इस काम को शुरू करने के लिए मोदी सरकार आपको देगी 2.5 लाख रुपए, हर महीने होगी मोटी कमाई

मोदी सरकार देश में व्यापार वर्ग को बढ़ावा देने के लिए कई तरह की योजनाएं लाती रहती है। इन योजनाओ में से प्रधानमंत्री भारतीय जनओषधि परियोजना (PMBJP) भी एक है। सरकारी आकड़ो के मुताबिक इस योजना के तहत अब तक कुल 3600 जनओषधि स्टोर खाेले जा चुके हैं।

इन स्टोर्स पर 700 जेनेरिक दवाओं के साथ-साथ 154 छोटे-बड़े मेडिकल उपरकरण आसानी से उपलब्ध होते हैं। दरअसल, इस परियोजना के तहत सरकार जेनेरिक दवाओं को बेहद ही कम कीमत में आसानी से उपलब्ध कराना चाहती है। इन स्टोर्स पर बाजार की तुलना में 80-85 फीसदी तक सस्ती दवाएं उपलब्ध होती हैं। सरकार ने इस साल देशभर में जनओषधि केंद्र की संख्या बढ़ाकर 5,000 करने का लक्ष्य रखा है।

इस योजना के तहत सरकार देगी 2.5 लाख 

अगर आप भी इस योजना के तहत सरकार की मदद से स्टोर खोलते हैं तो आपको दवाओं पर 20 मार्जिन के अतिरिक्त 15 फीसदी इंसेटिव भी मिलेगा। आपको अधिकतम 10,000 रुपए का इंसेटिव दिया जाएगा। साथ ही, सरकार आपको इस योजना के तहत तब तक इंसेटिव देती रहेगी जब तक की यह रकम 2.50 लाख रुपए न हो जाए।

इस योजना के तहत स्टोर खोलने पर भी आपको करीब 2.5 लाख रुपए खर्च करना हाेगा। यदि आप उत्तरी-पूर्व भारत में या नक्सल प्रभावित इलाकों में रहते हैं तो सरकार इंसेटिव की अधिकतम सीमा को बढ़ाकर 15 हजार रुपए कर देगी। साथ ही, कमजोर तबके के लेागों के लिए सरकार ने 50,000 रुपए एडवांस के रूप में देने का प्रावधान रखा है।

तीन तरह की बनाई है कैटेगरी 

इसके लिए सरकार तीन तरह की कैटेगरी बनाई है। पहले कैटेगरी में बेरोजगार फार्मासिस्ट, डाॅक्टर, रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर जैसे लोगों के लिए है। दूसरी कैटेगरी में ट्रस्ट, गैर-सरकारी संस्था, नीजि अस्पताल, सेल्फ हेल्प ग्रुप इस योजना के तहत जनओषधिक खोल सकते हैं।

तीसरे कैटेगरी में वो एजेंसियां होंगी जो राज्य सरकारों की तरफ से नाॅमिनेट की गई हैं। इस योजना के तहत खुद का स्टोर खोलने के लिए आपको 120 वर्गफुट की जमीन होनी चाहिए जहां आप अपनी दुकान खोल सकें। सरकार आपको 700 दवाएं उपलब्ध कराएगी।

किन कागजातों की होगी हो जरूरत 

इसके लिए आपके पास रिटेल ड्रग सेल्स का लाइसेंस होने अनिवार्य है। आवेदन के लिए आधार कार्ड  और पैन कार्ड की भी जरूरत होगी। यदि आप अपने संस्था, एनजीओ, हाॅस्पिटल या चैरिटेबल ट्रस्ट के लिए आवेदन कर रहे हैं तो इसके लिए भी आपके पास आधार कार्ड, पैन कार्ड और पंजीयन प्रामण पत्र देना अनवार्य होगा।

आवेदन के लिए आप जनओषधि की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं। आप अपना आवेदन ब्यूरो ऑफ फाॅर्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया के जनरल मैनेजर के नाम पर भेज सकते हैं। इस वेबसाइट पर आपको कई जरूरी जानकारियां आसानी से उपलब्ध हो जाएंगी। आप ऑनलाइन माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं।