अपनी कार,बाइक में लगवाए 1999 रुपए का डिवाइस, चोरी होने पर एक मिनट में पता करे कहाँ है गाड़ी

यदि आपको अपनी कार, बाइक या स्कूटर के चोरी होने का डर सताता है, तब आप उसमें मोबाइल सिम लगाकर सेफ बना सकते हैं।

जी हां, मार्केट में अब ऐसे कई डिवाइस आ रहे हैं जिनमें आप सिम लगाकर इन्हें गाड़ी में छिपा सकते हैं। यानी आपकी गाड़ी चोरी हो जाती है तब आप उसे आसानी से ट्रैक कर सकते हैं।

गाड़ी चोरी होने पर आएगा अलर्ट

इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बनाने वाली कंपनी iMars ने माइक्रो GPS ट्रैकर लॉन्च किया है। इस डिवाइस में मोबाइल सिम लगाई जाती है। फिर इसे गाड़ी की बैटरी से कनेक्ट करके कहीं छिपा दिया जाता है।

इसके बाद इस डिवाइस से जुड़ा एक ऐप अपने स्मार्टफोन पर इन्स्टॉल करना होता है। यानी आपके बिना कोई और गाड़ी चलाता है तब फोन पर उसका अलर्ट आ जाएगा।

ऐसे काम करता है डिवाइस

  •  इस डिवाइस में आपको एक माइक्रो सिम लगाना होता है।
  •  डिवाइस में 3 वायर होते हैं। इसमें दो बैटरी और एक इग्निशियन में लगाया जाता है।
  • ब्लैक वायर को बैटरी के निगेटिव, रेड को बैटरी के पॉजिटिव प्वाइंट से कनेक्ट करते हैं।
  • वहीं, ऑरेंज कलर कलर के वायर को इग्निशियन के निगेटिव प्वाइंट से कनेक्ट करते हैं।
  • कार, बाइक और स्कूटर में जब इस डिवाइस को कनेक्ट करते हैं तब यही प्रोसेस रहती है।
  • डिवाइस को फिट करने के बाद इसमें एक सिम लगा दी जाती है।

  • अब डिवाइस की लाइट ON हो जाती है और ये वर्क करना शुरू कर देगा।
  •  अब डिवाइस के मैनुअल में एक QR कोड होता है, जिसे स्कैन करना है।
  •  स्कैन करने के बाद LKGPS ऐप का लिंक ओपन हो जाएगा, इसे इन्स्टॉल करें ले।
  • ऐप में आप लॉगइन करें। यहां से आप गाड़ी की लोकेशन को ट्रैक कर सकते हैं।
  • गाड़ी की रीडिंग भी ऐप में देख सकते हैं। वहीं, गाड़ी में छेड़छाड़ होने पर इसका अलर्ट भी आ जाएगा।

नोट : डिवाइस को पावर बैटरी से मिलता है। जब गाड़ी ऑन करते हैं तभी डिवाइस एक्टिव होता है। ऑटो एक्सपर्ट भी इस डिवाइस को सजेस्ट करते हैं।