अब आप मुफ्त में देख सकेंगे सारे टीवी चैनलस, बस करना होगा यह काम

आज हम आपको बताएंगे की आप सारे टीवी चैनल्स मुफ्त में कैसे देख सकते हैं, इसके लिए आपको क्या करना होगा, आइये जानते हैं… टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के नए नियमों के मुताबिक आपको सौ चैनल्स देखने के लिए सिर्फ 153 रुपए चुकाने होंगे।

नए नियम के तहत चैनल्स की कीमतें 1 फरवरी से लागू हो जाएंगी। लेकिन एक उपाय से सारे टीवी चैनल्स मुफ्त में देख सकते हैं। इसके लिए कोई मंथली रिचार्ज नहीं करना होगा और न ही कोई अतिरिक्त पैसे देने होंगे। एक बार 2 हजार से 4 रुपए खर्च करके इसका फायदा उठाया जा सकता है।

कैसे उठाएं मुफ्त डीटीएच चैनल का फायदा

आज के दौर में अमूमन हर एक घर में इंटरनेट और एचडीएमआई टीवी मौजूद होता है। ऐसे में आप मुफ्त टीवी की HDMI से Amazon Fire TV Stick, Xiaomi Mi box जैसी डिवाइस कनेक्ट करके टीवी को स्मार्ट बना सकते हैं। इस डिवाइस के साथ रिमोट, पॉवर केबल और एचडीएमआई केबल मिलता है।

एचडीएमआई केबल को टीवी के एचडीएमआई से कनेक्ट करके कनेक्ट किया जा सकता है। इस तरह आपक टीवी ऐप बेस्ड हो जाएगा। इसके लिए एक Jio ऐप का आईडी पासवर्ड होना चाहिए। साथ ही इंटरनेट कनेक्शन भी चाहिए।

डिवाइस को कैसे करें कनेक्ट

इस डिवाइस की मदद से टीवी पर फेसबुक और यू-ट्यूब, नेटफ्लिक्स,अमेजन प्राइस जैसी ऐप का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके लिए आपकी टीवी में एचडीएमआई पोर्ट होना चाहिए। साथ ही इंटरनेट कनेक्शन होना जरुरी है। यूएसबी पोर्ट से पैन ड्राइव और बाकी एक्सटर्नल डिवाइस की मदद से मूवी देखा जा सकता है। साथ ही स्पीकर से भी कनेक्ट किया जा सकता है।

कीमत

डिवाइस                                                            कीमत
Amazon Fire TV Stick                             3999 रुपए
Xiaomi Mi box                                           4500 रुपए
Tanix TX3 MAX Android Box              2000 रुपए

अपनी बाइक और गाड़ी में लगाएं 1999 रूपये का यह डिवाइस, कभी नहीं होगी चोरी

अपनी बाइक और गाड़ी में यह डिवाइस लगाने के बाद अगर आपकी गाडी चोरी भी होगी तो भी आपको एक मिनट में पता चल जायेगा। भारत के लोग हर काम जल्दी में करते हैं और उनकी जल्दबाजी अक्सर अपने वाहन को कहीं भी खड़ा कर भागने में दिख जाती है।

अब आप अपने मोबाइल से अपने वाहन को कनेक्ट कर उसे सुरक्षित रख सकते हैं आइए बताते हैं कैसे? अक्सर आपने देखा होगा के कोई भी वाहन अगर चोरी हो जाए तो उसकी लोकेशन ट्रैक करके उस तक पहुंचा जा सकता है,बाजार में आजकल ऐसी ही एक डिवाइस मौजूद है जिसमें सिम लगाकर आप उसे अपने वाहन में छिपा सकते हैं और व्हीकल के चोरी होने पर उसे तुरंत ट्रैक कर सकते हैं।

बता दें, इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बनाने वाली कंपनी iMars ने एक ऐसा माइक्रो GPS ट्रैकर लांच किया है, जिसमें सिम लगाया जा सकता है। और इसके बाद उसे वाहन की बैटरी से कनेक्ट कर छिपा दिया जाता है। इसके लिए जरूरी है कि यूजर स्मार्टफोन में इससे जुड़ा ऐप इन्सटॉल कर ले।

इससे जब भी कोई आपके बिना गाड़ी चलाने की कोशिश करेगा तो आपके फोन पर अलर्ट आ जाएगा। डिवाइस को खरीद कर आपको इसमें एक माइक्रो सिम लगाना होगा, इस डिवाइस में 3 वायर दिए गए हैं, जिसमें से दो बैटरी में और एक इग्निशियन में लगाना होता है।

इसमें ब्लैक वायर को बैटरी के निगेटिव, रेड को बैटरी के पॉजिटिव प्वाइंट और ऑरेंज कलर के वायर को इग्निशियन के निगेटिव प्वाइंट से कनेक्ट करना होता है। गाड़ी में डिवाइस को फिट करने के बाद डिवाइस की लाइट ऑन हो जाएगी और यह अपना काम करना शुरू कर देगी।

इसके बाद आपको इस डिवाइस के मैनयुअल में दिए गए QR कोड को स्कैन करना होगा और फिर आपके LKGPS ऐप का लिंक ओपन हो जाएगा। आप इस डिवाइस को स्पीकर्स के अंदर, सीट के नीचे,फ्रंट और रियर बंपर के पीछे जैसी कई अन्य जगह रख सकते हैं। तो बस आपको इसके बाद उस लिंक से ऐप को इन्स्टॉल करना है और फिर लॉगिन।

यहां से आप कहीं भी बैठें अपनी गाड़ी की लोकेशन ट्रैक कर सकते हैं। इस ऐप में आप गाड़ी की रीडिंग भी देख सकते हैं।अब अगर आपकी गाड़ी के साथ कोई छेड़छाड़ होती है तो तुरंत आपके पास अलर्ट आ जाएगा। तो हुआ ना फायदे का सौदा। बता दें, यह डिवाइस आप किसी भी आॅनलाइन वेबसाइट से मात्र 3000 रुपए तक में खरीद सकते हैं।

पुलिस नहीं, INDIA में यहां अब रोबोट संभालेगा ट्रैफिक, सामने आया वीडियो

INDIA में अब पुलिस नहीं बल्कि रोबोट ट्रैफिक संभालेगा, इसका पहला प्रयोग महाराष्ट्र में देखने को मिला। महाराष्ट्र के पुणे में जल्द ही रोबोट ट्रैफिक कंट्रोल करता नजर आएगा। अभी इसका ट्रायल चल रहा है।

पुणे पुलिस ने शहर के सबसे व्यस्त चौराहे पर इस रोबोट का ट्रायल लिया और इस रोबोट ने पूरे ट्रैफिक को बखूबी नियंत्रति किया। पुणे पुलिस के मुताबिक रोबोट के ट्रैफिक नियंत्रण का पहला ट्रायल सफल रहा। भारत में इसका नाम ‘ट्रैफिक रोबोट सिस्टम’ रखा गया है।

इससे पहले रोबोट द्वारा ट्रैफिक संभालने का काम अफ्रीका में हो चुका है। पुलिस के अनुसार अफ्रीका के बाद भारत के पुणे शहर में यह पहला प्रयोग किया जा रहा है।  सूत्रों के मुताबिक इस ट्रेफिक रोबोट की लागत करीब 30 लाख आई है जिसे धीरे-धीरे कम किया जाएगा।

इसी तरह से आने वाले समय में इस जैसे और ट्रैफिक कंट्रोल रोबोट सिस्टम भारत के अलग अलग शहरों में देखने को मिल सकते हैं और ट्रैफिक को अच्छी तरह से नियंत्रित कर सकते हैं।

इस छोटे से पेन ड्राइव में सेव हो सकते हैं 10 लाख गाने या 1000 फिल्में! जानें कीमत

हर कामकाजी शख्स की कोशिश होती है कि निजी और बिजनेस से जुड़ी फाइलें वो कभी भी और कहीं एक्सेस कर सके। मगर अभी तक इतना सारा डेटा एक साथ किसी मेमोरी कार्ड या पेन ड्राइव में स्टोर नहीं किया जा सकता था।

हालांकि अब SanDisk ने ऐसी पेन ड्राइव लॉन्च की जिसकी इंटरनल मेमोरी सेविंग क्षमता के बारे में आपको यकीन ना हो!जी हां वेस्टर्न डिजिटल के SanDisk ने CES 2019 में एक नई 4TB USB-C प्रोटोटाइप ड्राइव सहित कई एक्सटर्नल स्टोरेज लॉन्च किए हैं।

एक्सटर्नल ड्राइव की दुनिया में 4TB USB को विश्व की सबसे ज्यादा क्षमता वाली पेन ड्राइव कहा जा रहा है। इस ड्राइव की खास बात यह है कि इसे कहीं भी आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है।4TB USB की काफी छोटा बताया जाता है।

बिजनेस टु़डे में छपी एक खबर के मुताबिक इसका आकार आपके अंगूठे से बड़ा नहीं होगा। बता दें कि ड्राइव अभी बाजार में उपलब्ध नहीं है। हालांकि यह ब्रिकी के लिए बाजार में आती है तो मुमकिन है कि हर कामकाजी शख्स अपनी जरुरतों के देखते हुए इसे खरीदे।

आमतौर पर 2टीबी फ्लैश ड्राइव की कीमत एक हजार डॉलर यानी सत्तर हजार रुपए से अधिक होती है। ऐसे में काफी संभव है कि 4टीबी बाजार में आती है तो इसकी कीमत एक हजार डॉलर से काफी ज्यादा हो।

4टीबी में कितना जीबी डेटा स्टोर किया जा सकता है?

आमतौर पर एक गाना पांच एमब का होता है। इस हिसाब से 4टीबी डिवाइस में करीब 10 लाख गाने स्टोर किए जा सकते हैं। इसके अलावा आप इसमें दो हजार घंटों की फिल्में स्टोर कर सकते हैं, इस हिसाब इसमें एक हजार फिल्में आसानी स्टोर की जा सकती है। आप 12,40,000 फोटोज इसमें स्टोर कर रख सकते हैं।

अपने घर में लगाइए यह पेड़, सारी जिंदगी मुफ्त में मिलेगी बिजली

अब बिजली की टेंशन नहीं होगी, अपने घर में यह पेड़ लगाकर आप जीनवभर मुफ्त में बिजली पा सकते हैं..स्वच्छ और सस्ती बिजली के उद्देश्य से केंद्र सरकार सौर ऊर्जा को बढ़ावा दे रही है। देश में कई स्थानों पर सोलर पावर प्लांट लगाए जा रहे हैं।

लेकिन जगह की कमी प्लांट लगाने में सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है। अब इस समस्या को दुर्गापुर (नई दिल्ली) के सेंट्रल मैकेनिकल इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीएमईआरआई) के वैज्ञानिकों ने दूर कर दिया है।

वैज्ञानिकों ने ऐसे सोलर ट्री बनाए हैं जिन्हें घर में कही भी उचित स्थान पर लगाकर एक बार के खर्च पर जीवनभर मुफ्त बिजली ली जा सकती है।हाल ही में पंजाब के जालंधर में आयोजित 106वीं इंडियन साइंस कांग्रेस में सीएमईआरआई ने अपने इन बिजली के पेड़ों का प्रदर्शन भी किया है।

एक मीटर के क्षेत्र में भी लगाया जा सकता है सोलर ट्री

वैज्ञानिकों के अनुसार सोलर ट्री को एक मीटर स्कवायर जैसी छोटी जगह पर भी लगाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि एक किलोवाट की झमता वाले सोलर ट्री की ऊंचाई 6 फुट के करीब होता है और इस पर 4 से 5 पैलन लगाए जा सकते हैं।

पैनल की संख्या के हिसाब से इस ट्री की लंबाई बढ़ाई जा सकती है। 10 किलोवाट के सबसे बड़े पैनल के लिए 20 फुट लंबे ट्री की आवश्यकता होती है। इस ट्री पर 40 से 50 पैनल लगाए जा सकते हैं।

 

एक सोलर ट्री से रोशन हो जाएगा एक घर

वैज्ञानिकों के अनुसार, एक किलोवाट के एक सोलर ट्री से चार-पांच कमरों के एक घर को रोशन किया जा सकता है। साथ ही पंखे भी चलाए जा सकते हैं। एक किलोवाट का सोलर ट्री किसानों का पंप चलाने में भी सझम है।

उन्होंने बताया कि इस ट्री में पैनल्स की इस तरह से लगाया गया है कि सूरज निकलने से लेकर छिपने तक सभी एंगल से इस पर किरणें पड़ती है। सोलर ट्री में एक ऐसा सेंसर लगाया गया है जो रात होने पर अपने आप स्ट्रीट लाइट्स को जला देता है। केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के घर में भी एक सोलर ट्री लगाया गया है।

कभी सोचा है कि Mi Phones के साथ क्यों नहीं मिलता ईयरफोन, यह है वजह

क्या आपके पास भी Mi का फ़ोन है? और आपने कभी सोचा है की Xiaomi अपने किसी भी फोन के साथ ईयरफोन क्यों नहीं देता? तो आइये जानते हैं क्या है इसके पीछे की सचाई..आज के समय में हर किसी के पास स्मार्टफोन होता है. साथ में लोग कम कीमत में अच्छा स्मार्टफोन खरीदना पसंद करते हैं.

हालांकि बाजार में कई ऐसे बड़े ब्रांड हैं जो कम कीमत पर मोबाइल बेचते हैं. लेकिन जब बात ग्राहकों के भरोसे की आती है तो उन्हें Mi Phone सबसे बेस्ट ऑप्शन में से एक लगता है. अपने बेहतरीन फीचर्स की वजह से ये स्मार्टफोन सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है.

लेकिन इस फोन के साथ कभी भी ईयरफोन क्यों नहीं मिलता? आज हम आपको इससे जानकारी देंगे. दरअसल जब भी हम Mi का स्मार्टफोन खरीदते हैं, तो हमें उसके साथ कभी भी ईयरफोन नहीं मिलता. हालांकि हम कभी इस बात पर ज्यादा ध्यान भी नहीं देते.

लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Mi कभी भी चार्जर और हैंडसेट के अलावा कुछ भी नहीं देती है. Mi अपने स्मार्टफोन अपने बॉक्स में से ईयरफोन ना रखकर अलग से बेचता है. जिस वजह से हैंडसेट की कीमत औरों के मुकाबले थोड़ी कम हो जाती है.

Mi कंपनी अच्छे से जानती है कि ग्राहक ईयरफोन कहीं से भी कीमत में खरीद सकते हैं. जिसका बखूबी फायदा उठाकर Mi कंपनी अपने ईयरफोन 700 से 2000 रुपए की कीमत में अलग से बेचती है. इस तरह हम ये कह सकते हैं कि Mi कंपनी जो कीमत अपने स्मार्टफोन में कम कर देती है. वही पैसे वो अपने ईयरफोन को बेचकर आसानी से कमा भी लेती है.

इन शहरों से होगी Jio Gigafiber की शुरुआत, पूरे 3 महीने तक फ्री मिलेगी सर्विस

हाल में ही गीगा फाइबर को लेकर ख़बर आई थी की इस सर्विस की शुरुआत सबसे पहले देशभर के 30 शहर में की जाएगी। Reliance Jio ने साल 2018 में Jio GigaFiber के साथ खुद की ब्रॉडबैंड सर्विस की शुरुआत की थी।

लेकिन साल खत्म हो चूका है और इसके लॉन्चिंग का इंतजार काफी दिनों से देशभर के लोग कर रहे हैं। उम्मीद है कि इस सर्विस इस साल 2019 में शुरू किया जा सकता है। कंपनी पिछले कई दिनों से इसके लिए प्री-व्यू ऑफर भी जारी कर रही है। आइए जानते हैं जियो गीगा फाइबर के प्लान के बारे में…

कंपनी के प्री-व्यू ऑफर की माने तो इस सर्विस को लेने वाले यूजर्स को 90 दिनों तक हाई-स्पीड इंटरनेट मिलेगा। इसके अलावा हर महीने 100 जीबी डाटा भी दिया जाएगा। साथ ही खबर है कि कंपनी अपने यूजर्स को शुरुआत के तीन महीने 100Mbps की स्पीड से 100GB मंथली डेटा फ्री में देगी।

यानी तीन महीने आपको फ्री में सर्विस मिलेगी। इसके बाद आपको रकम चुकानी होगी।बता दें कि यूजर्स को शुरुआत में सिक्योरिटी डिपोजिट के तौर पर 4,500 रुपये चुकाने होंगे। इतना ही नहीं इस सर्विस को लेने के दौरान आपको गीगा फाइबर और जियो टीवी रॉउटर फ्री में मिलेगा।

इसके अलावा कंपनी 750, 999 और 1,299 रुपये का प्लान भी पेश कर सकती है।कंपनी के आने वाले ये सभी प्लान्स 1 महीने की वैधता वाले होंगे।जियो गीगा फाइबर को जिन 30 शहरों में सबसे पहले शुरू किया जाएगा इनमें बेंगलुरू, चेन्नई, पुणे, लखनऊ, कानपुर, रायपुर, नागपुर, इंदौर, ठाणे, भोपाल, गाजियाबाद,

लुधियाना, कोयंबटूर, आगरा, मदुरई, नासिक, फरीदाबाद, मेरठ, राजकोट, श्रीनगर, अमृतसर, पटना, इलाहाबाद, रांची, जोधपुर, कोटा, गुवाहाटी, चंडीगढ़, सोलापुर और नई दिल्ली शामिल हैं। मतलब इन शहरों के यूजर्स को जियो की यह सर्विस सबसे पहले मिलेगी।