इन वजहों से नहीं मिल पाती स्टार्टअप्स को सफलता

किसी भी देश के विकास में आंत्रप्रेन्योर्स और इनोवेशन्स का बहुत बड़ा योगदान होता है और स्टार्टअप्स व नए बिजनेस वहां के लोगों के जीवन को बेहतर बनाते हैं। यही वजह है कि बड़ी संख्या में हर दिन कई स्टार्टअप्स मार्केट में आते हैं और अपनी जगह बनाने की कोशिश करते हैं। लेकिन इनमें से कई कुछ ही दिनों के बाद बंद हो जाते हैं। आखिर वे क्या वजहें हैं जो स्टार्टअप्स के फेलियर का कारण बनती हैं जानिए आईडी फ्रेश फूड के फाउंडर पीसी मुस्तफा से।

प्रॉडक्ट्स व सर्विसेज सही न होना

Advertisement

लगभग 90% केसेस में स्टार्टअप्स इसलिए फेल हो जाते हैं, क्योंकि वे जो प्रॉडक्ट्स व सर्विसेज ऑफर कर रहे होते हैं, वे सही नहीं होते। कई बार ऐसा भी होता है कि कोई प्राॅडक्ट या सर्विस बेहतर होने के बाद भी मार्केट में उसके लॉन्च का टाइमिंग सही नहीं होने की वजह से मार्केट उसके लिए रेडी ही नहीं होता। ध्यान रखें कि आपके प्रॉडक्ट्स और सर्विसेज लोगों की जरूरतें पूरी करते हों।

कमजोर कैश फ्लो मैनेजमेंट

एक सफल स्टार्टअप स्टोरी लिखने के लिए आपको बहुत-सी बिजनेस स्किल्स आनी जरूरी हैं जिनमें से एक है कैश फ्लो का मैनेजमेंट करना। फाइनेंस के मामले में आंत्रप्रेन्योर के लिए समझदारी के साथ ट्रांसपेरेंसी और रूल्स को फॉलो करना जरूरी है।

सही टीम न चुनना

पहली बार बिजनेस करने वाले आंत्रप्रेन्योर्स अक्सर अपनी टीम में सही लोगों को नहीं चुन पाते। बिजनेस की सफलता के लिए यह बहुत जरूरी है कि आपके पार्टनर्स और सीनियर मैनेजमेंट टीम मेंबर्स एक ही तरह से सोचते हों और सभी का विजन मिलता हो। हर सफल आंत्रप्रेन्योर सही ह्यूमन रिसोर्स और एक अच्छी टीम का महत्व जानता है।