कार या बाइक हो जाए चोरी तो सबसे पहले करें ये 5 काम

अगर आप की कार या बाइक चोरी हो जाती है तो परेशान होने के बजाए आपको इस स्थिति से निपटने के लिए जरूरी कदम उठाने चाहिए। अगर आप सोच समझ कर सही कदम उठाते हैं तो आप इस स्थिति से बेहतर तरीके से निपट पाएंगे और आपको नुकसान भी नहीं होगा।

इन डाक्‍युमेंट की जरूरत

आपको सबसे पहले गाड़ी की आरसी बुक, इन्‍श्‍योरेंस की कॉपी और ड्राइविंग लाइसेंस की कॉपी कलेक्‍ट करनी चाहिए। आगे की जो भी प्रॉसेेस होगी। इसमें इन डाक्‍युमेंट की जरूरत होगी।

पुलिस में कराएं कंप्‍लेंट

आप सबसे पहले घटना का ब्‍यौरा लिख कर एक एप्‍लीकेशन तैयार करें। इस एप्‍लीकेशन की पुलिस स्‍टेशन में जमा करा दें। कंप्‍लेन के साथ गाड़ी के रजिस्‍ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी) और इन्‍श्‍योरेंस पॉलिसी की कॉपी भी जमा कराएं। आपकी कंप्‍लेन फाइल होने के बाद पुलिस मामला दर्ज कर फर्स्‍ट इन्‍फॉर्मेशन रिपोर्ट (एफआईआर) जारी करेगी।

इन्‍श्‍योरेंस कंपनी को करें इन्फॉर्म

एफआईआर कराने के बाद आपको इन्‍श्‍योरेंस कंपनी को गाड़ी के चोरी हो जाने की जानकारी देनी चाहिए। इसके बाद को सही तरीके से भरा हुआ क्‍लेम फॉर्म, आरसी बुक की कॉपी, इन्‍श्‍योरेंस पॉलिसी की कॉपी और एफआईआर की कॉपी इन्‍श्‍योरेंस कंपनी के पास जमा करानी चाहिए। क्‍लेम करने में देरी न करें और सभी डाक्‍यूमेंट एक बार में ही जमा कराएं।

आरटीओ को करें इन्‍फॉर्म

इन्‍श्‍योरेंस कंपनी के पास क्‍लेम फाइल करने के बाद आपको अपने एरिया के आरटीओ ऑफिस में गाड़ी चोरी होने के बारे में कंप्‍लेन लेटर जमा कराना चाहिए। कंप्‍लेन लेटर के साथ आपको ड्राइविंग लाइसेंस की कॉपी, आरसी बुक की कॉपी, अपने व्‍हीकल की फोटो, इन्‍श्‍योरेंस पॉलिसी की कॉपी और एफआईआर की कॉपी भी जमा करानी चाहिए।

आम तौर पर इन्‍श्‍योरेंस कंपनी इस प्रॉसेस में आपकी मदद करती है। अगर इन्‍श्‍योरेंस कंपनी मदद न करे तो आपको खुद से यह काम करना चाहिए। कंप्‍लेन करने के बाद रिसीविंग लेना न भूलें।

गाड़ी के बारे में जानकारी लें

आपको जब भी समय मिले आप पुलिस स्‍टेशन से अपनी गाड़ी के बारे में जानकारी लें। अगर पुलिस गाड़ी चोरी होने की डेट से 90 दिन के अंदर गाड़ी नहीं खोज पाती है तो वह नो ट्रेस रिपोर्ट जारी करेगी। आप नो ट्रेस रिपोर्ट इन्‍श्‍योरेंस कंपनी के पास जमा करा दें।

कंपनी देगी क्‍लेम

इस बीच इन्‍श्‍योरेंस कंपनी घटना की रिपोर्ट तैयार करने के लिए सर्वेयर की नियुक्ति करेगी। ऐसे में जब भी सर्वेयर की ओर से आपको बुलाया जाए तो आप जाकर घटना का ब्‍यौरा दें। सर्वेयर से रिपोर्ट मिलने के बाद इन्‍श्‍योरेंस कंपनी कार या बाइक की एश्‍योर्ड वैल्‍यू का पेमेंट करेगी।

अपनी कार में लगाइए सिर्फ 299 रूपए का ये लॉक, हमेशा सुरक्षित रहेगी कार

कार चाहे सस्ती हो या महंगी, लग्जरी हो या बजट लेकिन उसकी सेफ्टी की चिंता तो होती ही है। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि सभी तरीके अपनाने के बावजूद चोर गाड़ी चुराने में कामयाब हो जाते हैं। एक आंकड़े के मुताबिक सिर्फ चंडीगढ़ में 2017 में 920 व्हीकल चोरी हुए थे।

इसीलिए आज हम आपको एक ऐसा उपाय बताएंगे जिसे करने के बाद आप कार की सुरक्षा के प्रति आश्वस्त हो सकते हैं। हम बात कर रहे हैं गियरलॉक की दरअसल गियर के ऊपर इस लॉक के लगने से कार को एक इंच भी आगे नहीं बढ़ाया जा सकता।

इस तरह काम करता है ये लॉक

इस लॉक की पूरी किट होती है, जिसे गियर बॉक्स पर फिट किया जाता है। किट में एक हेंडल दिया होता है, जिसे गियर में फंसाकर किट के साथ लॉक कर दिया जाता है। यानी अगर कोई चोर आपकी कार का गेट लॉक तोड़कर अंदर आ जाता है और कार स्टार्ट भी कर लेता है तब वो गियर नहीं डाल पाएगा। यानी कार आगे नहीं बढ़ेगी।

इतनी ही कीमत

गियर लॉक आप अपने बजट के हिसाब से लगवा सकते हैं। क्वालिटी के हिसाब से ये लॉक 299-3000 रूपए की रेंज में आता है। यानि आप अपनी जरूरत और बजट को ध्यान में रखते हुए इसे लगवा सकते हैं। ऑनलाइन ही नहीं ऑफलाइन मार्केट से भी इसे इतनी ही कीमत में खरीद सकते हैं।

पेट्रोल कार के मुकाबले इतनी सस्ती पड़ती है इलेक्ट्रिक कार, पढ़ें पूरी खबर

देश की कई ऑटो कंपनियां 2020 तक इलेक्ट्रिक कारें लॉन्च करने की योजना बना रही हैं। हालांकि इलेक्ट्रिक कारें पेट्रोल कारों के मुकाबले काफी महंगी होती हैं और सबसे बड़ा सवाल पैदा होता है कि हमें कार महंगी इलेक्ट्रिक कार खरीदने की जरूरत क्या है। लेकिन क्या पेट्रोल कार के मुकाबले इलेक्ट्रिक कार खरीदना किफायत का सौदा रहेगा। इन दिनों पेट्रोल की कीमत 70.59 रुपए प्रति लीटर है। सर्दियां खत्म होते ही, जैसे ही क्रूड ऑयल की मांग बढ़ेगी वैसी ही तेल की कीमतों में आग लगना तय है।

सरकार आने वाले एक-दो साल में बहुतायत में चार्जिंग स्टेशन जैसे जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर पर काम रही है । इंफ्रास्ट्रक्चर की कमी एक-दो सालों की बातें हैं और समय के साथ इनकी बहुलता भी हो जाएगी। लेकिन ई-वाहनों की सबसे बड़ी खूबी है कि इनकी मेंटिनेंस और रनिंग कॉस्ट बेहद कम है और जो इनका सबसे बड़ा यूएसपी है।

वहीं देश की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार महिन्द्रा ई2ओ प्लस की एक्स-शोरूम कीमत 6.07 लाख रुपए है। महिन्द्रा ई2ओ प्लस और पेट्रोल कारों की रनिंग कॉस्ट की तुलना करने पर आपको दोनों में खासा अंतर दिखाई देगा। अगर दोनों कारों को महीने में 24 दिन में रोजाना 50 किमी चलाते हैं तो दोनों की रनिंग कॉस्ट क्या होगी।

  • फुल रेंज- 140 किमी
  • फुल चार्ज करने में खर्च हुई इलेक्ट्रिसिटीः 16.5 यूनिट्स
  • प्रति किमी इलेक्ट्रिसिटी का खर्च- 16.5/140= 0.12 यूनिट
  • दिल्ली में (डोमेस्टिक) इलेक्ट्रिसिटी खर्च- 6.5 रुपए प्रति यूनिट
  • 1 किमी की रनिंग कॉस्ट- 6.5 X 0.12 = 0.78 या 78 पैसा
  • प्रतिदिन 50 किमी चलाने पर खर्च= 78 X 50 = 39 रुपए
  • एक महीने की रनिंग कॉस्ट = 39 X 24 = 936 रुपए

इस तरह कैल्कुलेशन की हिसाब से एक इलेक्ट्रिक कार की हर महीने की रनिंग कॉस्ट मात्र 936 रुपए बैठती है, जिसमें इलेक्ट्रिसिटी का खर्च भी शामिल है।

  • पेट्रोल कार का माइलेज = 15 किमी प्रति लीटर (अनुमानित)
  • 04 फरवरी 2019 को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत = 70.59 रुपए प्रति लीटर
  • प्रति किमी खर्च- 50/15= 3.33 लीटर प्रति दिन
  • 4 फरवरी 2019 को प्रति दिन रनिंग कॉस्ट- 70.59 X 3.33 = 233 रुपए
  • हफ्ते में औसत कार्य दिवस = 6
  • महीने में कुल कार्य दिवस = 6 X 4 = 24
  • महीने का कुल खर्च = 233 X 24 = 5592 रुपए
  • अगर दोनों कारों की रनिंग कॉस्ट की गणना करें तो – 5592 – 936 = 4656 रुपए

कुल मिलाकर देखा जाए तो पेट्रोल कार के मुकाबले इलेक्ट्रिक कार की रनिंग कॉस्ट बेहद कम है। महीने के गणना के हिसाब से इलेट्रिक कारों की रनिंग कॉस्ट पेट्रोल कारों के मुकाबले 6 गुना सस्ती हैं। वहीं हम पेट्रोल कारों की बात करें, तो हर महीने 1200 किमी की दूरी तय करने में हम 5592 रुपए हर महीने खर्च कर रहे हैं। वहीं अगर महिन्द्रा ई2ओ प्लस की एक्स-शोरूम कीमत से तुलना करें, तो इसके पी4 वर्जन की कीमत 6.07 लाख रुपए और पी6 की कीमत 6.83 लाख रुपए है।

हीरो का धमाकेदार ऑफर, किसी भी पुराने टू-व्हीलर के बदले ले जाएं ये नए इलेक्ट्रिक स्कूटर

हीरो अपनी इलेक्ट्रिक गाड़ियों की सेलिंग को बढ़ाने के लिए शानदार ऑफर लेकर आई है। कंपनी पुराने टू-व्हील एक्सचेंज पर 6 हजार रुपए का एक्स्ट्रा बेनिफिट दे रही है। यानी पुराने टू-व्हीलर को एक्सचेंज करके आप हीरो का नया ई-स्कूटर खरीद सकते हैं। इंडियन मार्केट में अभी हीरो के चार स्कूटर आ रहे हैं। जिसमें Flash, NYX, Optima और Photon शामिल हैं। कंपनी का सबसे एडवांस मॉडल Photon है।

6000 रुपए का एक्स्ट्रा बेनिफिट

हीरो के इस ऑफर के चलते कस्टमर को 6 हजार रुपए का एक्स्ट्रा बेनिफिट मिलेगा। मान लीजिए आपके पुराने टू-व्हीलर पर 20 हजार रुपए का एक्सचेंज ऑफर मिल रहा है, तब ये ऑफर 26 हजार रुपए हो जाएगा। इस तरह हीरो इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत में कस्टमर को 6 हजार रुपए का बेनिफिट मिल जाएगा।

हीरो इलेक्ट्रिक स्कूटर

  • Flash : चार्जिंग टाइम 4-5 घंटे, रेंज 60Km, स्पीड 40Km/h
  • NYX : चार्जिंग टाइम 4-5 घंटे, रेंज 60Km, स्पीड 40Km/h
  • Optima : चार्जिंग टाइम 4-5 घंटे, रेंज 60Km, स्पीड 40Km/h
  • Photon : चार्जिंग टाइम 4-5 घंटे, रेंज 110Km, स्पीड 45Km/h

प्रदूषण पर होगा कंट्रोल

हीरो की इस मुहिम से प्रदूषण को कंट्रोल करने में मदद मिलेगा। ऐसे टू-व्हीलर जो पुराने हो चुके हैं उनसे प्रदूषण भी ज्यादा होता है। ऐसे में एक्सचेंज ऑफर के चलते आपको नया इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदने का मौका मिल जाएगा। कंपनी इनी बैटरी पर 3 साल की वारंटी भी दे रही है। कंपनी का कहना है कि पेट्रोल पर सीधे-सीधे 70 हजार रुपए की बचत होगी और मेंटेनेंस का खर्च भी बचेगा।

इन शहरों में पहले मिलेगा फायदा

हीरो इलेक्ट्रिक देश के 20 से ज्यादा शहरों में ग्राहकों से जुड़ाव बनाने के लिए अपना राष्ट्रीय अभियान चला रही है। जिसमें दिल्ली, पुणे, जयपुर, चेन्नई, रोहतक, हैदराबाद, बेंगलुरु और लखनऊ शामिल है। यह राष्ट्रव्यापी अभियान फरवरी के पहले हफ्ते में शुरू किया जा रहा है।

फरवरी महीने में लॉन्च होंगी ये 4 ब्रांड न्यू कार, जाने कीमत और फीचर्स

फरवरी माह में चार ब्रांड न्यू कार लॉन्च होंगी। फरवरी माह की शुरूआत अंतरिम बजट से हुई है। ऐसे में कार निर्माताओं को कार की ब्रिकी बढ़ने की उम्मीद है। इस माह जो कारें लॉन्च होंगी, वो कॉम्पैक्ट एसयूवी से लेकर प्रीमियम सेडान कारें हैं।

कारों की बिक्री बढ़ने की उम्मीद

टैक्स स्लैब में बदलाव से 5 लाख की आय पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। साथ ही 1.5 लाख के निवेश को टैक्स से छूट मिलेगी। दूसरी तरफ पोस्ट ऑफिस में 40 हजार रुपए तक के जमा रकम पर कोई टीडीएस नहीं लगेगा और सेकेंड हाउस पर कोई टैक्स नहीं लगेगा।

साथ ही स्टैंडर्ड डिडक्शन को 40 हजार से बढ़ाकर 50 हजार कर दिया गया है। ऐसे में कुल मिलाकर मार्केट में एक्सट्रा लिक्विडिटी बढ़ेगी। यानी लोगों की खरीदारी की क्षमता में इजाफा होगा। इससे मंदी से जूझ रहे ऑटो सेक्टर में वाहनो की खरीदने की रफ्तार बढ़ सकती है। इसका सबसे ज्यादा फायदा कम बजट की बाइक और कार खरीदने में होगा।

फरवरी में लॉन्च होने वाली कारें

Honda Civic

  • लॉन्च डेट- मिड फरवरी
  • अनुमानित कीमत-करीब 16 लाख रुपए
  • इंजन ऑप्शन-2.0 पेट्रोल इंजन एंड 1.6 लीटर डीजल इंजन
  • फ्यूल ऑप्शन- पेट्रोल एंड डीजल
  • माइलेज- पेट्रोल में 14.4 किलोमीटर प्रति लीटर, डीजल में 19.5 किलोमीटर प्रति लीटर

Jeep compass Trail Hawk

  • लॉन्च डेट- लास्ट फरवरी
  • अनुमानित कीतम- 18.90 लाख रुपए
  • फ्यूल ऑप्शन- यह कार सिर्फ डीजल AT सेटअप में उपलब्ध होगी।
  • इंजन ऑप्शन- इस कार में 2.0 लीटर डीजल इंजन का विकल्प मिलेगा।
  • माइलेज- 14.3 Kmpl

ऑडी A8L

  • लॉन्च डेट- मिड फरवरी
  • अनुमानित कीमत- 1.30 करोड़ रुपए से लेकर 2 करोड़ रुपए तक
  • फ्यूल ऑप्शन- डीजल और पेट्रोल
  • इंजन- पावरफुल 5.2 लीटर V10 इंजन

Mahindra XUV300

  • लॉन्चिंग डेट-14 फरवरी
  • अनुमानित कीमत- 8 लाख रुपए
  • इंजन ऑप्शन-1.2 लीटर पेट्रोल एंड 1.5 लीटर डीजल
  • फ्यूल ऑप्शन- डीजल एंड पेट्रोल
  • सेफ्टी फीचर्स- 7 एयरबैग, डुअल जोन क्लाइमेंट कंट्रोल यूनिट
  • अन्य फीचर्स-टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, पुश स्टार्ट बटन

इस तरह दिखेगी मारुती की नई Alto, इस महीने हो सकती है लांच

मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) अपनी एंट्री लेवल कार आल्टो (Alto) का अपग्रेड मॉडल लॉन्च करने की तैयार में है। कंपनी इस बात का ऐलान भी कर चुकी है कि इस कार को इसी साल अक्टूबर में ग्लोबल लॉन्च किया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस कार का मॉडल पूरी तरह बदल जाएगा। यानी कस्टमर को ऑल न्यू आल्टो मिलेगी। कुछ रिपोर्ट्स में ऐसा कहा गया है कि इसका मॉडल Maruti Regina से मिलता-जुलता होगा।

न्यू आल्टो के फीचर्स

ग्लोबल मार्केट में उपलब्ध मारुति अल्टो भारत में मिलने वाली मारुति सुजुकी अल्टो 800 से काफी अलग है। इसमें नया प्लेटफॉर्म और नया इंजन दिया गया है, जिसे अक्टूबर 2014 में लॉन्च किया गया था। जापानीज सुजुकी अल्टो में 660 सीसी का इंजन है।

नई जनरेशन अल्टो सुजुकी के हर्टेक्ट प्लेटफॉर्म पर बेस्ड है जो मारुति सुजुकी डिजायर, स्विफ्ट और ऑल न्यू वैगनआर में भी मिलता है। नए प्लेटफॉर्म पर बेस्ड होने के कारण नई अल्टो का वजन कम हुआ है बल्कि कार में अब पहले से बेहतर डायनामिक्स भी मिलते हैं।

आल्टो मारुति की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार भी है। इस कार की सेलिंग दूसरी कंपनियों के तुलना में सबसे ज्यादा रही है। 2004 से लगातार 14 साल तक ये सबसे ज्यादा बिकने वाली कार भी रही। कंपनी के रिकॉर्ड के मुताबिक मार्च 2018 में इसकी 35 लाख यूनिट इंडिया में बेची जा चुकी हैं।

कम कीमत, ज्यादा माइलेज

इंडिया में आल्टो के दो मॉडल 800 और K10 आते हैं। Alto पेट्रोल और CNG वेरिएंट में भी आती है। CNG में इसके दो मॉडल LXI और VXI हैं। पेट्रोल वेरिएंट की दिल्ली एक्स-शोरूम प्राइस 2.63 लाख रुपए और CNG वेरिएंट की एक्स-शोरूम प्राइस 3.83 लाख रुपए है। कंपनी का ऐसा दावा है कि CNG का माइलेज 33.44 km/l और पेट्रोल का 24.70 km/l है।

भारत में बदल रहे सेफ्टी नियम

सरकार द्वारा कार सेफ्टी से जुड़ी नई गाइडलाइन जारी की गई है। जिसमें एयरबैग, ABS, बैक सेंसर के साथ दूसरे सेफ्टी फीचर्स होना जरूरी है। साथ ही, 2020 से सेल होने वाली सभी कारों में BS-VI इंडन होना चाहिए। ऐसे में अब न्यू आल्टो को पहले ज्यादा हाईटेक बनाया जा रहा है।

आधे दाम में मिल रही है महिंद्रा स्कॉर्पियो और टाटा सफारी, यह से खरीदें

अगर आप सेकंड हैंड एसयूवी खरीदने के बारे में प्लान कर रहे हैं तो आज हम आपको उन बेहतरीन एसयूवी के बारे में बता रहे हैं जो कि आपको दिल्ली के सेकंड हैंड कार बाजारों में आधे दामों में मिल जाएगी। इन एसयूवी की खास बात ये है कि ये लंबे समय तक चलने के बाद अच्छी कंडीशन में रहती हैं। आइए जानते हैं कौन सी हैं ये एसयूवी और किन जगहों पर सस्ती मिल सकती हैं।

महिंद्रा स्कॉर्पियो 

इंजन और पावर की बात की जाए तो महिंद्रा स्कॉर्पियो में 2523 सीसी का 4 सिलेंडर वाला इंजन है जो कि 75 बीएचपी की पावर और 200 एनएम का टार्क जनरेट करता है। इसी के साथ स्कॉर्पियो में 2179 सीसी का सीआरडीआई इंजन दिया गया है जो कि 120 बीएचपी की पावर और 280 एनएम का टार्क जनरेट करता है। स्कॉर्पियो में 6-स्पीड गियरबॉक्स और 4×4 पावर का विकल्प आता है। सीटिंग स्पेस की बात की जाए तो स्कॉर्पियो में 8-9 सीटिंग का विकल्प आता है। कीमत की बात की जाए तो महिंद्रा स्कॉर्पियो की एक्स शोरूम कीमत 10 लाख से 16.35 लाख रुपये तक है।

टाटा सफारी

इंजन और पावर इंजन और पावर की बात करें तो टाटा सफारी में 2179 सीसी का 4 सिलेंडर वाला इंजन दिया गया है जो कि 138 बीएचपी की पावर और 320 न्यूटन मीटर का टार्क जनरेट करता है। 7 सीट वाली ये एसयूवी 5 स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से लैस है। फीचर्स की बात की जाए तो इस एसयूवी में पावर स्टीयरिंग, एसी, पावर विंडो, पावर ब्रेक और म्यूजिक सिस्टम जैसे ज्यादा दमदार फीचर्स दिए गए हैं। सेफ्टी फीचर्स के लिए इसमें एयरबैग्स और एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम जैसे फीचर्स दिए गए हैं। कीमत की बात की जाए तो इस एसयूवी की एक्स शोरूम कीमत लगभग 15 लाख रुपये है।

टोयोटा फॉर्च्यूनर 

इंजन और पावर की बात की जाए तो टोयोटा फॉर्च्यूनर में 2982 सीसी का 4 सिलेंडर वाला इंजन दिया गया है जो कि 169 बीएचपी की पावर और 360 न्यूटन मीटर का टार्क जनरेट करता है। माइलेज की बात की जाए तो ये एसयूवी प्रति लीटर में 13 किमी का दमदार माइलेज दे सकती है।

अधिकतम स्पीड की बात की जाए तो ये एसयूवी 176 किमी प्रति घंटे की स्पीड से दौड़ सकती है और मात्र 9.6 सेकंड में 0-100 किमी प्रति घंटे की स्पीड पकड़ सकती है।सेफ्टी फीचर्स की बात की जाए तो ये एसयूवी एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम और एयरबैग्स जैसे फीचर्स दिए गए हैं। कीमत की बात की जाए तो टोयोटा फॉर्च्यूनर की एक्स शोरूम कीमत लगभग 32 लाख रुपये है।

Maruti Suzuki Baleno 2019 नए लुक के साथ लॉन्च, जानो क्या हैं नए फीचर

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने अपनी फेवरेट कार Maruti Suzuki 2019 Baleno को नए लुक में लॉन्च कर दिया है। मारुति सुजुकी के सीनियर एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर मार्केटिंग और सेल्स आरएस कालसी ने बताया कि मारुति ने अपनी इस फेवरेट कार को प्रीमियम हैचबैक में सबसे ज्यादा बिकने वाले ब्रांड्स से मुकाबला करने के लिए दोबारा उतारा है।

Baleno 2019 की दिल्ली में शुरुआती एक्स शोरूम कीमत 5.45 लाख रुपए है। यह कार Sigma, Delta, Zeta और Alpha में 11 वेरिएंट में लॉन्च की गई है। नई Baleno 2019 में पुराने रंगों के साथ फॉनिक्स रेड और मैग्मा ग्रे कलर के मॉडल भी लॉन्च किए गए हैं।

ये हैं Baleno 2019 के फीचर्स

मारुति Baleno 2019 में नई ग्रिल के साथ डायनेमिक 3D डिटेलिंग दी गई है जो इसके लुक को और ज्यादा बोल्ड बनाती है। इसमें 1.2 लीटर का पेट्रोल इंजन दिया गया है, जो 83bhp की मैक्सिमम पावर और 115Nm का टॉर्क जनरेट करता है। डीजल वैरिएंट में 1.3 लीटर का इंजन है जो 74bhp की पावर और 190Nm का टॉर्क जनरेट करता है।

दोनों ही इंजन 5-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन से लैस हैं। पेट्रोल इंजन वेरिएंट में CVT ऑटोमौटिक सिस्टम का भी विकल्प उपलब्ध है। यदि सेफ्टी की बात की जाए तो Baleno 2019 में ड्यूल एयरबैग्स, ABS के साथ EBD और ब्रेक असिस्ट, स्पीड अलर्ट सिस्टम, रिवर्स पार्किंग असिस्ट सेंसर, ISOFIX चाइल्ड रिस्ट्रेन सिस्टम जैसे फीचर्स उपलब्ध हैं।

ये है कीमत

Baleno 2019 की कीमतों की बात की जाए तो इसका पेट्रोल मैनुअल की दिल्ली में एक्स शोरुम कीमत 5.45 लाख से शुरू होती है और यह 7.45 लाख तक जाती है। पेट्रोल CVT की कीमत 7.48 लाख से शुरू होकार 8.77 लाख तक जाती है। डीजल वेरिएंट की बात करें तो यह 6.60 लाख से शुरू होती है और यह 8.60 लाख रुपए तक जाती है।

ये सुविधाएं भी उपलब्ध

नई Baleno 2019 में 17.78 सेमी का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है जो एप्पल कार प्ले और एंड्राएड एप पर ऑटो रन करता है। इसमें वॉइस रिकॉग्नीशन की सुविधा भी उपलब्ध है। कार के डिस्प्ले से पार्किंग कैमरा भी जुड़ा हुआ है। कार में लाइव ट्रैफिक अपडेट के लिए स्मार्टप्ले स्टूडियो एप भी उपलब्ध है।

ओला कैब से अपनी गाड़ी अटैच कर आप भी कर सकते है कमाई ,यह है पूरा प्रॉसेस

ओला कैब में गाड़ी बुक करके आप अच्छी कमाई कर सकते हैं। इसकी प्रॉसेस भी आसान है। ओला तभी आपकी गाड़ी को अटैच करेगा, जब उसकी कंडीशन अच्छी होगी। ड्रायवर आपको हायर करना होगा। ड्रायवर के पास कमर्शियल लाइसेंस भी होना जरूरी है। आज हम आपको बता रहे हैं ओला में गाड़ी बुक करने की पूरी प्रॉसेस।

कैसे अटैच कर सकते हैं गाड़ी

आप partners.olacabs.com में जाकर खुद को ओला पार्टनर के तौर पर रजिस्टर्ड कर सकते हैं। आपके रजिस्ट्रेशन करने के 24 घंटों के भीतर कंपनी की टीम आप से कॉन्टैक्ट करेगी। गाड़ी अटैच करने के लिए आपको अपने शहर के ओला ऑफिस में विजिट करना होगा। जो भी जरूरी डॉक्युमेंट्स हैं, वे कंपनी में सबमिट करना होंगे।

कंपनी का स्टाफ आपकी गाड़ी की कंडीशन की जांच करेगा। यदि कंडीशन ठीक लगती है तो आपको गाइडलाइंस और ऑफर्स की जानकारी दीजाएगी। आपको करेंट अकाउंट भी खुलवाना होगा। कंपनी ने गाड़ी अटैच करने की प्रक्रिया को ऑनलाइन भी कर रखा है।

रजिस्ट्रेशन करवाना होगा

  • इस प्रॉसेस के बाद संबंधित गाड़ी का रजिस्ट्रेशन किया जाता है। रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस में डॉक्युमेंट्स का वेरिफिकेशन होगा। कार और ड्राइवर का ऑडिट किया जाएगा।
  • आपको ऐसा ड्राइवर हायर करना होगा, जिसके पास कमर्शियल लाइसेंस हो। आप खुद भी इस लाइसेंस के साथ ड्राइव कर सकते हैं। ड्राइवर को ट्रेनिंग दी जाएगी।
  • कॉन्ट्रेक्ट साइन होने के बाद डिवाइस हेंडओवर कर दी जाएगी।

कौन-कौन से डॉक्युमेंट्स देना होते हैं

व्हीकल ऑनर को पेन कार्ड, कैंसल चेक, आधार कार्ड और एड्रेस प्रूफ से जुड़े डॉक्युमेंट देना जरूरी है। वहीं गाड़ी कार रजिस्ट्रेशन, परमिट और इंश्योरेंस होना चाहिए। ड्राइवर के पास ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड और एड्रेस प्रूफ होना चाहिए।

कितना आता है खर्चा

  • रजिस्ट्रेशन का कोई चार्ज नहीं लगता। आपके पास एंड्रॉइड स्मार्टफोन होना चाहिए। इंटरनेट से कनेक्टेड सिम कार्ड भी आपके पास होना चाहिए।
  • गाड़ी अटैच करने के लिए वैलिड आरसी बुक, इंश्योरेंस, फिटनेस सर्टिफिकेट, टैक्स रिसिप्ट, टूरिस्ट परमिट भी लगाना होगा।

कितनी होती है कमाई

  • सिंगल राइड में कंपनी कुल अमाउंट का 10 परसेंट कमीशन देती है। ओला ऐप पर अमाउंट का कैलकुलेशन ऑटोमैटिक हो जाता है। इसके अलावा कंपनी बोनस भी देती है। सुबह 7 से दोपहर 12.30 और शाम 5 से रात 11 बजे को पीक अवर्स माना जाता है।2 वर्किंग डे के अंदर आपकी आउटस्टैंडिंग पेमेंट आपके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाती हैं। आप ड्राइवर ऐप के जरिए अपनी अर्निंग भी देख सकेंगे।
  • ओला में दिनभर में 12 राइड होने पर 4500 रुपए तक का कमीशन मिल जाता है। पीक अवर्स में राइड पर 250 रुपए का बोनस कंपनी देती है। एयरपोर्ट पर ड्रॉप करने के लिए भी अलग से बोनस दिया जाता है।

क्या इतनी सुन्दर दिखेगी 2019 में आने वाली Alto,जानें और क्या होंगी विशेषताएं

मारुति सुजुकी ऑल्टो भारत की सबसे लोकप्रिय कारों में से एक है। इसके अलावा ऑल्टो के नाम देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार का खिताब भी है। इस समय सभी वाहन निर्माता कंपनियां 1 अप्रैल 2020 से भारत में क्रैश टेस्ट अनुकूलता बनने के साथ अपने मॉडल को भी अपडेट करने में व्यस्त हैं।

1 अप्रैल 2020 की समय सीमा से पहले कारों को भारत के दुर्घटना परीक्षण मानदंडों को पूरा करने के लिए मारुति नई जनरेशन ऑल्टो लॉन्च करेगी। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, यह नई ऑल्टो इस साल दिवाली के आसपास पेश होगी।

नई जनरेशन मारुति ऑल्टो Future S concept पर आधारित होगी, जिसे 2018 ऑटो एक्सपो में मारुति सुजुकी ने प्रदर्शित किया था। नई ऑल्टो मौजूदा ऑल्टो के विपरीत एक छोटी हैचबैक की तरह अधिक है। कार का आकार इग्निस से भी छोटा होगा।

Future S concept की बात करें तो यह एक आक्रामक एसयूवी की तरफ रुख करता है। नई डिजायर, स्विफ्ट और अर्टिगा की तरह Alto एक बार फिर इंडस्ट्री को झटका देगी। इस नए हैचबैक से नया 660 सीसी इंजन मिलने की उम्मीद है,अंदर की तरफ नई ऑल्टो में अधिक आधुनिक डिजाइन की सुविधा होगी।

यह टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, डिजिटल इंस्ट्रूमेंट कंसोल, स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल्स, मौजूदा ऑल्टो से ज्यादा स्पेस आदि के साथ आएगा। नई ऑल्टो हुंडई सैंट्रो, रेनो क्विड और टाटा टियागो जैसे नए प्रतिद्वंद्वियों के साथ बेहतर प्रतिस्पर्धा करेगी।