। इस इमारत की शुरुआती 6 मंजिलें पार्किंग के लिए बनाई गई हैं। इस घर में एक प्राइवेट थियेटर और स्नो रुम भी है

विला लियोपोल्डा (कोट डि एज्योर, फ्रांस): लिली साफरा के मालिकाना हक वाली यह आवासीय संपत्ति करीब 750 मिलियन डॉलर के आस पास की है। विली साफरा एक फिलेन्थ्रॉपिस्ट और लेबनान के बैंकर विलियम साफरा की विधवा हैं।

करीब 50 एकड़ में फैले इस घर में एक बड़ा ग्रीन हाउस, एक स्वीमिंग पूल और पूल हाउस है। इसके साथ ही इस घर में आउटडोर किचन, हेलीपेड और गेस्ट हाउस भी है।

विला लेस कायड्रस (फ्रेंच रिवाइरा): विला लेस कायड्रस की अनुमानित कीमत 400 मिलियन डॉलर की है। यह एक किंग साइज घर है जिसका निर्माण 1830 में बेल्जियम के राजा के लिए किया गया था।

करीब 18,000 वर्गफीट में फैले इस घर में 14 बैडरुम, ओलंपिक आकार का स्वीमिंग पूल, वुड पैनल्ड लाइब्रेरी, एथेना का एक ब्रॉन्ज स्टेचू, एक कैंडिलायर लिट बॉलरूम, 30 घोड़ों का अस्तबल, एक बड़ा सिटिंग रुम और काफी कुछ बना हुआ है।

फोर फेयरफील्ड पॉन्ड (न्यूयॉर्क): न्यूयॉर्क के सागापोनैक में बने इस घर की कीमत 248.5 मिलियन डॉलर के करीब है। इस घर की मालकिन इरा रेनर्ट हैं, जो कि रेंको ग्रुप की ओनर हैं।

करीब 63 एकड़ में फैले इस घर में 29 बॉलरुम है और इस घर के पास खुद का पॉवर प्लांट भी है। साथ ही यहां पर बॉस्केटबॉल कोर्ट, बॉलिंग एले, स्क्वैश कोर्ट, टेनिस कोर्ट, तीन स्वीमिंग पूल और एक 91 फुट लंबा डाइनिंग टेबल भी है।

एलिसन एस्टेट (वुडसाइड, कैलिफोर्निया): कैलिफोर्निया के वुडसाइड में बना यह घर करीब 23 एकड़ में फैला है जिसकी कीमत 200 मिलियन डॉलर है।

इस घर के मालिक ओरेकल के को फाउंडर लैरी एलिसन हैं। इस कंपाउंड में 10 बिल्डिंगें हैं, साथ ही यहां लेक, कोई पॉन्ड, टी हाउस और बाथ हाउस है।

पलाडो डी अमोर (बेवरी हिल्सस कैलिफोर्निया): जेफ ग्रीन, जो कि एक रियल एस्टेट आन्त्रप्रेन्योर है और अमेरिका के जाने माने राजनेता, वो इस घर का मालिकाना हक रखते हैं जिसकी अनुमानित कीमत 195 मिलियन डॉलर है।

करीब 53,000 एकड़ में फैला यह घर एक आकर्षक विला है। इस घर में 12 बैडरुम, 23 बालरूम, टेनिस कोर्ट, स्विमिंग पूल, थियेटर, वॉटरफाल, रिफ्लेक्टिंग पूल और एक बड़ी गैराज है जिसमें 27 कारें खड़ी हो सकती हैं।

सेवन द पिनाकल (बिग स्काई मोंटाना): यह एक बड़े येलोस्टोन क्लब का हिस्सा है, जो कि एक निजी स्काई और अमीरों के लिए गोल्फ कम्युनिटी है। इस घर का मलिकाना हक एड्रा और टिंबर बैरन टिम ब्लिकसेथ रखते हैं। इस घर में हीटेड फ्लोर, काफी सारे पूल्स, एक जिम और एक वाइन सेलर है।

Xanadu 2.0 (मेडिना, वाशिंगटन): यह दुनिया के अमीरों में शुमार गेट्स परिवार का घर है जिसकी कीमत 125.5 मिलियन डॉलर है। यह माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स और उनकी पत्नी मिलिंडा गेट्स का घर है।

यह काफी आकर्षक घर है जो कि 66,000 वर्ग फीट में फैला है, इसे बनने में 7 वर्षों का समय लगा। इसमें 60 फीट का एक पूल दिया गया है।

केन्सिंग्टन पैलेस गार्डेन्स (लंदन): लंदन में बने इस घर की कीमत 128 मिलियन डॉलर है। यह जाने माने भारतीय बिजनेस मैन लक्ष्मी मित्तल का निवास है, जो कि आर्सेलर मित्तल के मालिक हैं।

यह आवासीय संपत्ति प्रिंस विलियम और केट मिडलटन के घर के पास है। इस घर में 12 बॉलरुम, एक टुर्किश बाथ, एक इंडोर पूल और 20 कारों की पार्किंग के लिए खास जगह है।

आखिर क्यों ब्रिटिश बॉडीगार्ड संग भाग गई दुबई के किंग की बीवी, कारण जान हो जाएंगें हैरान

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मखतूम (69) की पत्नी हया बिंत अल हुसैन एक ब्रिटिश बॉडीगार्ड के साथ भागी हैं। डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार शेख की पत्नी ब्रिटेन में आलीशान जीवन जी रही हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि हया ब्रिटेन में राजनीतिक शरण लेने और शेख से तलाक लेने की पूरी तैयारी में हैं।

271 करोड़ रुपये और दो बच्चों के साथ भागीं

हया अपने दो बच्चों के साथ 271 करोड़ रुपये लेकर भागी हैं। हया को अगर ब्रिटेन में शरण मिल जाती है, तो इससे इन दोनों देशों के रिश्तों पर भी प्रभाव पड़ सकता है। बताया जा रहा है कि हया जर्मनी होते हुए ब्रिटेन पहुंचीं। जहां उन्होंने बकिंघम पैलेस गार्डेंस में एक घर खरीदा है। जिसकी कीमत सौ करोड़ रुपये बताई जा रही है। ये एक ऐसा इलाका है, जहां दुनिया के सबसे महंगे घर हैं।
विज्ञापन

बताया जा रहा है कि शेख और हया के बीच रिश्तों में उस वक्त दरार आई जब बीते साल उनकी बेटी लतीफा ने भी देश से भागने की कोशिश की। हया जॉर्डन के किंग अब्दुल्ला की सौतेली बहन हैं। ऑक्सफोर्ड से पढ़ी हया 20 मई के बाद से न तो सोशल मीडिया और न ही सार्वजनिक तौर पर कहीं दिखीं।

लेकिन उसे भारतीय तट से दूर समुद्र में एक नौका से पकड़ लिया गया था। वह उस समय से नजर नहीं आई हैं। कहा जा रहा है कि वह यूएई में ही हैं और उन्हें नजरबंद रखा गया है। लतीफा ने आरोप लगाया था कि वह अपने पिता के अत्याचार के कारण देश से फरार होने के लिए मजबूर हुई थीं।

शेख ने लिखी कविता

पत्नी हया के जाने के बाद शेख मोहम्मद ने एक कविता भी लिखी है। जिसमें उन्होंने हया को बेवफा बताया है। इस कविता को शेख ने इस्टाग्राम पर भी शेयर किया है। अरबी में लिखी इस कविता में शेख ने कहा है, ”अब मेरे साथ रहने का तुम्हें कोई हक नहीं, मुझे फर्क नहीं पड़ता तुम जियो या मरो।” बता दें शेख के अलग-अलग पत्नियों से कुल 23 बच्चे हैं।

यह हैं भारत के 5 अरबपतियों के अजीब शौंक, जान कर रह जायेंगे हैरान

एशिया में बहुत से अमीर और विकसित देश है उन सभी देशों से सभी लोगों में सबसे अमीर यानी पूरे एशिया में सबसे अमीर इंसान भारत से हैं, जब आपके पास पैसा हो तो आपके बहुत अजीब शौक होते हैं तो आज हम जानेंगे भारत के अरबपतियों के शौक जो आपको हैरान कर देंगी |

पैसों के बिस्तर पर सोना

कम्युनिस्ट पार्टी के नेता समर अचर जी अपने शौक को पूरा करने के लिए अपने बैंक से 20 लाख रुपए लेकर अपने बिस्तर पर बिछा कर उसी पर सो कर तस्वीरें ली और सोशल मीडिया पर शेयर किया |

सोने का टीशर्ट पहनना

एक सोने का व्यापारी भारत में गोल्डमैन नाम से मशहूर है, गोल्डमैन कहे जाने वाले दत्ता को सोने पहनने का काफी शौक है लेकिन हद तो तब हो गई जब उन्होंने एक टी-शर्ट सोने का बनवाया और उसे पहनने भी लगे यह टीशर्ट 3/30 किलो सोने की थी, टीशर्ट की कीमत लगभग दो करोड़ थी |

दहेज में हेलीकॉप्टर

2011 में कंवर सिंह तंवर के बेटे की शादी काफी धूमधाम से हुई और शादी पुराने एमएलए की बेटी से हुई थी,शादी में करीब 250 करोड रुपए खर्च किए गए थे और शादी के गिफ्ट में दूल्हे को हेलीकॉप्टर मिला साथ ही शादी में शाहरुख खान और ऐश्वर्या राय को भी बुलाया गया था |

कार से झाड़ू

सन 1920 में अलवर राजस्थान के राजा जयसिंह लंदन की सड़कों पर टहल रहे थे तो उन्हें रास्ते में वर्ल्ड फेमस कार ब्रांड का शोरूम देखा तो उन्होंने सोचा इसके अंदर जाकर इसके दाम और कार को देखा जाए लेकिन शोरूम के सेल्समैन ने उन्हें एक महाराजा नहीं समझा बल्कि एक आम भारतीय समझ कर उनके साथ बुरा व्यवहार कर सो रूम से बाहर निकाल दिया और वह अपने होटल वापस आ गए

फिर उन्होंने अपने नौकर से कहा कि आप अपने होटल में बता दें कि महाराजा रॉयल रॉयस कार खरीदना चाहते हैं महाराजा जयसिंह ने 6 रॉयल रॉयस कार खरीदी और कैश में पेमेंट कर दी और वह कार उन्होंने भारत में भेज दी फिर जयसिंह ने आर्डर दिया कि इन कारों पर शहर का कूड़ा उठाया जाए यह बात बहुत तेजी से पूरी दुनिया में फैल गई उस समय वह कंपनी की प्रतिष्ठा काफी खराब हो गई |

पानी की बोतल

भारत के मशहूर क्रिकेटर काफी ज्यादा अमीर होते हैं जैसे कि भारतीय कैप्टन विराट कोहली, विराट कोहली जिस बोतल का पानी पीते हैं उसे फ्रांस से मंगवाया जाता है और उनके केवल 1 लीटर पानी की कीमत 600 रूपए होती है

फरहान अख्तर ने इस डाइट के जरिए सिर्फ 18 महीने में बना ली थी मिल्खा सिंह जैसी बॉडी

फरहान अपनी लीन और फिट बॉडी के लिए इंडस्ट्री में पहचाने जाते हैं। फिल्म भाग मिल्खा भाग में भी उन्होंने खुद का जबर्दस्त ट्रांसफॉर्मेशन किया था। बॉलीवुड एक्टर फरहान अख्तर 45 साल के हो गए हैं। फरहान एक अच्छे कम्पोजर, सिंगर, डायरेक्टर, लिरिसिस्ट और एक्टर हैं। आज हम बता रहे हैं उन्होंने मिल्खा सिंह के जैसी बॉडी आखिर कैसे बनाई थी।

फरहान ने खूब की मेहनत

  • फिल्म भाग मिल्खा भाग की शूटिंग से पहले 18 महीनों तक फरहान ने खूब मेहनत की थी। उनका वर्कआउट प्लान तीन तरह की ट्रेनिंग में डिवाइड था। इसमें एथलेटिक ट्रेनिंग, फंक्शनल ट्रेनिंग और वेट ट्रेनिंग शामिल थीं।
  • उन्होंने पहले हफ्ते में चार घंटे ट्रेनिंग को दिए थे। बाद में इसे बढ़ाकर छ हफ्ते कर दिया था।
  • 13 महीने की लगातार मेहनत के बाद उनकी बॉडी शेप में आ गई थी।
  • वे रात में 10 बजे सो जाया करते थे और सुबह 5.30 बजे उठते थे।
  • ऊंची कूद, पुश-अप्स, पुल-अप्स के साथ ही तमाम एक्सरसाइज उनके ट्रेनिंग सेशन में शामिल होती थीं।
  • फंक्शनल ट्रेनिंग डेढ़ से दो घंटे की होती थी और इसका लक्ष्य बॉडी की फ्लेक्सिबिलिटी को बढ़ाना और हडि्डयों को मजबूत करना होता था।
  • वे दिन में पांच से छ बार खाते थे। इसके चलते उनकी बॉडी का मेटाबॉलिज्म अच्छा था।

फरहान की डाइट 

  • ब्रेकफास्ट : एग व्हाइट, अंडे की भुर्जी, मशरूम और फ्रेश फ्रूट्स का जूस लेते हैं।
  • लंच : कबाब, ड्राय फ्रूट्स, डाइजेस्टिव बिस्किट, बींस, ग्रिल्ड चिकन, कैबेज, ब्रोकली लेते हैं।
  • पोस्ट लंच : प्रोटीन शेक के साथ में कुछ नेचुरल प्रोटीन लेते हैं।
  • इवनिंग स्नैक : मूंग और बॉइल्ड चना से तैयार सलाद खाते हैं। इसमें बेरीस भी शामिल होती हैं।
  • डिनर : डिनर में फिश लेते हैं। इसमें सालमन और बासा जैसी फिश शामिल होती हैं।
  • बेड पर जाने से पहले : प्रोटीन शेक दूध के साथ पीते हैं।
  • ट्रेनिंग सेशन के दौरान : नारियल पानी, स्कीम्ड मिल्क, ओटमील जैसी चीजें लेते हैं।

  • भाग मिल्खा भाग की शूटिंग के दौरान करीब 18 महीनों तक फरहान ने अल्कोहल, ब्रेड, चपाती, राइस को हाथ तक नहीं लगाया था।जंक फूड खाना भी पूरी तरह बंद कर दिया था।

फरहान के टिप्स…

  • फरहान कहते हैं कि, मैं हफ्ते में कम से कम तीन बार वॉलीबॉल खेलता हूं,वॉलीबॉल के अलावा वे स्विमिंग और साइक्लिंग भी करते हैं।
  • मुंबई में शूटिंग होने पर खाने का डिब्बा घर से ही साथ लेकर जाते हैं। अक्सर इसमें ग्रिल्ड चिकन, फिश और पत्तेदार सलाद होता है। मुंबई से बाहर शूटिंग होने पर भी अपनी डाइट से समझौता नहीं करते।

इस कुर्सी पर बैठने वाले इंसान की हो जाती है मौत, अब तक 63 लोग गंवा चुके हैं जान, जाने इसके पीछे क्या है राज़

विदेश में कई ऐसी चीजें हैं जिन्हें श्रापित माना जाता है। इन्हीं में से एक है थॉमस बस्बी की कुर्सी। बताया जाता है कि ये चेअर इतनी मनहूस है कि जो भी व्यक्ति इस पर बैठता है जल्द ही उसकी मौत हो जाती है।

दरअसल ये कुर्सी इंग्लैंड के सर्कस म्यूजियम में रखी है। इसे जमीन से करीब 6 फुट की ऊंचाई पर रखा गया है। क्योंकि वहां लोगों को डर है कि कोई अनजाने में या गलती से इस पर बैठ न जाए। बताया जाता है कि ये चेअर थॉमस बस्बी नाम के एक शख्स की है। उसे ये कुर्सी बहुत पसंद थी।

बताया जाता है कि थॉमस को ये कुर्सी इतनी पसंद थी कि उन्हें किसी का इस पर बैठना बिल्कुल पसंद नहीं था। यहां तक कि उनके घरवाले भी इस पर नहीं बैठ सकते थे। मगर एक दिन उनके ससुर इस चेअर पर बैठ गए।

इस बात से नाराज थॉमस ने इसी कुर्सी पर उनकी हत्या कर दी थी।  तब से इस चेअर को खराब माना जाने लगा। कहा जाता है कि तब से जिस व्यक्ति के पास भी ये कुर्सी पहुंची और उसने इस पर बैठने की कोशिश की,

उसकी कुछ ही दिनों में मौत हो गई। अब तक करीब 63 लोगों की इस कुर्सी पर बैठने से मौत हो चुकी है। तब से इस कुर्सी को म्यूजियम में रख दिया गया है। हालांकि मौत का रहस्य वैज्ञानिक तक नहीं सुलझा पाए हैं।

Ac हमेशा कमरे में ऊपर और Heater हमेशा नीचे ही क्यों लगाया जाता है? जानिए इसके पीछे का विज्ञानक कारण

एक general चीज जो प्राय: हम अपने चारों और देखते हैं कि ac हमेशा कमरे में ऊपर की तरफ set की जाती है जबकि heater नीचे जमीन पर ही लगायी जाती है …..ऐसा क्यों ? ठंडी हवा गर्म हवा की तुलना में ज्यादा भारी होती है ।

पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण के कारण अधिक भार की हवा (ठंडी ) नीचे बहती है तथा कम भार की गर्म हवा ऊपर बहती है । AC का काम कमरे की हवा को ठंडा करना होता है जब ac को कमरे में ऊपर लगाते हैं तो ac पहले ऊपर की हवा को ठंडी करती है,

जिससे कमरे में जमीन के पास की हवा छत के पास की हवा से ज्यादा गर्म रहती है और ज्यादा भार के कारण ऊपर की ठंडी हवा भारी होने के कारण नीचे की और बहती है तथा नीचे की गर्म हल्की हवा ऊपर की ओर बहती है और इस प्रकार cycle बन जाता है और पूरा room ठंडा हो जाता हैं ।

यदि ac को नीचे set कर देंगे तो ac on करते ही सबसे पहले नीचे की हवा ठंडी होकर भारी होने की वजह से नीचे ही रहती है एवं ऊपर की गर्म हल्की हवा ऊपर ही रहेगी जिससे पूरा कमरा ठंडा नहीं होगा,  जबकि HEATER का काम कमरा गर्म करना होता हैं इसलिये इसे जमीन पर ही लगाया जाता है

ताकि जेसे ही heater on करते हैं तो सबसे पहले नीचे जमीन के पास की हवा गर्म होकर ऊपर उठती है और ऊपर की ठंडी हवा नीचे की तरफ बहती है और heater के प्रभाव में आकर गर्म होकर ऊपर की ओर बहती है इस प्रकार चक्र बन जाता हैं और पूरा room गर्म हो जाता है ॥ इस कारण से ac हमेशा छत के नजदीक जबकि heater हमेशा फर्श पर set किया जाता हैं ॥

प्लेन के नीचे लटक कर विदेश जा रहा था शख्स, 35 हजार फ़ीट से नीचे गिरा और फिर…

कुछ दिनों पहले एक घटना ने लोगों को चौंकाकर रख दिया। वाकया बीते रविवार का है जब लंदन के ऊपर से गुजर रहे केन्या एयरवेज के प्लेन से एक शख्स अचानक नीचे गिर गया। खास बात यह है कि वो शख्स 3500 फुट ऊपर विमान से गिरा था। जिसके बाद उसकी तुरंत मौत हो गई।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार- शख्स विमान में लैंडिंग गियर में छिपकर सफर कर रहा था। जब केन्या एयरवेज का 787 विमान हीथ्रो एयरोपोर्ट पर लैंडिंग करने के लिए पहिए नीचे ला रहा था, उसी दौरान ये शख्स प्लेन से छलांग लगाने लगा।

जिसके बाद शख्स का बेलेंस बिगड़ा और वो सीधा जाकर एक घर के बगीचे  में गिर गया। मौके पर ही उस शख्स की मौत हो गई। हादसे के वक्त वहां बैठा मकान मालिक बुरी तरह से सहम गया, जब उसने अचानक एक शख्स को आसमान से गिरते हुए देखा।

मकान मालिक के दोस्त ने मीडिया को बताया कि वह बहुत खुश किस्तम था कि आसमान से गिरने वाला शख्स कहीं उसके ऊपर नहीं गिर गया। वर्ना उसकी भी मौत हो सकती थी। जब बगीचे में धूप सेंक रहे व्यक्ति अनुसार- आसमान से वो शख्स इतनी तेजी से गिरा था कि लॉन में एक दरार आ गई और शव के चिथड़े हो गए।

बता दें कि पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक- यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि आसमान से गिरने वाला महिला है या पुरुष। ये भी साफ नहीं हो पाया है कि उसकी गिरने से पहले ही मौत हो चुकी थी या फिर गिरने के बाद मौत हुई।

अनुमान है कि अगर वह गिरने से पहले जिंदा था तो उसे -60C तापमान में ऑक्सीजन की कमी से जूझते हुए कम से कम 9 घंटे बिताने पड़े होंगे! कभी-कभी ऑक्सीजन की कमी के कारण भी लोग बेहोश हो जाते हैं।

इस देश में है दुनिया का दूसरा ताजमहल, सिर्फ इतने सालो में बन क़र होआ तैयार

दुनिया के सात अजूबों में ताजमहल का नाम शुमार है। भारत के आगरा में स्थित मोहब्बत की निशानी को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। लेकिन क्या आपको पता है यह ताजमहल सिर्फ आगरा में नहीं बल्कि दुनिया के एक और देश में भी है। यह बात आपको पढ़कर जितनी अटपटी लगेगी उससे पीछे की कहानी उतनी ही दिलचस्प है।

यह ताजमहल कहीं और नहीं बल्कि भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में स्थित है। जो असली ताजमहल की कॉपी कहा जाता है। हालांकि इसका निर्माण सदियों पहले नहीं बल्कि 10 साल पहले यानी कि साल 2008 में शुरू हुआ था। भारत में स्थित ताजमहल की तरह बनाने में इसे महज 5 साल का वक्त लगा।

इसका निर्माण बांग्लादेश के अमीर फिल्म निर्माता अहसानुल्लाह मोनी ने 56 मिलियन डॉलर में किया था। हालांकि इसके बनवाने के पीछे की कहानी भी काफी दिलचस्प है। कहा जाता है कि अहसानुल्लाह चाहते थे कि जो लोग पैसो की कमी की वजह से असली ताजमहल को देखने के लिए भारत नहीं जा पाते वो इसका दीदार यही कर लें।

हालांकि कुछ लोग यह वजह जानकर इस हूबहू ताजमहल की दिखने वाली इस नायाब निशानी को गरीबों का ताजमहल भी कहते हैं। इसका साइज और डिजाइन काफी हद तक असली ताजमहल से मिलता है। इसे बनाने के लिए इटली से संगमरमर और ग्रेनाइट मंगवाए गए थे।

इसके साथ ही इसमें हीरे का इस्तेमाल किया गया है। कहा जाता है कि ये हीरे बेल्जियम से मंगाए गए थे वहीं गुंबद को बनाने में 160 किलो पीतल का इस्तेमाल किया गया। पहली नजर देखने में यह ताजमहल असली ताजमहल की कॉपी लगेगा लेकिन इसमें नीले और गुलाबी रंग इसे मोहब्बत की असल निशाने से अलग जरूर करता है।

शादी के 10 दिन वो नहीं हो सका जो पत्नी चाहती थी, तो 11वीं रात पति के दूध में मिला दी ये दवा और फ़िर..

शादी हुए 10 दिन ही बीते थे, लेकिन पत्नी जो प्लान सोचकर आयी थी वैसा काम 10 दिन में नहीं हो सका। फिर एक दिन उसने प्लान बनाया। पत्नी उस दिन कुछ अलग ही मूड में थी। रोजाना की तरह वह रात को जब पति के लिये दूध लेकर गयी तो उसेक पहले ही उसने दूध में कोई दवाई मिला दी।

हालांकि पति ने उसकी चालाकी पकड़ ली और उसे पता चल गया कि रात को वह जो दूध लायी है उसमें कुछ मिला हुआ है। इसके बाद पूरा मामला खुल गया और सामने आ गयी पत्नी की सच्चाई।

मामला गाजीपुर जिले के खानपुर थानान्तर्गत भुजहुआं गोव का है। यहां के रहने वाले दया गिरी के बेटे पीयूष गिरी की शादी जौनपुर केराकत निवासी लड़की से हुई। पर शादी के पहले वह किसी और से प्यार करती थी, उसके साथ लड़की का अवैध सम्बन्ध भी हो गया था।

बावजूद इसके उसकी शादी पीयूष के साथ हो गयी। शादी के बाद भी वह अपने प्रेमी राजन के टच में रही और लगातार उससे फोन पर बात करती रही। फिर दोनों ने एक होने का खतरनाक प्लान बनाया।

दोनों मिलकर पीयूष को रास्ते से हटाकर गहने और रुपये लेकर फरार होने की योजना पर काम करने लगे। गुरुवार की रात प्रेमी राजन उससे आकर मिला और उसे सल्फास की डिब्बी दी। पति को रास्ते से हटाने के लिये उसे मौका 10 दिन बाद मौका मिला।

रोजाना रात की तरह वह उसने उस रोज भी पति के लिये दूध का ग्लास तैयार किया। प्लान के मुताबिक उसने दूध में सल्फास मिला दिया, लेकिन ठीक उसी वक्त पति वहां आ गया और उसे इस बात का एहसास हो गया कि दूध में कुछ मिलाया गया है।

पति ने देखना चाहा कि उसने क्या मिलाया है दूध में, जिसके बाद पत्नी सल्फास की डिब्बी छिपाने लगी। दोनों में छीना झपटी हुई और इसी बीच पति ने सल्फास की डिब्बी देख ली। इस शोरगुल में परिजन भी उठकर वहां हपुंचे और पूरा मामला जानने के बाद पत्नी के परिजनों को इसकी जानकारी दी।

अगले दिन ग्राम प्रधान गुड्डू यादव ने खानपुर थाने पर पूरी जानकारी दी। इस बीच ग्रामीणों ने प्रेमी राजन केा जमकर मारा-पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस की पूछताछ में उसने पूरी घटना स्वीकार कर ली।

दोनों का प्लान था कि पति पीयूष की हत्या कर दोनों फरार हो जाएंगे। दोनों के परिवार थाने में पहुंचे और पंचायत हुई। ससुराली तो अब उसे रखने को तैयार नहीं ही थे, खुद आरोपी पत्नी के परिजनों ने भी उसे अपने साथ रखने से इनकार कर दिया।

मामला थाने में है और दोनेां के परिजन प्रेमी-प्रेमिका का विवाह कराने को लेकर भी चर्चा कर रहे हैं। उधर पति पीयूष का साफ कहना था कि एक बार तो वह किसी तरह बच गया। अब अगर वह पत्नी को माफ करके अपने साथ रख लेता है तो वह फिर किसी दिन इस तरह की बड़ी घटना को अंजाम दे सकती है।