आ गया पोर्टेबल गैस स्टोव,अब घर के बाहर कहीं भी बनायें खाना

जब हम कहीं घूमने जाते है जा फिर किसी दूसरी जगह पर रहने के लिए जाते है तो सबसे बड़ी प्रॉब्लम खाने की होती है क्योंकि बाहर का खाना खाने से सेहत बिगाड़ने के साथ साथ पैसे भी बहुत खर्च होते है।

ऐसे में आ गया है यह पोर्टेबल ब्यूटेन गैस स्टोव (Portable Butane Gas Stove) । इस स्टोव का फ़ायदा यह है की इसको आप कहीं भी लेकर जा सकते है इसका वजन सिर्फ 2 किल्लो के करीब है।इसके साथ एक सूटकेस भी आता है जिसके साथ इसको कहीं भी लेकर जाना और भी आसान हो जाता है ।

इसके साथ एक 250 ग्राम का ब्यूटेन गैस का सिलेंडर आता है जिसका वजन सिर्फ 250 ग्राम होता है छोटे से इस ब्यूटेन गैस के सिलेंडर के साथ आप ढाई घंटे तक लगातार खाना बना सकते है । इस छोटे से सिलेंडर की कीमत सिर्फ 150 रुपये है एक बार ख़तम हो जाने के बाद इसको फेंक सकते है और दूसरा ब्यूटेन गैस का सिलेंडर डाल सकते है । इसके साथ आप एलपीजी वाला सिलेंडर भी जोड़ सकते है ।

अगर आप इसको खरीदना चाहते है ऐमज़ॉन से ख़रीद सकते है ज्यादा जानकारी के लिए निचे दिए हुए लिंक पर क्लिक कर सकते है ।
https://www.amazon.in/Hans-Portable-stove-butane-

इसकी कीमत 2600 रुपये के करीब है । इसके इलावा भी और बहुत सी जगह है जहाँ से आप यह खरीद सकते है ज्यादा जानकारी के लिए गूगल पर सर्च कर सकते है।

नोट: हमारा मकसद सिर्फ नए प्रोडक्ट की जानकारी देना है कोई भी प्रोडक्ट खरीदने से पहले अपनी तसल्ली जरूर करें ।

यह स्टोव कैसे काम करता है उसके लिए वीडियो भी देखें

अंग्रेजी में हाथ तंग है कोई बात नहीं अब मात्र भाषा से भी कर सकते है कमाई ,ये है तरीका

अगर आपको अपनी मात्र भाषा (एक क्षेत्र विशेष में बोली जाने वाली भाषा) में महारत हासिल है तो आप इसे भी अपनी कमाई का जरिया बना सकते हैं। जहां पिछले कुछ सालों में इंटरनेट की दुनिया में क्षेत्रीय भाषा का चलन बढ़ा है, वहीं क्षेत्रीय भाषा में लिखने वालों के लिए कई विकल्प भी सामने आए हैं।जहां आप घर बैठे भी काम करके कमाई कर सकते हैं।

मातृ भाषा जानने वालों केलिए हैं कमाई के मौके

ऑनलाइन के इस दौर में अच्छी हिंदी जानने वालों के लिए कई ऑप्शन्स हैं, जिससे घर बैठे अपना खर्च निकाल सकते हैं। इसके लिए कुछ शर्तें भी हैं जैसे कि-

  • शुद्ध भाषा लिखनी आनी चाहिए।
  • टाइपिंग स्पीड अच्छी हो।
  • जिस विषय पर लिखना हो उस विषय पर पकड़ मजबूत होनी चाहिए।

इसके साथ ही वह कहते हैं कि अपनी मातृ भाषा में लिखकर आसानी से घर खर्च जितनी कमाई की जा सकती है। इसके लिए कुछ बेहतरीन ऑप्शंस हैं।

ब्लॉगिंग : अगर आपकी मातृ भाषा अच्छी है और लिखने में दिलचस्पी है तो अपने विचारों को ब्लाॅग पर शब्दों का रूप दे सकते हैं। पिछले कुछ सालों से ब्लाॅगिंग से होने वाली कमाई को देखते हुए इसका ट्रेंड काफी बढ़ा है। इससे कमाई के लिए आपकाे सबसे पहले एक ब्लाॅग बनाना होगा।

जहां गूगल की मदद से आप ब्लाॅग लिखने की शुुरुआत कर सकते हैं और गूगल के ही फीचर एडसेंस के जरिए उसपर विज्ञापन भी ले सकते हैं। आपका ब्लॉग जितना ज्यादा पढ़ा जाएगा, विज्ञापन से उतनी ही ज्यादा कमाई होगी।

फ्रीलांसिंग : मातृ भाषा लिखने व पढ़ने वालों के लिए फ्रीलांसिंग भी बेहतर विकल्प है। यहां आप हिंदी मैगजीन, अखबारों के लिए आर्टिकल लिख कर दे सकते हैं। एक आर्टिकल से आप 500-1000 रुपए कमा सकते हैं। ऑनलाइन के इस दौर में बेहतर कंटेंट के लिए राइटर्स से कॉन्टैक्ट भी किया जाता है। जहां हर आर्टिकल के लिए 250 रुपए से 1000 रुपए दिए जाते हैं।

पढ़ा सकते हैं ट्यूशन

आजकल ज्यादातर पैरेंट्स अपने बच्चों को अंग्रेजी माध्यम से पढ़ाना पसंद करते हैं जहां बच्चों की अंग्रेजी तो ठीक रहती है लेकिन हिंदी पढ़ने और अन्य स्थानीय भाषा लिखने में समस्याएं आती हैं, इसलिए पैरेंट्स अपने बच्चों के लिए अलग से हिंदी टीचर रखना चाहते हैं और रखते भी हैं।

ऐसे में अगर आपकी हिंदी या कोई मातृ भाषा अच्छी है तो ट्यूशन आपके लिए बेहतर ऑप्शन हो सकता है। जहां आप ट्यूशन पढ़ाकर महीने के 5 से 10 हजार रुपए आराम से आप कमा सकते हैं।

ट्रांसलेशन में भी हैं मौके

अगर आपको दो या 3 भाषाओं का ज्ञान है तो आपको पैसे कमाने में मदद कर सकता है। देश और दुनिया में कई संस्थाएं एक भाषा में लिखे गए किसी भी डॉक्युमेंट को दूसरी भाषा में अनुवाद कराने के लिए पैसे देते हैं। एक किताब काे हिंदी में ट्रांसलेट करने पर दो से पांच हजार रुपए तक मिल जाते हैं।

Jio लेकर आया है ये 5 धमाकेदार प्लान, अनलिमिटेड डेटा व कॉलिंग के साथ मिलेगी 1 साल की वैधता

रिलायंस जियो सबसे सस्ते प्लान की वजह से यूजर्स के दिलों पर छाया हुआ है। यही वजह है कि जियो को टक्कर देने के लिए एयरटेल, वोडाफोन और बीएसएनएल जैसी बड़ी कंपनियां भी अपने सस्ते पैक लॉन्च कर रही हैं ताकि अपने यूजर्स को जियो की तरफ जाने से रोक सके। चालिए आज आपको 5 ऐसे प्लान के बारे में बताएंगे जिसकी वैधता एक साल की है और इसमें 750 जीबी डाटा मिलता है।

सबसे पहले बात करेंगे जियो के 1,699 रुपये वाले प्लान की, जिसकी वैधता 365 दिनों की है और इसमें हर दिन ग्राहकों को 1.5 जीबी डाटा मिलता है। यानी पूरे साल में 547.5 जीबी डाटा का लाभ मिलेगा। इतना ही नहीं किसी भी नेटवर्क पर अनलिमिटेड कॉलिंग, मैसेज और जियो ऐप्स के सब्सक्रिप्शन का भी लाभ मिलेगा।

रिलायंस जियो के 4,999 रुपये वाले प्री-पेड प्लान भी लॉन्च किया है और इसकी वैधता भी 360 दिनों की है। इसमें यूजर्स को 350 जीबी डाटा, अनलिमिटेड कॉलिंग व मैसेज और जियो सब्सक्रिप्शन मिलेगा।

इसके अलावा 1,999 रुपये वाले जियो के प्लान की वैधता 180 दिनों की है और इसमें हर दिन यूजर्स को 1.5 जीबी डाटा मिलेगा। यानी कुल 125 जीबी डाटा मिलेगा। इसके साथ ही यूजर्स को हर दिन अनलिमिटेड कॉलिंग व मैसेज मिलेगा। इसके अलावा जियो ऐप्स के सब्सक्रिप्शन भी फ्री में मिलेगा।

जियो के 999 रुपये वाले प्लान की वैधता 90 दिनों की है और इस प्लान में अनलिमिटेड कॉलिंग और जियो ऐप्स के सब्सक्रिप्शन के साथ 60 जीबी डाटा मिलेगा। इस प्लान में रोज डाटा इस्तेमाल करने की कोई सीमा नहीं है।

रिलायंस जियो के 9,999 रुपये वाले प्री-पेड प्लान में 750 जीबी डाटा मिलेगा। इसकी वैधता 360 दिनों की है और इसमें हर रोज 100 मैसेज, जियो ऐप्स के सब्सक्रिप्शन और सभी नेटवर्क पर अनलिमिटेड फ्री कॉलिंग का भी लाभ मिलेगा।

टाटा स्काई,डिश टीवी और सन टीवी के ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी,अब इतने रुपए सस्ता हो जाएगा रिचार्ज

टाटा स्काय, सन डायरेक्ट टीवी और डिश टीवी के ग्राहकों के लिए खुशखबरी है। रिपोर्ट के मुताबिक, इन तीनों ही कंपनियों ने एक्स्ट्रा नेटवर्क कैपेसिटी फीस यानी NCF को हटा दिया है। इसका मतलब अब इन तीनों कंपनियों के ग्राहकों को 100 से अतिरिक्त चैनल लेने पर भी एनसीएफ नहीं देना होगा।

नए नियमों के अनुसार अब टीवी बिल दो चीजों से जुड़कर बनेगा। एक इसमें नेटवर्क कैपेसिटी फीस है, यह 100 चैनलों के लिए 130 रुपए निर्धारित की गई है। इसके अलावा पेड चैनल्स या बुके का पैसा ग्राहकों को अलग से देना होगा।

100 चैनलों में एनएफसी के अलावा 18 प्रतिशत जीएसटी भी देना पड़ेगा, जिससे कुल मिलाकर यह अमाउंट 153 रुपए हो गया है। वहीं 100 से ज्यादा चैनलों को चुनने पर हर 25 चैनल के स्लैब के 20 रुपए एनएफसी के तौर पर ग्राहकों को देना होंगे। इसी चार्ज को इन तीनों कंपनियों ने खत्म किया है।

100 चैनलों के बाद भी चार्ज नहीं

  •  यह कंपनियां 130 रुपए प्लस जीएसटी यानी 154 रुपए एनएफसी में ही 100 से अतिरिक्त चैनल ऑफर कर रही हैं।
  • डिश टीवी और टाटा स्काय ने कुछ चैनलों से एनएफसी को हटाया है। सभी चैनलों को एनएफसी से मुक्त नहीं किया गया।
  •  टाटा स्काय ने 7 रुपए प्रतिमाह से शुरू होने वाले रीजनल पैक भी ऑफर किए हैं। कंपनी कई एफटीए रीजनल पैक फ्री ऑफर कर रही है। इनमें तमिल, तेलगू,कन्नड़, बंगाली, पंजाबी आदि भाषाओं के चैनल ऑफर किए जा रहे हैं।
  • इसी तरह डिश टीवी भी करीब 189 एफटीए चैनल्स बिना किसी अतिरिक्त एनसीएफ के ऑफर कर रहा है।

ऐसे समझें एनसीएफ का गणित

  • मान लीजिए आपने कुल 150 चैनल चुनें तो आपको 130 रुपए तो बेस पैक के देना ही है, इसके अलावा 25-25 चैनलों के दो स्लैब के 20-20 रुपए नेटवर्क कैपेसिटी फीस के भी देना होंगे। इस तरह यह अमाउंट 170 रुपए हो जाएगा। इसके बाद इस पर 18 परसेंट जीएसटी यानी यह अमाउंट 200 रुपए के करीब हो जाएगा।
  • इसमें भी पेड चैनल्स का अमाउंट आपको अलग से देना होगा।

सस्ते में साफ करें टैंक का पानी, मिनटों की है ये ट्रिक

पानी के टैंक में बैक्टीरिया और वायरस बहुत जल्दी ग्रोथ करते हैं। पेट की बीमारियों के लिए जिम्मेदार ई कोलाई वायरस भी बहुत जल्दी पनपता है। इसलिए इस को समय- समय पर साफ करना बहुत जरूरी होता है।

लेकिन इतने बड़े टैंक को और उसके पानी को साफ करना जरा मुश्किल लगता है।यहां बताई जा रही ट्रिक से आप पानी के टैंक को मिनटो में साफ कर सकते हैं। इसके लिए आपको सिर्फ एक चीज की जरूरत होगी वो है ब्लीचिंग पाउडर।

डॉ गीतांजलि शर्मा कहती हैं कि ब्लीचिंग पाउडर पानी में पनपने वाले हर प्रकार के वायरस को मार देता है। यहां तक कि इससे टैंक में जमी काई भी नीचे बैठ जाती है। लेकिन इसको बताई गई मात्रा में ही यूज करना है। आइए जानते हैं इसका यूज।

ब्लीचिंग पाउडर को मार्केट में आसानी से मिल जाएगा। यह काफी सस्ता आता है। लगभग 30 रुपए में इसका 100 से 150 ग्राम का पैकेट आ जाता हैै। एक लीटर पानी में आपको 5 मिलीग्राम ब्लीचिंग पाउडर डालना होगा।

अगर आपका टैंक 1000 लीटर का है तो आपको 4 ग्राम ब्लीचिंग पाउडर लगेगा।
ब्लीचिंग पाउडर में क्लोरीन होता है जो पानी में पनपने वाले बैक्टीरिया वायरस को खत्म कर देता है।
इसे पानी में डालकर 15 मिनट के डालकर छोड़ दें। ये टैंक में जमने वाली काई को भी साफ कर देगा।

यहां पर है इंडिया का सबसे सस्ता मार्केट, 150 रुपए में जींस और 100 रुपए से कम में मिल रही है शर्ट

इंडिया के कई शहरों में कपड़ों का थोक मार्केट होता है। इन मार्केट कपड़े खरीदने पर 50 से 100 रुपए तक का मार्जिन मिल जाता है। ऐसा ही एक मार्केट दिल्ली की सुभाष रोड पर गांधी नगर में है।

ये इंडिया के सबसे सस्ते मार्केट में से एक है। यहां पर जींस, शर्ट और टी-शर्ट को थोक में सेल किया जाता है। इतना ही नहीं, जो जींस किसी शॉप या शोरूम में 1000 रुपए के करीब मिलती है, वो यहां सिर्फ 150 रुपए में मिल जाती है।

शॉपकीपर्स खुद बनाते हैं कपड़े

  • यहां पर ज्यादातर शॉपकीपर्स ऐसे हैं जिन्होंने जींस और शर्ट बनाने की फैक्ट्री लगा रखी है।
  • ये कपड़ा लेकर अलग-अलग साइज और डिजाइन के जींस तैयार करते हैं। इसमें भी बहुत सारी वैराइटी होती है।
  • क्योंकि शॉपकीपर्स खुद कपड़े बनाते हैं इस वजह से ये सस्ती जींस, शर्ट को सेल कर पाते हैं।
  • भगत जी गारमेंट्स नाम के शॉपकीपर्स के यहां 150 रुपए से जींस शुरू हो जाती है, जो दूसरी मार्केट में दोगुनी कीमत पर सेल होती है।
  • इनके यहां पर सबसे अच्छी क्वालिटी वाले फैब्रिक की जींस 250 रुपए में ही मिल जाती है।
  • इस मार्केट से कम से कम एक जैसी कीमत वाले 5 या फिर ज्यादा जींस खरीदने होते हैं।
  • ठीक इसी तरह, शर्ट की कीमत 90 रुपए से शुरू हो जाती है। इसके भी 5 पीस लेना जरूरी होता है।

इन बातों के ध्यान रखें

  • इस मार्केट से आप जींस, शर्ट या टी-शर्ट खरीद रहे हैं, तब कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।
  • सभी तरह के कपड़े पैक होने के साथ बंधे होते हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप इन्हें एक बार खोलकर जरूर देखें।
  • कई बार एक जींस लेने पर इनके साइज में अंतर निकल आता है। ठीक इसी तरह कलर में डिफेक्ट हो सकता है।
  • ये फिक्स प्राइस का मार्केट नहीं है, ऐसे में आप थोक रेट पर भी बारगेनिंग कर सकते हैं।

सिर्फ 20 रुपए खर्च करके घर पर ही बना सकते हैं वॉटर टैंक अलार्म

पानी की टंकी में कई बार पानी फुल हो जाने पर समझ नहीं आता है। ऐसे में पानी टंकी से गिरता रहता है। इस प्रॉब्लम को दूर करने के लिए इस वीडियो में आज आप देखेंगे वॉटर टैंक अलार्म बनाने का तरीका। इस अलार्म को सिर्फ 20 रुपए खर्च करके बनाया जा सकता है।

वॉटर टैंक अलार्म बनाने के लिए एक पुराना मोबाइल चार्जर, एक बाइक इंडीकेटर बजर और वायर की जरूतर पड़ेगी। सबसे पहले ग्लू की मदद से मोबाइल चार्जर के ऊपर बाइक इंडीकेट बजर को चिपका दें। चार्जर और बजर के रेड वायर्स को आपस में जोड़ लें और काले वायर्स को खुला छोड़ दें।

अब खुले वायर्स में एक्स्ट्रा वायर जोड़ लें। इसके बाद चार्जर को घर के अंदर स्विच में लगा लें। और लंबे वायर को पानी की टंकी में सबसे ऊपर लगा दें। जैसे ही टंकी का पानी फुल होकर इस वायर के मुंह तक पहुंचेगा वैसे ही घर में लगा बजर बजने लगेगा

वीडियो देखे

599 रु. में सरकार करा रही है सोलर कोर्स, बिजनेस से लेकर नौकरी करना होगा आसान

आने वाले समय में सोलर पावर की डिमांड बढ़ेगी, जिसके चलते इस सेक्‍टर में नए बिजनेस और जॉब्‍स के मौके भी बनेंगे। इसे समझते हुए सरकार जल्‍द से जल्‍द ऐसे प्रोफेशनल्‍स तैयार करना चा‍हती है, ताकि सोलर सेक्‍टर को स्किल्‍ड लेबर की कमी न रहे।यही वजह है कि सरकार ने मात्र 599 रुपए में सोलर कोर्स शुरू किया है।

सरकार का दावा है कि यह कोर्स करने वाले युवा सोलर पावर प्रोजेक्‍ट्स के इंस्‍टॉलेशन, ऑपरेशन एंड मेंटिनेंस, मैनेजमेंट, स्टैब्लिशमेंट और डिजाइन का काम कर सकते हैं। बल्कि इस कोर्स को करने वाले युवा सोलर एनर्जी सेक्‍टर में नया बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं।

आप भी सरकार के इस ट्रेनिंग प्रोग्राम का फायदा उठा सकते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप इस ट्रेनिंग प्रोग्राम से जुड़ सकते हैं और इस ट्रेनिंग प्रोग्राम से आपको क्‍या-क्‍या फायदा हो सकता है।

ये हैं कोर्स के चैप्‍टर

अगर आप यह कोर्स करना चाहते हैं तो आपको फोटोवोल्टिक सिस्‍टम के बेसिक, इलेक्‍ट्रोमैगनेटिक स्‍पेक्‍ट्रम के बेसिक और शेडो एनालाइसिस, सोलर पावर सिस्‍टम के डिजाइन, अर्थिंग (ग्राउंडिंग) सिविल कंस्‍ट्रक्‍शन एंड लाइटिंग प्रोटेक्‍शन, सोलर पावर प्‍लांट्स के टेस्टिंग एवं कमिशनिंग, ऑपरेशन एंड मेंटिनेंस, पर्सनल प्रोएक्टिव इक्विपमेंट, सेफ्टी, सोलर पीवी का कम्‍प्‍लीट इंस्‍टॉलेशन (प्रेक्टिकल) के बाद नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ विंड एनर्जी का वर्चुअल टूर कराया जाएगा।

30 दिन में होगा कोर्स पूरा

यह कोर्स 30 दिन का है। इसके लिए आपको ऑनलाइन कोर्स परचेज करना होगा। कोर्स परचेज करने के बाद आपको हर रोज कोर्स के चैप्‍टर पढ़ने होंगे। 30 दिन का कोर्स पूरा होने के बाद आप का टेस्‍ट होगा। टेस्‍ट के पासिंग मार्क्‍स 60 फीसदी होंगे। आप अगर यह कोर्स करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले https://www.iacharya.in/site/ पर रजिस्‍ट्रेशन करना होगा। इसके आप कोर्स परचेज कर सकते हैं।

मोबाइल से भी कर सकते हैं कोर्स

यह कोर्स पूरी तरह ऑनलाइन है। आप अपने लैपटॉप और कम्‍प्‍यूटर के अलावा अपने स्‍मार्ट फोन में भी इस वेबसाइट को खोलकर पूरा कोर्स कर सकते हैं। यह वेबसाइट मोबाइल इनेबल्‍ड है।

यह मिलेगा सर्टिफिकेट

यह कोर्स आईआचार्य सिलिकॉन लिमिटेड द्वारा तैयार किया गया है। नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ विंड एनर्जी ( जो मिनिस्‍ट्री ऑफ न्‍यू एंड रिन्‍यूएबल एनर्जी की यूनिट है) और एसआरआरए के संयोजन में आपको सर्टिफिकेट मिलेगा।

दुनिया के इस अमीर देश में मुफ्त में मिल रहे हैं 1 करोड़ से अधिक खाली मकान, मकान लेने के लिए यहां करें संपर्क

दुनिया के अमीर देशों में शुमार जापान इन दिनों मकान मुफ्त में मिल रहे हैं। दरअसल यहां खाली पड़े घरों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। इन घरों को यहां आकिया कहते हैं। ऐसे में ये सरकार के लिए संसाधन कम और मुसीबत ज्यादा बनते जा रहे हैं।

लिहाजा सरकार के पास इन्हें मुफ्त में बांटने के अलावा कोई चारा नहीं है। इसके लिए यहां पर आकिया बैंक खोले गए हैं, जहां से आप बेहद कम दामों में या मुफ्त में भी घर पा सकते हैं। ऐसे में अगर आप भी मुफ्त में घर पाना चाहते हैं तो आप जापान का रुख कर सकते हैं।

1 करोड़ से ज्यादा घर हैं खाली

जापान की जनसंख्या 2017 में -0.2 फीसदी से घटी है, जबकि चीन और अमेरिका में जनसंख्या क्रमश: 0.6 और 0.7 फीसदी बढ़ी है। लिहाजा यहां घर खाली हो रहे हैं। 2013 में जापान में 82 लाख ऐसे घर थे, अब इनकी संख्या 1 करोड़ को पार कर चुकी है। यहां की कुछ संस्थाओं का मानना है कि 2033 तक जापान के कुल घरों में 30 फीसदी आकिया कहलाएंगे।

घर बन गए हैं परेशानी

आकिया यहां के लिए सामाजिक समस्या बन गए हैं। रखरखाव के अभाव में ये खूबसूरत घर जर्जर हो जाते हैं। लोग इनमें असमाजिक गतिविधियों को अंजाम देते हैं और इनके कभी भी ढह जाने का खतरा होता है।

कैसे काम करते हैं आकिया बैंक

किसी इलाके में सभी खाली घरों को सेल के लिए ऑनलाइन पोस्ट किया जाता है। यहां पर लोग बेहद कम दामों पर बहुत आसान प्रक्रिया में घर खरीद सकते हैं। यहां के कई शहरों में आकिया बैंक खुले हुए हैं। हालांकि इन बैंक्स से कॉन्टैक्ट करने के लिए आपको जापानी भाषा का ज्ञान होना जरूरी है। अंग्रेजी में पूछे गए सवालों पर कोई जवाब नहीं भेजा जाएगा।

TV खरीदने का सुनहरा मौका,ये ब्रांडेड कंपनियां दे रही हैं 10 हजार रुपए तक की छूट

ई-कॉमर्स वेबसाइट फ्लिपकार्ट ने वेलेंटाइन डे पर अपनी Flipkart TV Days सेल का आयोजन किया है। यह सेल 14 फरवरी 2019 से 17 फरवरी 2019 तक चलेगी। सेल के चलते की टेलीविजन ब्रांड्स पर लोगों को भारी डिस्काउंट दिया जा रहा है। इसके साथ ही एक्सिस बैंक का क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को 10 पर्सेंट तक का इंस्टैंट डिस्काउंट भी दिया जाएगा।

Mi LED Smart TV 4X Pro- 55 इंच के टीवी की कीमत 49,999 रुपए है जिसपर सेल में 10 हजार रुपए तक की छूट दी जा रही है जिससे यह टीवी 39,999 रुपए का मिल रहा है। इसके अलावा एक्सिस बैंक के डेबिट व क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने पर 10 फीसद का इंस्टैंट डिस्काउंट दिया जाएगा।

वहीं लोगों को Eros Now का फ्री सब्सक्रिप्शन दिया जाएगा। 1 महीने का हंगामा प्ले और ZEE5 का फ्री सबस्क्रिप्शन भी दिया जाएगा। साथ ही, ALTBalaji के वार्षिक सब्सक्रिप्शन पर 20 फीसद का ऑफ दिय जा रहा है। इस सेल दोपहर 12 बजे से शुरू होगी।

VU PLAY- VU PLAY के 43 इंच के एलईडी टीवी की कीमत 27 हजार रुपए है जिसे सेल में 17,499 रुपए में बेचा जा रहा है। इसके साथ ही यदि ग्राहक पुराना टीवी एक्सचेंज करता है तो उसे 8 हजार रुपए तक का एक्सचेंज डिस्काउंट भी दिया जाएगा। इसके अलावा एक्सिस बैंक के डेबिट व क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने पर 10 फीसद का इंस्टैंट डिस्काउंट दिया जाएगा।

Micromax – के 32 इंच एचडी रेडी एलईडी टीवी पर 49 पर्सेंट का डिस्काउंट दिया जा रहा है। इस टीवी की कीमत 19,999 रुपए है लेकिन सेल में इसे 9,999 रुपए में बेचा जा रहा है। पुराना टीवी एक्सचेंज करने पर यूजर्स को 5,000 रुपये तक का एक्सचेंज डिस्काउंट दिया जाएगा।

LG Smart- 43 इंच फुल एचडी एलईडी स्मार्ट टीवी को 49,490 रुपये के बजाय 34,999 रुपये में खरीदा जा सकता है। इसके अलावा 8,000 रुपये तक का एक्सचेंज ऑफर भी दिया जा रहा है। वहीं, एक्सिस बैंक के डेबिट व क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने पर 10 फीसद का इंस्टैंट डिस्काउंट दिया जाएगा।