दुनिया की 8 सबसे घटिया जॉब्स, जिन्हें करना सबके बस की बात नहीं

दुनिया में ऐसे कई काम हैं जो बहुत ही खतरनाक या घिनौने हैं लेकिन फिर भी लोग उन्हें अपना पेशा बनाते हैं। इसकी वजह यह है कि उस पेशे में वह बढ़िया पैसे कमाते हैं। हालांकि, इनमें से कुछ कामों में खतरा इतना ज्यादा होता है कि लोगों की जान भी जा सकती है लेकिन फिर भी लोग इन्हें करते हैं और इसकी वजह रोमांच या अच्छा पैसा है।

तो चलिए जानते हैं डेलीमेल और द रिचेस्ट वेबसाइट की ओर से लिस्टेड दुनियाभर के ऐसे ही कुछ प्रोफेशन्स के बारे में, जिन्हें घटिया करार दिया गया है। इनके बारे में जानने के बाद शायद आपको अपनी खराब लगती नौकरी अच्छी लगने लगे।

आर्मपिट सूंघने की नौकरी

सुनने और पढ़ने में भले ही ये अजीब लगे, लेकिन असल में ये एक तरह की जॉब है। विदेशों में जो भी डियोड्रेंट और परफ्यूम बनाने वाली कंपनीज है, वो ऐसे लोगों को नौकरी देती हैं। ताकि ये आर्मपिट सूंघकर ये बता सकें, कि परफ्यूम और डियो की खुशबू कैसी हैं और ये लोगों को कितनी देर तक फ्रेश रखेगी। हालांकि, भारत में ऐसी कोई नौकरी नहीं है।

मैन्योर (जानवरों का मल) इंस्पेक्टर

मैन्युर जानवरों के वेस्ट या मल को कहते हैं, जो फर्टिलाइजर के तौर पर इस्तेमाल होता है। मैन्युर इन्सपेक्टर का काम ये चेक करना होता है कि जानवरों के वेस्ट में कोई दूषित चीज तो नहीं है, जो फर्टिलाइजर्स के साथ जमीन में फैल जाए और उसका असर फसल खाने वाले इंसान पर भी हो।

इसके अलावा कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के एनिमल साइंस डिपार्टमेंट के प्रोफेसर ट्रिसा बर्गर का कहना है कि जानवरों पर रिसर्च करने वाले लोग अक्सर ये काम करते हैं या फिर इस काम के लिए वो दूसरों को भी हायर कर सकते है।

क्राइम सीन क्लीनर

सड़ी लाशें उठाने और क्राइम सीन को साफ करने का भी काम होता और बकायदा इसके लिए लोग हायर किए जाते हैं। ये उन जगहों पर भी काम करते हैं जहां पर खड़े होकर सांस लेना तो दूर, वहां का सीन देखने पर भी लोग घबरा जाते हैं।

ऑस्ट्रेलियन फॉरेंसिक क्लीनिंग के एमडी जोश मार्सदन ने बताया था कि सिर्फ अंदाजा ही लगा लें कि किसी व्यक्ति का शव एक-दो महीने तक एक कमरे में पड़ा रहे तो वहां की क्या हालत होगी। हमारे कर्मचारियों को वहां की सफाई पूरी सतर्कता से करनी होती है।

सीमेन (वीर्य) कलेक्टर

ये भी एक बड़ी अजीबोगरीब जॉब है। असल में जानवरों पर रिसर्च करने वालों को कई बार रिसर्च के लिए पशुओं के (सीमेन) वीर्य की जरूरत होती है। तो ऐसे लोग महंगी कीमत पर पशुओं का सीमेन खरीदते हैं।

इसके अलावा जानवरों की जनन प्रक्रिया और कृत्रिम गर्भाधान के क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को भी जानवरों के सीमेन की जरूरत होती है। ऐसे में विदेशों के इसके लिए भी नौकरी है। इजराइल, कुवैत, दुबई जैसे अधिकतर खाड़ी देशों में ऐसी नौकरियां सबसे ज्यादा मिलती हैं।

क्रोकोडाइल ट्रेनर

आपको अगर किसी मगरमच्छ के मुंह में अपना सिर डालने को कहा जाए और इसके बदले में आपको 2000 रुपए ऑफर किए जाएं, तो आपका रिएक्शन क्या होगा? लेकिन कमाल की बात है कि चीन और जापान सहित दुनिया के कई देशों में एडवेंचरेस जगहों पर और चिड़ियाघरों में इसकी नौकरी हैं। इन नौकरियों में मगरमच्छ जैसे खतरनाक जानवरों के मुंह में अपना सिर डालकर लोगों को एंटरटेन करना होता है। हालांकि, भारत में इस तरह की नौकरियां नहीं हैं।

क्वालिटी टेस्टर (फूड)

अगर आपसे कोई बिल्ली का खाना खाने को कहे तो निश्चित तौर पर ये मुश्किल काम हैं और कोई भी इस पर नाक-भौंहे सिकोड़ लेगा। पर बहुत से लोग हैं, जो जानवरों का खाना छूकर, सूंघकर और खाकर चेक करने का काम करते हैं।

ये काम रिसर्च और स्टडीज का हिस्सा होती है। इसमें ये देखा जाता है कि जानवर को खाने में जिस मात्रा में न्यूट्रिएंट्स चाहिए, वो हैं या नहीं। मार्क एंड स्पेंसर्स जैसी कंपनीज में इसके लिए अच्छी-खासी रकम भी मिलती है।

बकिंघम पैलेस में गार्ड की नौकरी

ब्रिटेन के बकिंघम पैलेस में गार्ड की जॉब को वाहियात नौकरियों में एक माना जाता है। इस नौकरी में व्यक्ति को घंटों तक बिना हिले-डुले, बिना मुस्कराए, बिना बात किए एक ही जगह खड़े रहना पड़ता है। अगर कोई गार्ड बोलता, हंसता या अपनी जगह से हिल जाता है, तो उसे बेहद सख्त सजा दी जाती है। इन्हें यहां आने वाले टूरिस्ट्स की भी छेड़छाड़ का शिकार होना पड़ता है।

ऊंची इमारतों की खिड़कियां साफ करना

दोस्तों बड़ी बड़ी बहुमंजिला इमारतों के बाहर एक पतली रस्सी के सहारे से खुद को लटकाकर खिड़कियों को साफ करना बेहद जोखिमभरा काम है। जरा सी चूक से इसमें व्यक्ति की जान भी जा सकती है लेकिन दुनियाभर की बड़ी-बड़ी कंपनियों से जुड़ी House Keeping फर्म इस तरह के काम करवाती हैं। इस काम के लिए कर्मचारियों को 1000 रुपए तक दिन भर के मिल जाते हैं।