जाने एक पेग को हजम करने पर लगता है कितना टाइम और शराब कैसे करती है अलग अलग अंगों पर असर

अगर शारब के फायदे गिनवाएंगे तो न जाने कितने होंगे, लेकिन ये सब कुछ एक तय मात्रा में शराब पीने से ही होता है. ये फायदे रोजाना शराब पीने वालों के लिए नहीं हैं और एक बार में भी टैंकर की तरह शराब पीने वालों के लिए भी नहीं हैं.

नियमित मात्रा से ज्यादा एक पेग भी पीने वाले के शरीर में बुरा असर डालता है. वैसे तो ये शरीर, मेटाबॉलिज्म और उम्र पर भी निर्भर करता है, लेकिन एक पेग शराब का एक यूनिट पचाने में 1 घंटे से ऊपर का समय लग सकता है. तो सोचिए जो लोग पूरी बोतल गटक जाते हैं उनके लिवर को कितना ओवरटाइम करना पड़ता होगा.

uk की डॉक्टर क्लेयर मॉरिसन ने ये बताया कि आखिर एल्कोहॉल शरीर में जाकर क्या असर करता है…

 10 मिनट के अंदर..

पहला पेग पीने के तुरंत बाद लोगों को हिट नहीं करता, ये 10 मिनट बाद अपना असर दिखाना शुरू करता है. इसका कारण ये है कि सबसे पहले एल्कोहॉल खून में एब्जॉर्ब किया जाता है फिर ये पेट से होते हुए आंतों तक पहुंचता है.

 30 से 90 मिनट के अंदर…

शरीर के पूरे हिस्से में एल्कोहॉल 30 से 90 मिनट के बाद असर करता है. ये शरीर के हर अंग तक पहुंचता है और असर करता है. इसलिए ही शराब एक साथ कई पेग पीने वालों के लिए ज्यादा खतरा है क्योंकि ज्यादा असर करती है.

क्या होता है शराब पीने के 1 घंटे बाद..

शरीर पर असर के हिसाब से देखें तो तय लिमिट से एक पेग ज्यादा भी शराब काफी असर डाल सकती है और ये होते हैं दुष्परिणाम…

शराब, नशा, नशामुक्ति, सोशल मीडिया

आंखें...

शराब पीने के बाद आंखें थकी हुई सी लगती हैं और विजन भी थोड़ा गड़बड़ा जाएगा. इसीलिए शराब पीने के बाद लोग कहीं टकरा जाते हैं या फिर एक्सिडेंट का खतरा बढ़ जाता है.

दिमाग..

शराब पीने के 1 घंटे बाद लोगों को ये समझ आएगा कि उनके दिमाग की निर्णय लेने की क्षमता काफी कम हो गई है. कई मामलों में याद्दाश्त कमजोर हो जाना और चक्कर आना भी होता है.

किडनी..

उल्टी, दस्त, यूरिन से शरीर से जरूरी मिनरल कम होंगे. किडनी के सभी फंक्शन तेज हो जाएंगे और इसलिए शरीर डिहाइड्रेटेड लगेगा.

लिवर..

लिवर का काम काफी बढ़ जाएगा. लिवर का असर तब तक नहीं दिखता जब तक ये पूरी तरह से खराब न होने लगे, लेकिन शराब पीने के एक घंटे के अंदर लिवर का काम काफी बढ़ जाता है.

पेट..

शराब पचने के पहले उल्टी, दस्त, पेट में जलन, भूख मर जाना जैसी समस्याएं होती हैं.

फेफड़े..

निमोनिया का खतरा शराब पीने के दौरान बढ़ जाता है. गले में जलन और खराड़ के साथ मुंह सूखना, खांसी आना आदि शराब पीने के 1 घंटे के अंदर होता है.

तो अब शराब पीने वाले समझ ही गए होंगे कि एक एक्स्ट्रा पेग कितना खतरनाक साबित हो सकता है.