अगर सेमीफाइनल मुकाबले में अंपायर ना लेता ये गलत फैसला तो आसानी से जीत जाता भारत

न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को 18 रनों से हराकर आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के फाइनल में जगह बना ली है। वर्ल्ड कप जीतने की प्रबल दावेदार माने जाने वाली भारतीय टीम की बल्लेबाजी इस मैच में पूरी तरह से फ्लॉप रहे। इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाले टीम के टॉप थ्री बल्लेबाज महज 5 के स्कोर पर पवेलियन लौट गए।

5 रनों पर तीन विकेट गंवाने के बाद भारत के लिए मैच में वापसी करना बेहद मुश्किल हो गया। इसके बाद धोनी और जडेजा ने 116 रनों की पार्टनरशिप कर टीम को जीत के करीब पहुंचाया। भारत को 14 गेंदों में 32 रनों की जरूरत थी और तभी गलत शॉट खेल जडेजा कैच आउट हो गए।

फैंस की उम्मीदें अभी भी धोनी पर टिकी थी, लेकिन अगले ही ओवर में वह भी रन आउट हो गए। धोनी के रन आउट होने के बाद सोशल मीडिया पर फैंस लगातार अंपायरिंग पर सवाल उठा रहे हैं। धोनी के आउट होने पर एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस तस्वीर में धोनी जिस गेंद पर आउट हुए वो नो बॉल बताई जा रही है।

हालांकि, नो ब़ॉल पर बल्लेबाज रन आउट होता है , लेकिन अंपायर की इस गलती की वजह से भारतीय टीम को एक एक्सट्रा रन और फ्री हिट नहीं मिला। 48वें ओवर में धोनी के बल्लेबाजी के समय 30 गज के बाहर छह कीवी खिलाड़ी थे, लेकिन नियम की मानें तो तीसरे पावरप्ले के दौरान पांच ही खिलाड़ी 30 गज के बाहर रह सकते हैं।

इस तस्वीर के वायरल होने के बाद फैंस भारतीय टीम की इस हार के लिए मैदानी अंपायर रिचर्ड केटलबोरो को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। वहीं भारतीय कप्तान विराट कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के कयासों के बीच कहा कि इस अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज ने भविष्य की अपनी योजनाओं के बारे में उन्हें अभी तक कुछ नहीं बताया है।

धोनी ने भारत की विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों 18 रन से हार में 72 गेंदों पर 50 रन बनाये। कोहली से पूछा गया कि क्या धोनी ने उसे भविष्य की अपनी योजनाओं के बारे में कुछ बताया है क्योंकि वेस्टइंडीज दौरे के लिए जल्द ही टीम घोषित की जाएगी, भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘नहीं। उन्होंने अभी तक हमें कुछ नहीं बताया है। ’’