पेट्रोल पंप को पेट्रोल पंप ही क्यों कहा जाता है, जबकि यहां तो डीजल भी मिलता है

क्या आपके कभी सोचा है कि पेट्रोल पंप को पेट्रोल पंप ही क्यों कहा जाता है, डीजल पंप क्यों नहीं? जबकी वहां तो डीजल भी मिलता है। इसके अलावा सीएनजी यानी कुछ लोग गैस पंप भी कहते हैं। कई बार हम ऐसी बातों को इग्नोर कर देते हैं, लेकिन इनके पीछे कुछ न कुछ कारण होता है। जानिए पेट्रोल पंप कहने के पीछे क्या कारण है।

जानिए क्यों कहते हैं पेट्रोल पंप-

दरअसल पेट्रोलियम यानि कच्चे तेल से ही पेट्रोल, डीजल या गैस जैसे अन्य सभी तरह के ईंधन बनते हैं। यही कारण हो सकता है कि पेट्रोल पंप को पेट्रोलियम पंप कहने की जगह सिर्फ पेट्रोल पंप ही कह दिया जाता है।

ईंधन पंप (फ्यूल पंप), डीजल ईंधन पंप, गैस पंप, गैसोलीन पंप, पेट्रोल पंप ये सभी नाम विभिन्न देशों के लोगों द्वारा उपयोग किए जा रहे हैं।

वैसे इसका वास्तविक नाम ईंधन मशीन होना चाहिए जो किसी भी व्हीकल में पेट्रोल, डीजल, सीएनजी, केरोसीन जैसे ईंधन को भरता है।

क्या होता है डीजल पंप –

दरअसल डीजल पंप का मतलब इंजेक्शन पंप होता है जो सिलेंडर में डीजल भरता है। फ्यूल पंप यानी ईंधन पंप एक खास तरह की डिवाइस है जो आमतौर पर आईसी इंजन के साथ जुड़ा होता है

अन्य देशों में क्या बोलते हैं पेट्रोल पंप को –

  • ऑस्ट्रेलिया में – गैस पंप
  • अमेरिका में – गैस पंप या फ्यूल डिस्पेंसर
  • फिनलैंड, जर्मनी और फ्रांस – फ्यूल पंप और डीजल फ्यूल पंप
  • एशिया और अन्य यूरोपियन देशों में – पेट्रोल पंप या गैसोलिन पंप

पेट्रोल पंप को पेट्रोल पंप ही क्यों कहते हैं इसका जवाब हमें क्वोरा में एक रिडर से मिला। अगर हमारे पाठकों में कोई पेट्रोलियम इंडस्ट्री से जुड़े हैं वो कमेंट बॉक्स में अपनी राय देकर दूसरे पाठकों की जानकारी बढ़ाएं।