मोदी सरकार दे रही है घर बैठे बिजनेस करने का मौका, ऐसे उठाएं फायदा, होगी मोटी कमाई

मोदी सरकार ने पिछले कुछ सालों में कई ऐसी योजनाएं शुरू कीं, जो आपको बिजनेस करने का मौका देती हैं. ये बिजनेस आप अपने घर बैठे कर सकते हैं. कमाई भी अच्‍छी खासी होती है. इन स्‍कीम्‍स का फायदा उठाने के लिए कुछ खास नहीं करना पड़ेगा. मोदी सरकार ने इन स्‍कीम्स की प्रक्रिया बहुत आसान बनाई है.

इससे ज्यादा से ज्‍यादा लोग इन स्‍कीम्‍स से जुड़ सकेंगे. दरअसल, मोदी सरकार चाहती है कि लोग जॉब सिकर्स के बजाय जॉब क्रिएटर्स बनें, इसलिए इस तरह की स्‍कीम्‍स लॉन्‍च की गईं. मकसद है कि लोग आंत्रप्रिन्‍योर बनने के लिए आगे आएं. आइये जानते हैं इन स्‍कीम्‍स के बारे में…

घर की छत से होगी कमाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्‍ता संभालने के बाद सबसे पहले देश में सोलर पावर प्रोडक्‍शन का टारगेट लगभग पांच गुणा बढ़ाया. सरकार ने लोगों से अपील की कि वे अपने घर की छत पर सोलर प्‍लांट लगाएं और इस प्‍लांट से बनने वाली बिजली सरकार या बिजली कंपनियों को बेचें. इसके लिए आप अप्‍लाई करना चाहते हैं तो मोदी सरकार ने बेहद आसान प्रक्रिया बनाई है.

अगर आप इसके बारे में पूरी जानकारी लेना चाहते हैं तो आप मोबाइल ऐप अरुण (ARUN) डाउनलोड कर स्‍कीम की पूरी जानकारी ले सकते हैं. अगर आप अप्‍लाई करना चाहते हैं तो आप http://solarrooftop.gov.in/login पर जाकर करके आसानी से अप्‍लाई कर सकते हैं.

घर बैठे ऑनलाइन करें ये बिजनेस

अगर आप घर बैठकर बिजनेस करना चाहते हैं तो मोदी सरकार ने सरकार ने ई-पोर्टल के जरिए Gem (गवर्नमेंट ई-मार्केट) यानी ऑनलाइन बाजार तैयार किया है. आप अपने घर में रह कर ही GeM से जुड़कर सरकार के साथ बिजनेस कर सकते हैं. इसलिए आपको GeM पर रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा.

रजिस्‍ट्रेशन के बाद आप सरकारी विभागों की डिमांड के हिसाब से सप्‍लाई कर सकते हैं. ऐसा करने के लिए आपको मैन्‍युफैक्चरर्स से संपर्क करना होगा और डिमांड आने पर वहां से माल आगे सप्‍लाई कर सकते हैं.

यह ऑनलाइन ट्रेडिंग शुरू करने के लिए आपको https://gem.gov.in/ पर जाना होगा यहां साइनअप सेक्शन में आप अपना विकल्प चुन सकते हैं. सीधे संपर्क के लिए https://mkp.gem.gov.in/registration/signup#!/buyer पर क्लिक करना होगा.

महिलाएं भी कर सकती है बिजनेस

मोदी सरकार ने महिलाओं को भी घर पर रहकर बिजनेस करने का मौका दिया है. इस स्‍कीम को महिला ई-हाट नाम दिया गया है. महिलाएं इस ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म पर घर पर बनाए गए प्रोडक्‍ट्स भी बेच सकती हैं. इसके अलावा मैन्‍युफैक्‍चरर्स से सामान बनवाकर आगे बेच सकती हैं. यह प्‍लेटफॉर्म मिनिस्‍ट्री़ ऑफ वूमेन एंड चाइल्‍ड डेवलपमेंट द्वारा तैयार किया गया है.

इस प्‍लेटफॉर्म पर महिलाएं फ्री में अपना रजिस्‍ट्रेशन कराकर अपने प्रोडक्‍ट डिस्‍पले कर सकते हैं, यदि किसी सेलर्स को आपका प्रोडक्‍ट पसंद आता है तो वह सीधे आपसे संपर्क कर सकता है. आपको दूसरे ऑनलाइन ट्रेडिंग पोर्टल की तरह कमीशन भी नहीं देना होगा. अगर आप इस पोर्टल के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो क्लिक करें- http://mahilaehaat-rmk.gov.in/en/join-us/

डिजिटल कमाई भी है जरिया

मोदी सरकार समय-समय पर माय गवर्नमेंट पोर्टल पर अलग-अलग क्विज निकालती है. इन क्विज के जरिए भी कमाई होती है. वहीं, सरकार की डिजिटल पेमेंट ऐप BHIM के जरिए भी पैसा कमाया जा सकता है.

भीम ऐप से एक व्‍यक्ति को जोड़ने और उस व्‍यक्ति द्वारा तीन ट्रांजैक्‍शन करने पर 10 रुपए मिलते हैं. इस तरह महिलाएं या स्‍टूडेंट्स यदि रोज 20 लोगों को जोड़ते हैं तो वे 200 रुपए तक की कमाई कर सकते हैं. वहीं, कोई दुकानदार अपनी दुकान पर भीम ऐप को लागू करेगा, उसके खाते में 25 रुपए आएंगे.

चिप वाला ATM कार्ड आने के बाद बदल गया है पैसे निकालने का तरीका, अब इस तरह पैसे निकालेंगे तो ख़राब हो जायेगा ATM कार्ड

रिजर्व बैंक द्वारा जारी निर्देशों को मानते हुए बैंकों ने अपने ग्राहकों को अब ईएमवी चिप वाले डेबिट कार्ड जारी कर दिए हैं।  ग्राहक अब इनका उपयोग भी करने लगे हैं लेकिन इन दिनों उन्हें एक अलग समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

दरअसल, जैसे ही आप ईएमवी चिप वाला कार्ड एटीएम में डालते हैं तो वह निकलता नहीं जैसे कि आप पहले अपना कार्ड मशीन में डालकर निकाल लिया करते थे। अगर आप इस मामले में सावधानी नहीं बरतते तो संभव है आपका कार्ड खराब हो जाए।

दरअसल, इससे पहले जो एटीएम कार्ड थे वो मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले थे और एटीएम मशीनें भी उसी हिसाब से बनी थीं। इन मशीनों में कार्ड डालकर वापस निकालने की अनुमति थी लेकिन अब बैंकों ने अपनी एटीएम मशीनों को अपडेट किया है और इनमें कार्ड स्वैप करने वाली जगह बदल दी गई है।

इसके बाद अब अगर आप पैसे निकालने के लिए एटीएम में डेबिट कार्ड डालते हैं तो यह लॉक हो जाता है। यह तब तक लॉक रहता है जब तक आपका लेनदेन पूरा नहीं हो जाता है। इस दौरान अगर आप जोर लगाकर पहले की तरह कार्ड निकालने की कोशिश करते हैं तो आपका कार्ड डैमेज हो सकता है।

हालांकि, इस अपडेट को लेकर बैंकों ने एटीएम मशीनों की स्क्रीन कैबिन में यह मैसेज दिया हुआ है कि कार्ड मशीन में डालने के बाद तुरंत ना निकालें। अब एटीएम कार्ड मशीन में डालने के बाद अगर आप उसे निकालने की कोशिश करेंगे तो तुरंत ही एटीएम मशीन की स्क्रीन पर डू नॉट रिमूव योर कार्ड का मैसेज फ्लैश होने लगेगा, साथ ही मशीन खुद यह बोलकर आपको बताने लगेगी।

आपको अपने लेन देन की प्रक्रिया को पूरा करना होगा, जिसके बाद आप अपने कार्ड को निकाल सकते हैं। मशीन खुद आपसे ऐसा करने को कहेगी। जानकारी के लिए आपको बता दें कि बैंकों ने पुरानें मैग्नेटिक स्ट्राइप बेस्ड कार्ड को ईएमवी चिप बेस्ड एटीएम-कम डेबिट कार्ड एवं क्रेडिट कार्ड से बदलना शुरू कर दिया है। बैंकों ने ऐसा इसलिए किया है ताकि एटीएम मशीनों से किया जाने वाला लेनदेन सुरक्षित रहे।

सिर्फ एक साल का करें कोर्स, सरकार दे रही है 3.5 लाख सालाना की नौकरी का मौका

दिल्ली सरकार पढ़े-लिखे युवाओं को नौकरी पाने का सुनहरा मौका दे रही है। इसके लिए सरकार के वर्ल्ड क्लास स्किल सेंटर (WCSC) से एक साल का सर्टिफिकेट कोर्स करना होगा, जिसके एडमिशन शुरू हो गए हैं। ये कोर्स करके आपको 3.5 लाख तक की नौकरी मिल सकती है।

दिल्ली सरकार के इस प्रोग्राम के तहत हर एक स्ट्रीम के 12वीं पास स्टूडेंट्स आवेदन कर सकते हैं। आवेदन की अंतिम तारीख 15 फरवरी 2019 है। दिल्ली सरकार के इस कोर्स का फायदा अभिनव मिश्रा, अंजली मिश्रा और नरोत्तम नाथ वोहरा जैसे स्टूडेंट्स ने उठाया है, वो आज 3.5 लाख के सालाना पैकेज पर नौकरी कर रहे हैं।

WCSC के यह कोर्स दिल्ली के 7 जगह से किया जा सकता है।

  • विवेक विहार
  • द्वारका
  • झंडेवालान
  • DPSRU कैंपस, पुष्प विहार
  • RIT, रजौरी
  • SSC, वजीरपुर
  • IBBS BTC पूसा

कोर्स

  • स्पोर्ट डिजिटाइजेशन एंड परफॉर्मेंस मैनेजमेंट
  • डिजिटल मार्केटिंग एंड वेब डेवल्पमेंट
  • स्पोर्ट फिटनेस एंड योगा एप्लीकेशन
  • ब्यूटी एंड वेलनेस कंसल्टेंट
  • कंप्यूटर सिस्टम ऑपरेटर
  • फूड प्रोडक्शन
  • हॉस्पिटैलिटी ऑपरेशन
  • रिटेल सर्विस
  • फाइनेंस एक्जीक्यूटिव

सोनी हो या स्टार, 15 दिन बाद इन्हें देखने के लिए चुकाने पड़ेंगे इतने रुपये, जानिए पूरी रेट लिस्ट

अगर आप भी टीवी देखने के शौक़ीन हैं तो आपको पता होना चाहिए कि 1 फरवरी से टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) का नया नियम लागू होने जा रहे है जिसके तहत आपको हर चैनल के लिए एक फिक्स प्राइज़ देना पड़ेगा जो हर चैनल के लिए अलग-अलग होगा। चैनल के नए रेट उस चैनल की पॉपुलैरिटी और टीआरपी के हिसाब से तय किए गए हैं ऐसे में आपको ये नए रेट 1 फ़रवरी से चुकाने पड़ेंगे।

इस नियम के तहत 130 रुपए (प्लस टैक्स) में 100 स्टेंडर्ड डेफिनेशन (SD) चैनल ऑपरेटर्स को दर्शकों को दिखाना होंगे। ऐसे में आप जो चैनल्स चुनेंगे आपको उनके लिए फिक्स रेट देना पड़ेगा। बता दें कि इस नए नियम के लागू होने से पहले Sony, Zee, Network 18 जैसी कंपनियां अपने चैनल्स के नए रेट का खुलासा कर चुकी हैं तो आप आज ही जान लीजिए कि अब आपको चैनल्स के लिए कितना भुगतान करना पडेगा।

जानिए नए रेट्स : स्टार चैनल

  • Star Utsav: Rs: 1.00
  • Star Gold: Rs 8.00
  • Movies OK: Re 1.00
  • Star Utsav Movies: Re 1.00
  • Star Sports 1 Hindi: Rs 19.00
  • Star Sports 2: Rs 6.00
  • Star Sports 3: Rs 4.00
  • Star Sports First: Rs 1.00
  • National Geographic channel (NGC): Rs 2.00
  • Nat Geo Wild: Re 1.00

जी चैनल

  • Zee TV: Rs 19
  • &TV: Rs 12
  • Zee Cinema: Rs 19
  • Zee Action: Re 1
  • Zee News: 50 paise
  • Zee ETC: Re 1
  • Zee Bollywood: Rs 2
  • Zee Action: Re 1
  • Zee Business: 50 paise
  • Living Foodz: Re 1

नेटवर्क 18 चैनल्स

  • CNBC Awaaz: Re 1.00
  • Colors: Rs 19.00
  • The History Channel: Rs 3.00
  • MTV: Rs 3.00
  • MTV Beats: Rs 0.50
  • News 18 Assam / North East/Bihar Jharkhand/Madhya Pradesh /
  • Chhattisgarh: Rs 0.25
  • Rishtey: Re 1.00
  • Rishtey Cineplex: Rs 3.00
  • VH 1: Re 1.00

टाइम्स नेटवर्क चैनल

  • Times Now: Rs 3.00
  • Mirror Now: Rs 2.00
  • ET NOW: Rs 3.00
  • Zoom: Rs 0.50
  • Movies Now: Rs 10.00
  • MNX: Rs 6.00
  • Romedy Now: Rs 6.00

सोनी चैनल्स

  • Sony Entertainment Channel (SET): Rs 19.00
  • SAB: Rs 19.00
  • SET Max: Rs 15.00
  • MAX 2: Re 1.00
  • Sony YAY!: Rs 2.00
  • Sony PAL: Re 1.00
  • Sony Wah: Re 1.00
  • Sony MIX: Re 1.00

अब ATM से मुफ्त में निकलेगी दवा…..

ATM से आप पैसा तो निकालते हैं लेकिन अब एटीएम से दवा भी निकलेगी. सरकार हर जिले में ऐसा एटीएम लगाने पर विचार कर रही है जिससे आप मुफ्त में दवा निकाल पाएंगे.

आंध्र प्रदेश में हुए प्रयोग से उत्साहित होकर केंद्र सरकार अब बड़े पैमाने पर दवा वाले एटीएम लगाने पर विचार कर रही है. इस एटीएम का पूरा नाम है एनी टाइम मेडिसिन जिसमें ब्रांडेड और जेनरिक दवा उपलब्ध होगी. इस एटीएम से टैबलेट के साथ ही सिरप भी मिलेगा.

300 से अधिक दवाएं NLEM में मौजूद

नेशनल लिस्ट ऑफ एसेंशियल मेडिसिन लिस्ट में मौजूद अधिकतर दवाएं इस एटीएम में होंगी. बता दें कि सामान्य रोगों के लिए सभी जरूरी दवाएं नेशनल लिस्ट ऑफ एसेंशियल मेडिसिन लिस्ट में मौजूद हैं. इसमें 300 से अधिक जरूरी दवाएं हैं. ब्रांडेड और जेनरिक दोनों तरह की दवाएं एटीएम में होंगी. गोली के साथ ही सिरप भी एटीएम मशीन से मिलेगा.

एटीएम मशीन से दवा निकलेगी

आंध्र में सफल प्रयोग के बाद देशभर में इस योजना को लागू करने की तैयारी है. आंध्र प्रदेश में 15 जगहों पर दवा वाले एटीएम लगे हैं. ये एटीएम सामान्य प्रिस्क्रिप्शन को स्कैन करने पर दवा देगा. फोन कॉल करके भी इस एटीएम से दवाएं ली जा सकेंगी. इसके लिए मरीज दूर बैठे डॉक्टर को तकलीफ बताएगा. डॉक्टर दवा लिखकर एटीएम किओस्क को कमांड भेजेगा, कमांड मिलते ही एटीएम मशीन से दवा निकलेगी.

ग्रामीण इलाकों में लगेंगे ATM

एटीएम खरीद के लिए नेशनल रुरल हेल्थ मिशन के पैसे का इस्तेमाल होगा. पहले चरण में ये एटीएम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, ग्रामीण क्षेत्रों में लगेंगे.

दुबई में पाना चाहते हैं जॉब, तो ये 5 वेबसाइट देती हैं मौका

भले ही नौकरी के लिए अमेरिका पूरी दुनिया में फेवरेट जगह हो, लेकिन यूएन की नई रिपोर्ट के मुताबिक भारतीयों को अमेरिका से ज्‍यादा से अरब देश रास आ रहे हैं। भारत के लोग दुनिया में सबसे ज्‍यादा रोजगार इस समय दुबई और शरजाह जैसे शहरों के देश यूएई में पा रहे हैं।

अगर यूएई की बात करें तो भारतीय वहां की दूसरी सबसे बड़ी कम्‍यूनिटी है। भारतीयों के दुबई में जॉब करने का एक बड़ा कारण यूएई की कंरसी का भारतीय रूपए से मजबूत होना भी है। करंसी एक्‍सचेंज में 1 दिरहम 17 भारतीय रुपए के बराबर है। वहीं मिलने वाले छोटी सी भी सैलरी जब भारतीय रूपए में कनवर्ट होती है तो वह बड़ी हो जाती है। यही कारण है कि इस देशों में रहने वाले भारतीय हर साल अपने घरों को हजारों करोड़ का रेमिटेंस भेजते हैं।

अगर आप भी दुबई में जॉब पाना चाहते हैं तो कबूतर बाजों के चक्‍कर में पढ़ने की बजाय कुछ प्रोफेशनल वेबसाइट्स का रुख करें। ये वेबसाइट्स आपको रियल टाइम में दुबई में जॉब अपॉच्‍यूनिटी की डीलेज और इंटरव्‍यू प्‍लेटफॉर्म तक मुहैया कराती हैं।

Bayt.com वैसे तो Bayt.com दुनिया भर के कई देशों में जॉब दिलाती है लेकिन अगर आप दुबर्इ में जॉब पाना चाहते हैं तो www.bayt.com/en/uae/ क्लिक करें। यूएई का टॉप कंपनियों के लिए यहां हायरिंग होती है।

जॉब के लिए यहां आपको खुद को रजिस्‍टर करना होगा। इस तरह की जॉब करती है ऑफर एमिनिस्‍ट्रेटर, फाइनेंस, मैनेजमेंट, कस्‍टमर सर्विस, हॉस्पिटैलिटी, मार्केटिंग पीआर, डिजाइनर, हेल्‍थकेयर, ह्यूमन रिसोर्स, इंजीनियरिंग, आईटी और सेल्‍स यह भी पढ़ें – नौकरी के लिए इन देशों का रुख कर रहे हैं भारतीय, अमेरिका छूटा पीछे

buzzon.khaleejtimes.com

यूएई की मशहूर डेली खलीज टाइम्‍स से जुड़ा यह पोर्टल है। यहां आप खुद को रजिस्‍टर करने के बाद जॉब खोज सकते हैं। यहां आप खुद को रजिस्‍टर किए बिना ही जॉब सर्च कर सकते हैं। इस तरह की जॉब करती है ऑफर एमिनिस्‍ट्रेटर, फाइनेंस, मैनेजमेंट, कस्‍टमर सर्विस, हॉस्पिटैलिटी, नर्सिंग, मार्केटिंग पीआर, डिजाइनर, हेल्‍थकेयर, ह्यूमन रिसोर्स, इंजीनियरिंग, आईटी और सेल्‍स

EmiratesVillage.com

यूएई का फेसम जॉब पोर्टल। इस पोर्टल की खास बात यह है कि यह हर तरह की जॉब ऑफर करता है। इसके जरिए आप यूएई के छोटे शाहरों में भी जॉब हासिल सकते हैं। इस तरह की जॉब करती है ऑफर एमिनिस्‍ट्रेटर, फाइनेंस, मैनेजमेंट, कस्‍टमर सर्विस, हॉस्पिटैलिटी, नर्सिंग, मार्केटिंग पीआर, डिजाइनर, हेल्‍थकेयर, ह्यूमन रिसोर्स, इंजीनियरिंग, आईटी, बिल्डिंग, सेल्‍स, शेफ, कुक, होम मेड, लीबल, रीटेल आदि

Expatriates.com

यूएई के अलावा इस वेबसाइट के जरिए सऊदी, बहरीन जैसे देशों में भी ऑप जॉब हासिल कर सकते हैं। यहां आपको सर्च का ऑप्‍शन होम पेज पर ही मिलता है। आपको यूएई के जिस शहर में जॉब चाहिए उसे क्लिक करके जॉब वैकेंसी देख सकते हैं।

इस तरह की जॉब करती है ऑफर

एमिनिस्‍ट्रेटर, फाइनेंस, मैनेजमेंट, कस्‍टमर सर्विस, हॉस्पिटैलिटी, नर्सिंग, मार्केटिंग पीआर, डिजाइनर, हेल्‍थकेयर, ह्यूमन रिसोर्स, इंजीनियरिंग, आईटी और सेल्‍स

इस राज्य में अब कोई नहीं होगा गरीब, सरकार ने किया हर परिवार के लिए रोज़गार का इंतजाम

देशभर में युवाओं के लिए बेरोजगारी का मुद्दा अहम बना हुआ है। यूपी, बिहार जैसे बड़े राज्यों में एक परिवार के लिए एक नौकरी मिलना मुश्किल हो रहा है। ऐसे में इन परिवार के युवाओं की दिल्ली, मुंबई जैसे राज्यों में नौकरी करना मजबूरी बन जाती है। लेकिन भारत के पूर्वोत्तर के छोटे से राज्य सिक्किम ने राज्य के युवाओं को नौकरी देने के मामले में मिसाल कायम की है।

‘एक परिवार, एक नौकरी’ योजना

दरअसल सिक्कम के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग की ओर से ‘एक परिवार, एक नौकरी’ योजना की शुरूआत की गई है। इसके तहत राज्य के प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी। सीएम चामंलिंग ने इसी योजना के तहत एक दिन में 12 हजार लोगों को रोजगार दिया।सिक्किम के पलजोर स्टेडियम में आयोजित रोजगर मेला 2019 में 32 विधानसभा क्षेत्रों से दो-दो लोगों को खुद अपने हाथों से अस्थायी नियुक्ति पत्र सौंपा।

11,772 लोगों को नियुक्ति पत्र जारी

योजना के तहत 20,000 युवाओं को तुरंत अस्थायी नौकरी देने का ऐलान किया गया है। बीते शनिवार तक 11,772 लोगों को नियुक्ति पत्र जारी किए गए। चामलिंग ने कहा कि अन्य लोगों को जल्द ही दस्तावेज मिल जाएंगे। एक परिवार-एक नौकरी योजना के तहत नौकरी उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी कार्मिक विभाग को दी गई है।

किन परिवारों को मिलेगा फायदा

योजना का फायदा उन परिवारों को मिलेगा, जिन परिवारों का कोई सदस्य पहले से नौकरी में नहीं है। इसके साथ ही चामलिंग ने खेती और कृषि क्षेत्र में जुड़े सभी लोगों की कर्जमाफी का ऐलान किया। फिलहाल ये नौकरियां अस्थायी होगी। लेकिन अगले पांच वर्षों में इन्हें नियमित किया जाएगा।

बीमारी के समय है पैसों की जरूरत तो यहां से मिल जायेगा बिना ब्याज के 20 लाख तक का लोन

अगर आप अचानक बीमार हो जाते हैं और अस्पताल में भर्ती होना पड़ता है, लेकिन पैसा न होने के कारण अस्पताल का बिल कैसे चुकाएं, यह बड़ी समस्या बन जाता है। ऐसे में, यदि कोई आपको अस्पताल में ही 12 घंटे के भीतर बिना ब्याज का लोन दे दे तो आपके लिए इससे बड़ी राहत क्या हो सकती है।

जी हां, एक LetsMD (फाउंडर व सीईओ निवेश खंडेलवाल) नाम के स्टार्ट अप ने यह काम शुरू किया है। यह स्टार्ट अप अस्पताल में भर्ती मरीजों को बहुत सामान्य सी शर्तों पर लोन दे देता है।

कितना ले सकते हैं लोन

निवेश बताते हैं कि मेडिकल इमरजेंसी होने पर 20 हजार से लेकर 20 लाख रुपए तक का लोन देते हैं। हालांकि लोन देने की शर्त वही होती है, जो बैंक की होती है। यानी कि पेइंग कैपेसिटी के आधार पर लोन राशि मंजूर की जाती है। यानी कि आपकी इनकम के आधार पर लोन दिया जाता है।

कितनी देनी होती है प्रोसेसिंग फीस

निवेश के मुताबिक, हम लोन पर कोई ब्याज नहीं लेते, लेकिन प्रोसेसिंग फीस ली जाती है। जो 1 से 2 फीसदी हाती है। लोन राशि अधिक होने पर प्रोसेसिंग फीस 0.5 फीसदी तक की जा सकती है।

400 अस्पतालों में नेटवर्क

निवेश ने बताया कि उन्होंने जुलाई 2017 में अपना बिजनेस शुरू किया था और अब तक उनके नेटवर्क में 400 अस्पताल शामिल हो चुके हैं।

पहले बनवा सकते हैं कार्ड

निवेश के मुताबिक, कई लोग अपनी हेल्थ को लेकर जागरूक रहते हैं और चाहते हैं कि अस्पताल में भर्ती होने के बाद उन्हें लोन मिलने में कोई दिक्कत न हों तो वे प्री अप्रूव कार्ड पहले बनवा सकते हैं।

यह कार्ड 999 रुपए में बनवाया जा सकता है, जिसे हर साल रिन्यू करवाया जा सकता है। ये कार्ड धारक अपने परिवार के 8 सदस्यों का साल भर में 5 लाख रुपए तक का ईलाज करा सकते हैं।

कैसे लौटाना होगा लोन

लोन लौटाने की प्रक्रिया मासिक होगी। यानि कि आपको मंथली ईएमआई देनी होगी। आपको लोन का पैसा 12 माह से 48 माह के बीच में लौटाना होगा।

कौन ले सकता है लोन

निवेश ने कहा कि लोन लेने की शर्तें काफी आसान हैं। आपकी सैलरी 15 हजार रुपए मंथली से अधिक हो। आपके पास आधार कार्ड और पैन कार्ड है। आपको सैलरी स्लिप और बैंक स्टेटमेंट दिखानी होगी। इसके बाद अगर आप की क्रेडिट हिस्ट्री ठीक है तो आप लोन ले सकते हैं।

मुफ्त में देख सकते हैं 600 से ज्यादा चैनल, जानें तरीका

रिलायंस जियो अपने उपभोक्ताओं को सारे एप्स मुफ्त में उपयोग करने की छूट दे रहा है। इन एप्स में जियो टीवी, जियो मूवीज इत्यादी शामिल हैं। इसके पीछे की वजह यह है कि रिलायंस अपने उपभोक्ताओं को काफी ज्यादा हाई-स्पीड डेटा दे रहा है ताकि वे ऑनलाइन रह सकें और ऑनलाइन वीडियो देख सकें।

इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाते हुए रिलायंस जियो ने घोषणा किया है कि जियो टीवी एप्प के माध्यम से उपभोक्ता 626 लाइव टीवी चैनल मुफ्त में देख सकेंगे।

टेलिकॉम टॉक की रिपोर्ट के अनुसार, जियो टीवी एप्प पर देखे जाने वाले 626 लाइव टीवी चैनल में न्यूज चैनल के साथ-साथ इंटरटेनमेंट चैनल भी हैं। इसमें 197 न्यूज चैनल और 123 इंटरटेनमेंट चैनल शामिल हैं। साथ ही 54 धार्मिक चैनल, 49 शैक्षणिक चैनल, 35 सूचनात्मक चैनल, 27 किड्स चैनल, 8 बिजनेस न्यूज और 10 लाइफस्टाइल चैनल भी शामिल है।

यहां यह भी बता दें कि हाल ही में रिलायंस जियो ने स्टार इंडिया, सन टीवी नेटवर्क, सोनी पिक्चर्स नेटवर्क इंडिया के साथ साझेदारी की है। इन डिस्ट्रीब्यूटर्स के सभी चैनल जियो टीवी एप्स पर देखे जा सकेंगे। जियो टीवी एप्प गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

अभी तक करीब 10 करोड़ यूजर्स ने इसे डाउनलोड किया है।जानकारी के लिए बता दें कि जियो टीवी एप्प पर देखे जा सकने वाले टीवी चैनलों की संख्या कुछ डीटीएच सेवा प्रदातों से ज्यादा है। यद्यपि, जियो टीवी एप्प प्रीपेड के साथ पोस्टपेड दोनों तरह के उपभोक्ताओं के लिए उपलब्ध है, ऐसे में इसका महत्व काफी बढ़ जाता है।

रिलायंस जियो अपने ग्राहकों को बढ़ाने के मकसद से एक से बढ़कर एक ऑफर पेश कर रहा है। इन्हीं ऑफरों में से एक है कुंभ मेले के लिए एक अनोखे फोन की पेशकश।‘कुम्भ जियोफोन’ में यूजर्स को कुम्भ मेले से जुड़ी हर छोटी-बड़ी जानकारी मिलेगी। ट्रेन और बस स्टेशन की सूचनाओं से लेकर किस दिन कौन सा स्नान है? इस तरह की सभी जानकारी ‘कुम्भ जियोफोन’ से मिलेंगी।

ये है देश का सबसे बड़ा चोर बाजार, यहां कौड़ियों के दाम मिलता है ब्रांडेड सामान

हम बात कर रहे हैं देश के सबसे बड़े चोर बाजार के रूप में फेमस कमाठीपुरा इलाके की डेढ़ गली में लगने वाले सीक्रेट मार्केट की।अब मुंबई में आप आधी रात को भी किराने का सामान खरीद पाएंगे और अपने मनपसंद रेस्तरां में खाना खा सकेंगे। राज्य सरकार ने मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में दुकानों और मॉल्स को 24 घंटे खुले रखने की अनुमति दे दी है।

सरकार ने रात में शॉप खोलने का फैसला भले ही आज लिया हो, लेकिन मुंबई में एक ऐसा मार्केट पिछले कई दशकों से लगता आ रहा है जो तड़के 4 बजे लगता है और सुबह 8 बजे तक बंद हो जाता है। हम बात कर रहे हैं देश के सबसे बड़े चोर बाजार के रूप में फेमस कमाठीपुरा इलाके के डेढ़ गली में लगने वाले सीक्रेट मार्केट की।

सरकार ने जारी किया नोटिफिकेशन…

राज्य सरकार ने इससे संबंधित नोटिफिकेशन जारी किया है। इसके बाद से महाराष्ट्र में कई तरह के शॉप्स एंड रिटेल इस्टैब्लिशमेंट्स को 24×7 खुले रखने का रास्ता साफ हो गया है। हांलाकि, इसमें वाइन शॉप और बार को फिलहाल शामिल नहीं किया गया है।इसका सीधा फायदा ग्राहकों को मिलेगा। वे अब निश्चिंत होकर रात में भी शॉपिंग के लिए बाहर निकल सकेंगे।

होटल, मॉल्स, मल्टीप्लेक्स, रेस्तरां, सलून और ऐसी कई सारी सर्विसेस ग्राहकों के लिए रातभर खुली रहेंगी। वहीं साड़ियों, कपड़ों, जूते-चप्पल जैसी कई तरह की अलग-अलग दुकानों और बाज़ारों से भी रात भर शॉपिंग की जा सकेगी।

सुबह 4-8 बजे तक चलता है ये बाजार

ये मार्केट मुंबई के कमाठीपुरा इलाके की डेढ़ गली में लगता है। तड़के 4 बजे शुरू होने वाला ये मार्केट सुबह 8 बजे बंद हो जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस मार्केट की शुरुआत 1950 में हुई थी। शुरुआती दौर में मार्केट सिर्फ शुक्रवार के दिन लगा करता था, लेकिन अब मार्केट शुक्रवार और गुरुवार को लगता है।

किस वजह से सीक्रेट है ये मार्केट

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहां मुंबई के आसपास की छोटी फैक्ट्रियों से थोक में सामान आता है। इसे यहां कम दाम में बेचा जाता है। कुछ ब्रांडेड कंपनियों से डिफेक्टिव सामान व्यापारी खरीदते हैं, जिन्हें रिपेयर कर यहां आधी कीमत में बेचा जाता है।

8 हजार का जूता सिर्फ 1500 में

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो नाइक का एयर मैक्स 2014 स्पोर्ट्स रनिंग शू की कीमत जहां मार्केट में 8 हजार रुपए है, वहीं डेढ़ गली में यह करीब 1500 रुपए में मिल जाता है।
जबकि, कैट कंपनी का लेदर बूट जिसकी कीमत 8 हजार रुपए है, वह भी यहां करीब 800 रुपए में खरीदा जा सकता है।

बदला ट्रेंड, अब मेड इन चाइना

एक समय इस मार्केट में केवल चोरी का सामान बिकता था, लेकिन वक्त के साथ ये ट्रेंड बदला है। अब यहां कई छोटी कंपनियों और मेड इन चाइना सामान भी कम कीमतों में उपलब्ध है। अन्य समानों की तुलना में यहां जूतों का मार्केट काफी बड़ा है।

करोड़ों का टर्नओवर

मार्केट में सैकड़ों की तादाद में व्यापारी सामान बेचने आते हैं। माना जाता है कि यहां एक दिन में 15 से 20 करोड़ रुपए तक का बिजनेस होता है। छोटे शहरों के बिजनेसमैन यहां से बड़े पैमाने पर कम कीमत में सामान खरीदने आते हैं।