पेट्रोल पंप पर इस तरह आपके साथ होता है धोखा, बचने के लिए अपनाएं ये तरीके

कार चलाने वालों के लिए सबसे बड़ा खर्च होता है पेट्रोल और डीजल का खर्च। अगर आपसे कहा जाए कि पेट्रोल और डीजल पर आप जितना खर्च करते हैं आपका वास्तविक खर्च उससे कहीं कम है तो। हैरान हो गए न।

दरअसल कई बार हम अन्जाने में हम ख्याल नहीं रख पाते और पेट्रोल पंप वाले अपनी चालाकियों से और परेशान कर देते हैं पैसे 1 लीटर पेट्रोल के देते हैं और बदले में मिलता है सिर्फ आधा लीटर।

इतनी चालाकी से आपकी जेब काटी जाती है कि आपको पता भी नहीं चलता। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि अपने इस ऑर्टिकल में हम आपको हर उस तरीके के बारे में बताएंगे जिससे कि पेट्रोल पंप वाले आपको ठगते हैं।

पेट्रोल भराने के लिए टंकी खाली होने का इंतजार न करें-

टंकी में तेल रहते हुए उसमें पेट्रोल-डीजल जलवाएं क्योंकि एक दम खाली हो जाने पर टंकी में हवा भर जाती है जिससे कि आप जितना तेल डलवाते हैं उससे कम भरता है लेकिन पैसा आपको पूरा देना पड़ता है।

रोक-रोक कर भरा जाए पेट्रोल-

पेट्रोल भरते समय अगर मीटर बार-बार रुक रहा है तो आप भी रूक जाएं। इस तरह से पेट्रोल की मात्रा कम हो जाती है। इसलिए अगर किसी पेट्रोल पंप पर ऐसी मशीन है तो इस मशीन पर पेट्रोल भरवाने से बचें, क्योंकि इसमें आपका ही नुकसान है।

मीटर की स्पीड पर रखें नजर-

मीटर अगर बहुत तेज भाग रहा हो तो भी चौंकन्ने हो जाए। और काम कर रहे कर्मचारी को स्पीड नार्मल करने को बोलें।

तो अगली बार जब भी आप पेट्रोल पंप पर टंकी फुल कराएं तो ऊपर बताई गई बातों का ध्यान रखते हुए ही सारा काम करें।