नए साल पर SBI ने ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा

नए साल के मौके पर भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को एक बड़ा तोहफा देने का एलान किया है। आपको बता दें कि SBI द्वारा एक्सटर्नल बेंचमार्क बेस्ड रेट (EBR) में कटौती की गई है। इस कटौती के बाद जो EBR पहले 8.05 फीसदी थी, वो अब से घटकर 7.80 फीसदी कर दी गई है। यानि इसमें कुल 25 BPS की कमी आई है।

बैंक का कहना है कि इन नई दरों को एक जनवरी 2020 से लागू कर दिया जाएगा। इसके साथ ही SBI बैंक द्वारा MSME, हाउसिंग और रिटेल लोन के सभी फ्लोटिंग रेट लोन को EBR से जोड़ने का फैसला लिया गया है। जिससे ग्राहकों को बहुत फायदा मिलेगा। क्योकि इस बदलाव से ग्राहकों के होम लोन की EMI कम हो जाएगी।

Advertisement

पहले होम लोन लेने पर 8.15 फीसदी ब्याज दर सालाना पर दिया जाता था लेकिन अब ये दर 7.90 फीसदी से शुरू होगी। SBI द्वारा पहले भी दिसंबर में ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया जा चुका है। SBI ने इसी महीने की शुरुआत में एक साल के मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (MCLR) में 10 BPS की कटौती की थी। इसके बाद इसे आठ फीसदी से 7.90 कर दिया गया था।

आपको बता दें कि RBI द्वारा सर्कुलर जारी करते हुए कहा गया था कि सभी तरह के पर्सनल, होम व अन्य तरह के रिटेल लोन और छोटे कारोबारियों को मिलने वाले लोन की दर एक अक्तूबर 2019 से एक्सटर्नल बेंचमार्क के तहत की जाएगी। इसी तरह पुराने लोन जिनका ब्याज MCLR, बेस रेट या फिर BPLR से जुड़े हैं, वो बाद में जुड़ सकेंगे। साथ ही RBI ने बैंको को कोई भी तरह का बेंचमार्क चुनने के लिए स्वतंत्र बताया था।

ये हैं RBI के बेंचमार्क

RBI द्वारा चार तरह के बेंचमार्क तय किए गए हैं। पहला, आरबीआई रेपो रेट है। दूसरा, केंद सरकार की तीन साल की ट्रेजरी बिल यील्ड है। तीसरा, केंद्र सरकार द्वारा छह महीने की ट्रेजरी बिल है और चौथा FBIL द्वारा कोई अन्य बेंचमार्क रेट।