ना चलाएं बंद कार का ब्लोअर, इस कारण जा सकती है जान

सर्दियों का मौसम शुरू हो चुका है और ऐसे में सर्दी को दूर रखने के लिए कार में अक्सर लोग ब्लोअर चलाते हैं। लेकिन ब्लोअर चलाने की ये आदत आपके लिए बेहद घातक हो सकती है। दरअसल एसी और ब्लोअर से खतरनाक गैसें निकलती हैं जो जानलेवा साबित होती हैं। ऐसा करने से कार में बैठने वाले का दम घुट सकता है। जिसकी वजह से कई बार इंसान की जान चली जाती है।

सर्दी में कार में ब्लोअर हीटर चलाना बेहद आम है। लेकिन, खड़ी गाड़ी में ऐसा करना बेहद खतरनाक होता है। एक्सपर्ट्स की मानें तो कार में एसी या ब्लोअर का इस्तेमाल बेहद सावधानी से करना चाहिए। कार को स्टार्ट करने के तुरंत बाद ब्लोअर ना चलाएं। ऐसा करने से गाड़ी का माइलेज खराब हो जाता है। क्योंकि, तब इंजन ठंडा होता है और ब्लोअर ऑन करने में तेल की बर्बादी होती है। यही नहीं, तत्काल ब्लोअर चालू करना स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक होता है।

दरअसल बंद कार में एयर वेंटीलेशन नहीं होता है। इस वजह से ये कार ग्रीन हाउस की तरह काम करती है। मतलब, कार के अंदर का तापमान बाहर की तुलना में काफी अधिक होता है।

अगर आपका कार गैराज में हैं तो इसे चालू कर इसमें ना बैठें। ऐसा करना खतरनाक होता है। कई लोगों की आदत होती है कि वो गैराज में ही बैठकर आपस में बातचीत करते हैं। कुछ लोग तो ब्लोअर या एसी भी चला लेते हैं। लेकिन ऐसा करने से कार के अंदर आक्सीजन की कमी और कार्बन मोनो आक्साइड की मात्रा बढ़ जाती है। सल्फर डाई आक्साइड भी बनती है।

इसलिए, कार में एसी चलाने से पहले थोड़ा सा शीशा खोल कर बाहर की ताजा हवा अंदर ले लें तो बेहतर होगा। इससे सांस लेने में मुश्किल नहीं होगी और दम नहीं घुटेगा। कार की एसी चलने से अंदर वातावरण तो ठंडा हो जाता है लेकिन, इंजन बेहद गर्म हो जाता है। इससे हादसा हो सकता है। इसलिए हर छह महीने में कार के एयर कंडीशन सिस्टम को जरूर चेक कराते रहें।